बिहार : दिव्यांग छात्रों को प्रदर्शन से जबरन रोका,

  • स्कूल का गेट किया बंद, प्रदर्शनकारी छात्रों ने किया रोषपूर्ण प्रदर्शन, मजिस्ट्रेट और पुलिस की मशककत के बाद पतिनिधिमंडल को सिटी मजिस्ट्रेट से मिलाया।

handicap-protest-patna
पटना:- आॅल इण्डिया स्टूडेन्ट्स फेडरेशन ;।प्ैथ्द्ध एवं दिव्यांग स्टूडेन्ट्स फेडरेशन ;क्ैथ्द्ध के बैनर तले दिव्यांग छात्रों की समस्याओं को लेकर प्रदर्शन के पूर्व ही बड़ी तादाद में पुलिस और मजिस्ट्रेट ने जबरन रोकने की कोशिश की तो छात्रों का गुस्सा फूट पड़ा। कदमकुआँ स्थित बुद्ध मूर्ति से जुलूस निकलना था। बुद्ध मूर्ति के गेट के अन्दर और बाहर बड़ी तादाद में दिव्यांग छात्रों ने ।प्ैथ् के बैनर तले प्रदर्शन किया। प्रदर्शन में शामिल छात्रों ने समाज कल्याण विभाग द्वारा बन्द छात्रवृति जारी करने व 15,000/- रु॰ करने, दिव्यांग छात्रों को पीजी तक मुक्त शिक्षा नेत्रहीन उच्च विद्यालय, कदमकुआँ को 10$2 का दर्जा गैर सरकारी संस्था ;छळव्द्ध नेशनल एसोसिएशन फोर द ब्लाइंड ;छ।ठद्ध का लाइसेंस रद्द करने व संचालिका लिली गुप्ता की संपत्ति की जांच कराने, छ।ठ द्वारा दिव्यांग छात्रों से नामांकन शुल्क के रूप में वसूले गये पैसे की वापसी सुलभ इंटरनेशनल संस्था द्वारा छ।ठ को दिये गये पैसे की जांच लिली गुप्ता पर आपराधिक मुकदमा दर्ज कराने, सभी नेत्रहीन छात्रावास में कैंटीन पेयजल, शौचालय जैसी बुनियादी सुविधाओं की बहाली आदि 12 सूत्री मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। 

प्रदर्शन के दरम्यान जिला नियंत्रण कक्ष के दंडाधिकारी एम॰एस॰ खान और बड़ी तादाद में पुलिस कर्मियों ने काफी मशक्कत के बाद वार्ता के लिए तैयार किया। शबेबारात की छुट्टी की वजह से सचिवालय बन्द होने के कारण नगर दण्डाधिकारी डाॅ॰ कारी प्रसाद महतो ने 8 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल से वार्ता की। लगभग आधे घंटे की वार्ता में गंभीरतापूर्वक बिन्दुवार सुनते हुए नगर दंडाधिकारी ने विव्यांग छात्रों के सवालों पर त्वरित कदम उठाते हुए सोमवार या मंगलवार को मुख्यमंत्री सचिवालय ओर समाज कल्याण विभाग प्रतिनिधिमंडल भेजने का भरोसा दिलाया। प्रतिनिधिमंडल में शामिल ।प्ैथ् के राज्य सचिव सुशील कुमार, राज्य उपाध्यक्ष सुशील उमाराज, जिलाध्यक्ष पुष्पेन्द्र प्रणय, राज्य पार्षद् विद्यानंद पासवान, आदित्य नारायण, र्वजीत भाटिया, राजीव कुमार एवं आरती कुमारी। कागज पर चलाये जा रहे छळव् ;छ।ठद्ध की कारगुजारियों पर विस्तारपूर्वक बात रखी। वहीं प्रतिनिधिमंडल ने लोकतांत्रिक आंदोलनों पर बार-बार दमनकारी रवैया अपनाए जाने पर रोष व्यक्त करते हुए आंदोलन के स्थल की रक्षा के लिए वरीय पदाधिकारियों से भी जाने की बात कही।
प्रदर्शन में राष्ट्रीय छा
त्रा सह संयोजिका आरती कुमारी परिषद् सदस्य राजीव किशोर, रजनीश कुमार, सुभाष पासवान, राजकपूर, सफदर इरशाद, तौसीक आलम, बिट्टू कुमार, कौशल किशोर भारती, सुनील कुमार, श्याम बाबू साव, रामजी, संतोष कुमार यादव, मुकुल कुमार, आफताब आलम, अनुज कुमार, मुन्ना कुमार, धीरज कुमार, अभय कुमार (नेत्रहीन वि॰), प्रेम कुमार, सुजीत कुमार, सतीष कुमार, धीरज कुमार, अमित कुमार, मन्टु कुमार, संजीव कुमार, सुमित कुमार, बिरेन्द्र कुमार, नीतेश कुमार, आदर्शन कुमार, प्रिंस कुमार, आदर्श कुमार।

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...