योगी ने 11 मार्च का टिकट भी खरीद लिया है : अखिलेश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 21 फ़रवरी 2022

योगी ने 11 मार्च का टिकट भी खरीद लिया है : अखिलेश

akhilesh-attack-yogi-in-hardoi
हरदोई (उत्तर प्रदेश), 21 फरवरी, समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक पराजय का दावा करते हुए सोमवार को कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपना सामान गोरखपुर ले जाने के लिए ‘पैकर्स ऐंड मूवर्स’ को बुलाया है और 11 मार्च का हवाई टिकट भी खरीद लिया है। अखिलेश ने हरदोई के संडीला में सपा गठबंधन के प्रत्याशियों के समर्थन में आयोजित चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए चुनाव में भाजपा की ऐतिहासिक पराजय होने का दावा किया। उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए कहा, "अभी सुनने को मिला है कि हमारे सीएम (मुख्यमंत्री) ने पीएम को बुलाया है। पीएम का मतलब पैकर्स ऐंड मूवर्स से है, जो लोगों के घर के सामान को एक जगह से दूसरी जगह पहुंचाते हैं।" उन्होंने योगी पर हमले जारी रखते हुए कहा, "हारने वाला पहलवान ही खिसियाता है। आपने बाबाजी की शक्ल देखी है। बताइए उस पर 12 बज गए कि नहीं। अब तो गोरखपुर वाले भी उनके लिए एक गाना गाने लगे हैं। आपने देखा होगा कि प्रधानमंत्री ने जब से उन्हें पैदल किया तब से वह लगे थे कि हम कहां से चुनाव लड़ेंगे लेकिन जनता ने उन्हें अपने घर गोरखपुर भेज दिया और सुनने में आया है कि उन्होंने 11 तारीख की हवाई जहाज का टिकट भी खरीद लिया है।" उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, "भाजपा के लोग नहीं समझ पा रहे हैं कि इनके खिलाफ जनता में 440 वोल्ट का करंट चल रहा है। आपने इनके बयान देखे होंगे जिन नेताओं की भाषा बदली है, वे जनता का समर्थन नहीं पा रहे हैं और इस बार जनता ने इनकी खड़ी कर दी है खटिया, इसीलिए इनके बयान आ रहे हैं घटिया।" गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव में भाजपा परिवारवाद व गुंडाराज फैलाने और आतंकवाद को प्रश्रय देने के आरोप लगाकर सपा पर काफी हमलावर है। अखिलेश ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर भी करारा हमला करते हुए कहा कि इस पार्टी का कोई भरोसा नहीं कि वह कब किससे जा मिले।


उन्होंने बसपा के चुनाव निशान हाथी का जिक्र करते हुए कहा, "जो हाथी पर बैठे हैं, वे कहीं भी जा सकते हैं क्योंकि उनके गुरु भाजपा में बैठे हैं।" अखिलेश ने दावा किया, "हम बहुमत की सरकार बना रहे हैं। हमने पहले और दूसरे चरण में ही शतक लगा दिया है और तीसरे, चौथे में दूसरा शतक लग जाएगा। बाकी जितने चरण बचेंगे उनमें समाजवादी पार्टी और गठबंधन ऐतिहासिक जीत हासिल करने जा रहा है। इस बार जनता इस बात को लेकर खुद में होड़ कर रही है कि किस चरण में भाजपा को ज्यादा बुरी तरह से हराया जाए।" सपा अध्यक्ष ने भाजपा पर किसानों से छल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी ने वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा किया था लेकिन वह झूठा साबित हुआ। उन्होंने कहा कि उल्टे सरकार ने किसानों की खाद की बोरी से पांच किलो खाद चोरी कर ली। उन्होंने शिक्षामित्रों का जिक्र करते हुए कहा कि सपा सरकार ने ही उनकी सबसे ज्यादा मदद की थी लेकिन पिछले चुनाव में वे भी भाजपा के बहकावे में आ गए थे। उन्होंने वादा किया कि सपा की दोबारा सरकार बनी तो शिक्षामित्रों को स्थाई नौकरी दी जाएगी। अखिलेश ने लोगों का आह्वान करते हुए कहा, ‘‘उत्तर प्रदेश का विधान सभा चुनाव कोई छोटा-मोटा चुनाव नहीं बल्कि देश का सबसे बड़ा चुनाव होने जा रहा है। यह ना सिर्फ इस राज्य का भाग्य बदलेगा बल्कि किसानों और नौजवानों की किस्मत भी बदलेगा। भाजपा ने लगातार झूठ बोलकर जनता को गुमराह किया जबकि समाजवादियों ने हमेशा जनता के लिए काम करके दिखाया है।’’ इससे पहले, सपा गठबंधन के सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने बसपा पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि इस पार्टी के उम्मीदवार गृह मंत्री अमित शाह के यहां तय होते हैं और बसपा दफ्तर में उन्हें चुनाव चिह्न दिया जाता है। उन्होंने जनता से कहा कि बसपा को वोट देकर वे अपना मत बर्बाद न करें।

कोई टिप्पणी नहीं: