शाहिद सिद्दीकी सपा से बाहर निकाले गए.


गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का साक्षात्कार लेने के बाद आज समाजवादी पार्टी के नेता शाहिद सिद्दीकी को सपा से बाहर कर दिया गया है. इस से पूर्व समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव ने संकेत दिए हैं कि शाहिद सिद्दीकी को पार्टी से निकाला जा सकता है. 

रामगोपाल यादव ने अंग्रेजी अखबार टेलीग्राफ से कहा है कि मोदी का जिस तरह से उन्होंने साक्षात्कार किया है, उसे पार्टी गंभीरता से ले रही है और उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी की जा सकती है. ग़ौरतलब है कि पिछले दिनों उर्दू अख़बार नई दुनिया के संपादक के तौर पर शाहिद सिद्दीकी ने नरेंद्र मोदी का साक्षात्कार किया था.

यह साक्षात्कार बहुत चर्चित हुआ है क्योंकि इसमें मोदी ने स्पष्ट कहा कि अगर वह गुजरात दंगों के दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें फांसी पर लटका दिया जाए. इसी इंटरव्यू के जरिए गुजरात के मुख्यमंत्री मोदी ने भारत के मुसलमानों के नाम एक संदेश भी जारी कर दिया जिसमें उन्हें सिर्फ वोट बैंक बन कर न रहने की सलाह दी गई है. मोदी के इस साक्षात्कार को मुसलमानों में उनकी छवि दुरूस्त करने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है. जानकारों का कहना है कि नरेंद्र मोदी ने जिस बेबाकी से दंगों के बारे में अपनी राय रखी है, उससे स्पष्ट है कि उनकी नज़र भारतीय जनता पार्टी की ओर से पीएम पद की उम्मीदवारी पर है. 


Share on Google Plus

About Kusum Thakur

एक टिप्पणी भेजें
loading...