मधुबनी : 15 जनवरी से 21 जनवरी 2023 तक आयोजित होगा भूकंप सुरक्षा सप्ताह। - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

रविवार, 15 जनवरी 2023

मधुबनी : 15 जनवरी से 21 जनवरी 2023 तक आयोजित होगा भूकंप सुरक्षा सप्ताह।

आपदा नही होगी भारी,यदि पूरी है तैयारी।भूकंप सुरक्षा को लेकर एसडीआरएफ की टीम द्वारा दिनांक 16 जनवरी 2023 से 21 जनवरी 2023 तक विभिन्न स्थानों पर मॉक ड्रिल का भी होगा आयोजन।

Earth-quack-safty-week
मधुबनी, जिला भूकंप की दृष्टि से जोन 5 के अंतर्गत आता है जो कि भूकंप के प्रति अत्यंत संवेदनशील जिलों की श्रेणी है। भूकंप एक आकस्मिक रूप से घटित होने वाली प्राकृतिक आपदा है जिसमें व्यापक स्तर पर संरचनात्मक, पर्यावरण व जानमाल की क्षति होती है। भूकंप से निपटने के प्रमुख उपायों में भूकंप रोधी भवन, अर्थक्वेक रिस्पांस, भूकंप के दौरान की जाने वाली कार्रवाई के प्रति प्रशिक्षित होना व जागरूकता है। इसी दृष्टिकोण से प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी जिले में भूकंप सुरक्षा सप्ताह 15 से 21 जनवरी 2023 तक मनाया जाना है।जिलाधिकारी ने सभी संबंधित विभागों को भूकंप सुरक्षा सप्ताह के दौरान विविध जागरूकता एवं प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने का निर्देश दिया है। भूकंप सुरक्षा को लेकर एसडीआरएफ की टीम द्वारा दिनांक 16 जनवरी 2023 से 21 जनवरी 2023 तक विभिन्न स्थानों पर मॉक ड्रिल का भी आयोजन किया जाएगा, जिसका प्रारंभ 16 जनवरी 2023 को 11:00 बजे मधेपुर अंचल कार्यालय से होगा। 21 जनवरी को समाहरणालय परिसर एवं रेलवे स्टेशन मधुबनी में भी मॉकड्रिल का आयोजन किया जाएगा। पदाधिकारियों, जनप्रतिनिधियों, अभियंताओं, शिक्षकों, भवन निर्माण सामग्री विक्रेताओं, राजमिस्त्रियों, युवा स्वयंसेवकों व अन्य हितभागियों हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे। जिले के विद्यार्थियों को भूकंप सुरक्षा के प्रति जागरुक करने के लिए विभिन्न प्रतियोगिता भी आयोजित किया जाएगा। आमजन को भूकंप सुरक्षा के प्रति संवेदनशील व सजग बनाने के लिए शिक्षकों, जीविका दीदियों एवं आंगनबाड़ी सेविका- सहायिकाओं के माध्यम से भूकंप सुरक्षा संबंधी पंपलेट वितरित किए जाएंगे तथा जिले के प्रमुख सार्वजनिक स्थानों पर होर्डिंग्स/फ्लैक्स के माध्यम से व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाएगा। इस दौरान भूकंप सुरक्षा से संबंधित जानकारियों से सुसज्जित भूकम्प जागरूकता रथ,नुक्कड़ नाटक आदि के माध्यम से भी जागरूकता हेतु व्यापक प्रचार- प्रसार किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: