स्वतंत्रता दिवस के लिए सुरक्षा की सारी तैयारियां पूरी : डीजीपी - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 14 अगस्त 2022

स्वतंत्रता दिवस के लिए सुरक्षा की सारी तैयारियां पूरी : डीजीपी

security-preparations-completed-for-independence-day-dgp
श्रीनगर, 14 अगस्त, जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक(डीजीपी) दिलबाग सिंह ने रविवार को कहा कि स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए सुरक्षा संबंधी सभी तैयारियां कर ली गई है। डीजीपी ने रविवार को श्रीनगर में आयोजित तिरंगा वॉकथॉन के अवसर पर मीडिया कर्मियों को यह जानकारी देते हुए कहा, “स्वतंत्रता दिवस समारोह को सुचारू रूप से पूरा से करने के लिए सुरक्षा के सारे इंतजाम किए गए हैं और जहां कहीं भी ड्रोंस की आवश्यकता होगी उसका उपयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा, सीमाओं पर बहुत कड़ी निगरानी रखी जा रही है जिससे कोई घुसपैठ न हो सके, बीच में घुसपैठ की कुछ कोशिशें की गई लेकिन सभी को नाकाम कर दिया गया।“ डीजीपी ने कहा, सीमाओं पर स्थिति में सुधार हुआ है और पूरी तरह से नियंत्रण में है। जम्मू-कश्मीर को अस्थिर करने वाले बड़े मॉड्यूलों को निष्प्रभावी कर दिया गया है। सुरक्षाबलों द्वारा सीमाओं पर कड़ी चौकसी रखने के कारण आतंकवादियों के पाकिस्तानी आका उन्हें इस ओर नहीं भेज पा रहे हैं इसलिए वे ड्रोन के माध्यम से सीमापार हथियार और गोला-बारूद भेज रहे हैं जो एक चुनौती बनी हुई है और इससे निपटने के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अभी भी आतंकी घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा है लेकिन हमारे सुरक्षाबल किसी भी कोशिश को विफल करने में सक्षम हैं। सुरक्षाबलों ने भारी मात्रा में हथियारों, गोला-बारूदों और नशीले पदार्थों को जब्त किया है, जिसे घुसपैठ करनेवाले आतंकियों छोड़कर भाग गए थे। डीजीपी ने कहा कि पाकिस्तान निर्दोष छोटे बच्चों को “ हाइब्रिड” आतंकवाद में शामिल करने के लिए कट्टरपंथी बनाने में लगा हुआ है और उनपर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का दबाव डाल रहा है लेकिन इस बात की खुशी है कि कई बच्चे जो गलत रास्ते पर चले गए थे उन्हें पुलिस और सुरक्षाबलों द्वारा वापस सही रास्ते पर लाया गया है और वे सामान्य जीवन व्यतीत कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि घुसपैठ और आतंकी के रूप में युवाओं की भर्ती में कमी आई है और आतंकवाद का ग्राफ नीचे गिरा है। डीजीपी ने जम्मू-कश्मीर के लोगों और पूरे देश को स्वतंत्रता के 75वें वर्ष की बधाई दी। उन्होंने कहा कि हम इस अवसर को पिछले एक सप्ताह से मना रहे हैं जो स्वतंत्रता दिवस के बाद भी जारी रहेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: