आस्ट्रेलिया ने खत्म किया ‘457 वीजा’, भारतीयों को झटका

Australia-killed-visa-457
सिडनी, 18 अप्रैल, आस्ट्रेलिया सरकार ने अपने देश में रोजगार की कमी पूरी करने के लिए लगभग 95,000 विदेशी कर्मचारियों द्वारा उपयोग किये जा रहे अस्थायी वीजा कार्यक्रम को समाप्त कर दिया है जिससे बड़ी संख्या में भारतीय मूल के कामगार प्रभावित होंगे । ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने आज कैनबरा में संवाददाताओं से कहा कि सरकार ने ‘457 वीजा ’ कार्यक्रम समाप्त कर दिया है । पुराना वीजा कार्यक्रम समाप्त होने से इस समय ऑस्ट्रेलिया में रह रहे विदेशी नागरिकों को कोई दिक्कत नहीं होगी । इसकी जगह दूसरा वीजा कार्यक्रम शुरू किया जाएगा जिसके तहत बेहतर अंग्रेजी जानकार और कुशल विदेशी नागरिक ही ऑस्ट्रेलिया में नौकरी कर सकेंगे । इसके अलावा इस वीजा की अवधि केवल दो वर्ष की होगी और चार वर्ष के वीजा के लिए अंग्रेजी भाषा का बेहतर ज्ञान जरूरी होगा । श्री टर्नबुल ने कहा, “ हमारे देश की आव्रजन नीतियां विदेशियों के लिए बहुत आसान हैं लेकिन आस्ट्रेलियाई कामगारों को अपने देश में रोजगार में प्राथमिकता मिलनी चाहिए। हम 457 वीजा समाप्त कर रहे हैं क्योंकि इससे वे रोजगार विदेशियों को मिल रहे हैं जिन पर ऑस्ट्रेलियाई नागरिकों का अधिकार है। ” 457 वीजा के तहत कंपनियों को उन क्षेत्रों में चार साल तक विदेशी कर्मचारियों को नियुक्त करने की अनुमति थी जहां कुशल आस्ट्रेलियाई कामगारों की कमी है लेकिन आरोप लगने लगे कि नियोक्ता कौशल की कमी पूरी करने के लिए नहीं बल्कि सस्ते कामगारों के लिए इस वीजा कार्यक्रम का दुरूपयोग कर रहे हैं । इसके बाद ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने इस वीजा कार्यक्रम को खत्म करने का फैसला किया है । इस वीजा के जरिये अस्थायी तौर पर विदेशी कर्मचारी ऑस्ट्रेलिया आते हैं । यह वीजा रखने वालों में ज्यादातर भारत के नागरिक हैं, उसके बाद ब्रिटेन और चीन का स्थान है । गौरतलब है कि श्री टर्नबुल ने यह घोषणा हाल ही में भारत यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात कर लौटने के बाद की है ।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...