भारत में जीका वायरस के तीन मामले: डब्ल्यूएचओ

zika-in-india
नयी दिल्ली 27 मई, दुनिया के कई देशों को अपनी चपेट में लेने के बाद देश मे पहली बार जीका वायरस के तीन मामले सामने आये हैं। ये तीनों मामले गुजरात के अहमदाबाद के है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने आज एक बयान जारी कर बताया “ 15 मई 2017 को भारत सरकार की स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने गुजरात के अहमदाबाद जिला के बापुनगर इलाके में जीका वायरस तीन मामलों की प्रयोगशाला में पुष्टि होने की रिपोर्ट दी है। ” इसबीच आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि भारत में सर्विलांस सिस्टम अच्छा है और ऐसे मामले का पता लगाने में सक्षम है। जीका वायरस मच्छर से फैलता है। आमतौर पर यह वायरस नवजात बच्चों में होता है। वायरस की वजह से बच्चे सामान्य से छोटे सिर (माइक्रोसेफैली) के साथ पैदा होते हैं। माइक्रोसेफैली, न्यूरोलॉजिकल समस्या है जिसमें दिमाग पूरी तरह विकसित नहीं हो पाता।  ब्राजील में 2015 में जीका वायरस के मामले अचानक बढ़े। ब्राजील के अलाव मध्य और दक्षिणी अमेरिका के बोलिविया, इक्वाडोर, गुयाना, कोलंबिया, एल सल्वाडोर, फ्रेंच गुईआना, ग्वातेमाला, हॉन्डुरस, मेक्सिको, पनामा, पराग्वे, सूरीनेम और वेनेजुएला में इसकी चपेट मे थे।  पिछले साल जनवरी में हालात इतने खराब हो गए कि चार लैटिन अमेरिकन व कैरिबियन देशों ने महिलाओं को प्रेग्नेंट ना होने की सलाह दे दी। 

Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...