श्रीलंका को भारत ने 11 हजार मीट्रिक टन चावल की खेप भेजी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 12 अप्रैल 2022

श्रीलंका को भारत ने 11 हजार मीट्रिक टन चावल की खेप भेजी

india-send-rice-11000-metric-ton-to-sri-lanka
नयी दिल्ली, 12 अप्रैल, गंभीर आर्थिक संकट एवं आवश्यक वस्तुओं की कमी का सामना कर रहे श्रीलंका को उसके नववर्ष उत्सव से पहले भारत ने 11 हजार मीट्रिक टन चावल की खेप भेजी है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने श्रीलंका स्थित भारतीय उच्चायोग का ट्वीट जारी कर यह जानकारी दी। श्रीलंका में भारतीय उच्चायोग ने अपने ट्वीट में कहा कि नववर्ष उत्सव से पहले भारत से 11 हजार मीट्रिक टन चावल आज चेन ग्लोरी जहाज से कोलंबो पहुंचा। इसमें कहा गया कि पिछले सप्ताह भी बहुआयामी सहायता के तहत 16 हजार मीट्रिक टन चावल की आपूर्ति की गई थी जिससे दोनों देशों के बीच विशेष संबंधों का पता चलता है और यह सहायता जारी रहेगी। गौरतलब है कि श्रीलंका इस समय सबसे खराब आर्थिक संकट का सामना कर रहा है। देश में विदेशी मुद्रा की कमी के कारण ईंधन और रसोई गैस जैसे आवश्यक सामान की किल्लत हो गई है। वहां प्रतिदिन 12 घंटे तक बिजली कटौती हो रही है। श्रीलंका में इस गंभीर आर्थिक संकट के कारण राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे के नेतृत्व वाले श्रीलंका के सत्तारूढ़ गठबंधन की मुश्किलें काफी बढ़ गई हैं। पिछले सप्ताह श्रीलंका स्थित भारतीय उच्चायोग ने ट्वीट में कहा था, ‘‘ईंधन के लिए भारत की ऋण सुविधा पर काम शुरू। 36 हजार मीट्रिक टन पेट्रोल और 40 हजार मीट्रिक टन डीजल की आपूर्ति की गई। भारतीय सहायता के तहत अब तक कुल 2,70,000 मीट्रिक टन ईंधन की आपूर्ति की गई।’’

कोई टिप्पणी नहीं: