बिहार : आंदोलनकारी छात्रों को आजीवन प्रतिबंधित करने की तैयारी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 25 जनवरी 2022

बिहार : आंदोलनकारी छात्रों को आजीवन प्रतिबंधित करने की तैयारी

railway-warning-to-protester-students
आरआरबी एनटीपीसी रिजल्ट (RRB NTPC Result) में धांधली का आरोप लगाकर भारी संख्या में अभ्यर्थियों ने बिहार की राजधानी पटना समेत सूबे के कई शहरों में हंगामा कर रहे हैं। आंदोलन के दूसरे दिन रेलवे ट्रैक पर अभ्यर्थियों ने ट्रेनों को बीते कई घंटों से रोक रखा है। इस दौरान कई जगह तोड़फोड़ की गई है। कुछ जगहों पर रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का भी प्रयास किया गया। रेलवे अभ्यार्थियों की कार्यशैली पर नाराजगी जताते हुए रेलवे ने कहा कि ऐसे लोगों के ऊपर पुलिसिया कार्रवाई की जाएगी साथ रेलवे की नौकरी प्राप्त करने से आजीवन प्रतिबंधित भी किया जा सकता है। इसके साथ ही रेलवे भर्ती बोर्ड ने अप्रत्यक्ष रूप से कोचिंग संचालकों को भी नसीहत दी है। रेलवे भर्ती बोर्ड ने कहा कि यह संज्ञान में आया है कि रेलवे नौकरी के इच्छुक उम्मीदवार रेलवे पटरियों पर विरोध-प्रदर्शन, ट्रेन संचालन में व्यवधान, रेलवे संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने जैसी उपद्रवी / गैरकानूनी गतिविधियों में संलिप्त हुए हैं। इस तरह की गतिविधियांं उच्चतम स्तर की अनुशासनहीनता प्रदर्शित करती हैं, जो ऐसे उम्मीदवारों को रेलवे / सरकारी नौकरियों के लिए अनुपयुक्त बनाती हैं। ऐसी गतिविधियों के वीडियो की विशेष एजेंसियों की मदद से जॉच कराई जाएगी और गैरकानूनी गतिविधियों में लिप्त पाए जाने वाले उम्मीदवारों पर पुलिस कार्रवाई के साथ-साथ ही उन्हें रेलवे की नौकरी प्राप्त करने से आजीवन प्रतिबंधित भी किया जा सकता है। सभी आरआरबी सत्यनिष्ठा के उच्चतम मानकों को बनाए रखते हुए निष्पक्ष और पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया संचालित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। रेलवे नौकरी के इच्छुक उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे गुमराह न हों या ऐसे तत्वों के प्रभाव में न आएं जो अपने स्वार्थ को पूरा करने के लिए उनका इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: