झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 12 जुलाई

नए शैक्षणिक सत्र में जिले की षिक्षा व्यवस्था बदहाल -ः जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया
  • स्कूल चले हम अभियान फलाॅप

झाबुआ। नया शैक्षणिक सत्र 15 जून से आरंभ हो गया है। नए सत्र में जिले की षिक्षा व्यवस्था बद से बदत्तर बनी हुई है। षिक्षक स्कूलों में समय पर नहीं पहुंच रहे है तो कई विद्यालयों में षिक्षकों के पद रिक्त होने से बच्चों को अध्ययन कार्य में काफी दिक्कते आ रहीं है। विद्यार्थियों का भविष्य अंधकारमय हो रहा है। बच्चों को उच्च स्तर की षिक्षा उपलब्ध करवाने के शासन-प्रषासन के दावे धरातल स्तर पर खोखले साबित हो रहे है। उक्त बात एवं आरोप लगाते हुए जिपं अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री सुश्री कलावती भूरिया ने कहा कि जिले में नए सत्र के साथ षिक्षा का स्तर दिन-प्रतिदिन बिगड़ता जा रहा है। षिक्षक स्कूलों में समय पर नहीं पहुंच रहे तो पिछले लंबे समय से जिले में षिक्षकों के सैकड़ों पद रिक्त पड़े है, जिनकी पूर्ति करने की ओर शासन द्वारा कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है, अपितु जबरन तबादले किए जा रहे है। इसके चलते विद्यार्थियों का अध्ययन कार्य बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है। स्कूल चले हम अभियान पूरी तरह से फलाॅप एवं फिसड्डी साबित हो रहा है। इसमंे अधिकारी-कर्मचारियों की निष्क्रीयता साफ तौर पर झलक रहीं है।


बिना पढ़े बच्चें लौट रहे घर
आलम यह है कि विद्यालयों में षिक्षक नहीं होने से विद्यार्थी बिना पढ़े ही अपने घर लौट रहे है और दिनभर अपना जीवन यापन मवेषियों को चराने में गुजार रहे है। सुश्री भूरिया ने आरोप लगाते हुए कहा कि शासन एवं जिला प्रषासन बच्चों के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने में लगा हुआ है और महज खोखले दावे कर रहा है। 

किसानों को गुमराह करने का काम कांग्रेस ने नहीं किया, वरन भाजपा कर रहीं है -ः जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया
विधायक एवं भाजपा जिलाध्यक्ष के बयान पर जिपं अध्यक्ष का पलटवार

झाबुआ। बीते दिनों कृषि उपज मंडी प्रांगण में किसान संदेष यात्रा के समापन पर आयोजित कार्यक्रम में क्षेत्रीय विधायक एवं भाजपा जिलाध्यक्ष द्वारा प्रदेष में पूर्व में रहीं कांग्रेस की सरकार एवं सांसद पर लगाए गए आरोपो का खंडन करते हुए जिला पंचायत अध्यक्ष एवं वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री सुश्री कलावती भूरिया ने कहा कि किसानों को गुमराह करने का काम सांसद श्री भूरिया एवं कांग्रेस की पूर्व सरकार ने किया, अपितु वर्तमान भाजपा सरकार कर रहीं है। कांग्रेस के राज में किसानों का सर्वांगिण विकास हुआ था एवं किसान निरंतर प्रगति की ओर अग्रसर हुए था, और अब उनकी स्थिति अत्यंत दयनीय हो गई है। जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया ने आगे कहा कि कांग्रेस के 60 वर्ष के र्कायकाल में केंद्र में यूपीए एवं प्रदेष में कांग्रेस सरकार ने किसानो की हर संभव मद्द के लिए उन्हें अनेक योजनाओं के माध्यम से लाभांवित किया एवं उनके विकास के लिए कई पहल की। कांग्रेस के राज में किसानों की स्थिति काफी अच्छी थी, वहीं वर्तमान में भाजपा के राज में किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे है, उनके द्वारा अपना अधिकार मांगने पर उन पर गोलियां बरसाई जा रहीं है। निर्दोष किसानों की हत्या की जा रहीं है। किसानों को अपनी फसलों की पैदावार होने पर मजबूरन उन्हें सड़क पर फैंकना पड़ रहा है। जिसके चलते महंगाई भी बेलगाम बढ़ती जा रहीं है। किसानों को सरकारी स्तर पर खाद-बीज नहीं मिल रहा है। बाजार से महंगे दामों में खाद-बीज खरीदने के लिए साहूकारों से ऋण लेना पड़ रहा है।

सांसद किसानों के हितैषी
जिपं अध्यक्ष सुश्री भूरिया ने बताया कि संसदीय क्षेत्र के लोकप्रिय सांसद किसानों के हमेषा से ही हितैषी रहे है, जिसका ही प्रमाण है कि पिछले कुछ दिनों पूर्व कृषि विभाग झाबुआ के प्रांगण में आयोजित कृषि विज्ञान मेले में उन्होंने प्रदेष के कृषि मंत्री के समक्ष मंच से बेबाक संसदीय क्षेत्र के किसानों की समस्याओं से अवगत करवाया एवं सरकार तथा जिला प्रषासन की निष्क्रीयता को उजागर किया। सुश्री भूरिया ने कहा कि भाजपा नेता एवं पदाधिकारी पहले अपनी सरकार की विफलताओं को देखे, दूसरों पर अनर्गल आरोप ना लगाए। उन्होंने बताया कि सांसद श्री भूरिया ने केंद्रीय कृषि मंत्री रहते हुए, संसदीय क्षेत्र के विकास के लिए जो कार्य किए है, वह भाजपा के अब तक के कार्यकाल में भी नहीं हो पाए है।

मनुष्य को क्रोधादि कषायों से मुक्त रहकर प्रभु के ध्यान में लीन रहना चाहिए -ः आचार्य श्री ऋ़षभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा
  • दूसरों की आलोचना करने से बचे -ः मुनिश्री रजतचन्द्र विजयजी मसा

jhabua news
झाबुआ। मनुष्य को क्रोधादि कषायों से मुक्त रहकर प्रभु के ध्यान में तल्लीन रह कर साधना करना चाहिए। आत्मा से परमात्मा बनने की कला मनुष्य जीवन में ही प्राप्त हो सकती है। उक्त उद्गार स्थानीय श्री ऋषभदेव बावन जिनालय के समीप पोषध शाला भवन में बुधवार को सुबह प्रवचन देते हुए गच्छाधिपति आचार्य श्री ऋषभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा ने व्यक्त किए। उन्होंनेक्रोध के दुष्परिणाम के बारे में एक उदाहरण समझाया कि एक परिवार में पति-पत्नी और बालक थे। एक बार पति को कहीं दूसरे गांव जाना था। पत्नि को बोला यह 5 हजार रू. रखो, मैं थोड़े दिन के लिए दूसरे गांव जा रहा हूॅ। पत्नी रसोई बना रहीं थी, उसने वहीं पास में रख दिए और किसी काम से बाहर गई। प्यारा सा छोटा बालक उसे ना समझ था, उसने देखा पास में कागज का वह 50 रू. गड्डी थी, जो 5 हजार रू. की थी, उसे सोचा की मां भी कागज जलाती है तो आग अधिक तेज जल जाती है। उसने भी वह नोट का बंडल आग में डाल दिया। कुछ ही क्षण में जब मां आई तो देखा, वह नोट चूल्हे में डाल दिए थे और जल रहे थे, मां ने आकर देखा तो उसे क्रोध आया और बालक को जोर से गाल पर थप्प जड़ दिया। बालक सहन नहीं कर पाया और गिरते ही मर्मकारी चोट से मर गया। पति महाषय ने देखा तो क्रोध में आपे से बाहर होकर पास में पड़ी तलवार से पत्नी को मार डाला। पुलिस ने आकर मामला दर्ज किया और पति महाषय को आजीवन कारावास हो गया। क्रोध के दुष्परिणाम से एक परिवार खत्म हो गया। अंतः क्रोध, मान, माया और लोभ से बचकर स्वयं को परमात्मा की शरण स्वीकार कर धर्म में लीन हो जाना चाहिए। हमे हमारे विचारों को सम परिणाम अर्थात शांत चित्त से आत्मा की अनुभूति में लगाना चाहिए।


दूसरों की आलोचना करने से बचे
मुनि श्री रजतचन्द्र विजयजी मसा ने चातुर्मास में करने योग्य कार्य के बारे में समझाया कि आत्म तत्व को प्राप्त करने का यहीं मानव भव है। आत्मा की अनुभूति और अनुभव से ही हम परमात्म दषा को प्राप्त कर सकते है। इसी भव को यदि साध्य करेंगे तो सिद्धी दूर नहीं है। हमारा दषा बड़ी विचित्र है। हम सभी सुख चाहते है, सुखी बनना चाहते है, पर दूसरों को दुःख देते है। दूसरो की आलोचना करते है। उपकार करते नहीं तो सुख कहां से प्राप्त होगा। दुःख दोगे तो दुःख प्राप्त होगा। अतः जीवों की हिंसा की प्रवृत्ति को छोड़कर सभी जीवों को अभयदान देने से दुःख दूर होकर सुख प्राप्त होगा।

बहुमान किया गया
श्री संघ के युवा रिंकू रूनवाल ने बताया कि बुधवार को अट्ठम तप के तपस्वी श्रीमती प्रेमलता धारीवाल एवं आयंबिल तप के तपस्वी श्रीमती कमलाबेन राठौर, किरण राठौर एवं मंजु राठौर का लाभार्थी श्रीमती सरिता हेमेन्द्र बाबेल परिवार द्वारा बहुमान किया गया। सर्व सिद्धीदायक, कष्ट निवारक, चमत्कारिक महामांगलिक में 16 जुलाई, रविवार को आचार्य श्री ऋषभचन्द्र सूरीजी निश्रा प्रदान करेंगे। जिसकी आमंत्रण पत्रिका पर पूज्य आचार्य श्रीजी द्वारा वाक्षेप किया गया एवं श्री संघ के अध्यक्ष धर्मचन्द मेहता, सुभाष कोठारी, संजय कांठी, अषोक राठौर, सुरेन्द्र कांठी, तेजप्रकाष कोठारी, धर्मेन्द्र कोठारी, नरेन्द्र पगारिया, कमलेष कोठारी आदि ने विमोचन किया। महामांगलिक के लाभार्थी कमलेष कोठारी परिवार रहेंगे। प्रवचन पश्चात् गुरूदेव श्री राजेन्द्र सूरीष्वरजी मसा की आरती श्रीमती चंद्रकांताबेन कांठी परिवार ने उतारी।

सिद्धी तप की आराधना कल से
परम् पूज्य गच्छाधिपति आचार्य श्रीमद् विजय ऋ़षभचन्द्र सूरीष्वरजी मसा एवं पपू मुनिराज श्री रजतचन्द्र विजयजी मसा, पूज्य साध्वी श्री रत्नरेखा श्रीजी मसा आदि मुनि मंडल तथा साध्वी मंडल ठाणा-5 की निश्रा मंे श्री सिद्धी तप की महाराधना 14 जुलाई से प्रारंभ होगी। जिसमें प्रातः 8 बजे प्रभावना श्री राजेन्द्र सरूी पोषधषाला भवन, 8.15 बजे चल समारोह, 9 बजे श्री सिद्धी तप तपस्वियों द्वारा सामूहिक गहूली, गुरूवंदन एवं पच्चखाण ग्रहण एवं 9.15 बजे से प्रवचन होंगे।

राज्य स्तरीय पावर लिफ्टिंग चैम्पियनषीप में सुषील ने जीता सिल्वर मेडल’’

झाबुआ । दिनांक 7 से 9 जुलाई 2017 को राज्य स्तरीय पावर लिफ्टिंग चैम्पियनषीप का आयोजन ऋतुराज गार्डन इंदौर मंे हुआ जिसमें झाबुआ जिले के खिलाडियों द्वारा विभिन्न भारवर्गो में हिस्सा लिया गया । हैवीवेट में सुषील वाजपेयी (पहलवान) द्वारा 470 कि.गा. भार उठाकर प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल प्राप्त करते हुये द्वितीय स्थान प्राप्त किया , साथ ही झाबुआ जिले के खिलाडियों द्वारा भी प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्षन किया गया  । श्री वाजपेयी द्वारा वर्षो से कुष्ती, बाॅडी बिल्डिंग, पावर लिफटिंग, आदि खेलो में हिस्सा लेकर जिले का नाम राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर रोषन किया होकर जिले के एकमात्र ऐसे खिलाडी जो कि इन तीनो खेलो में महारत रखते है एवं विभिन्न प्रतियोगिताओं में इनके द्वारा अबतक 100 से अधिक मेडल भी प्राप्त किये गये है एवं जय बजरंग व्यायाम शाला के माध्यम से उक्त खेलो का निःषुल्क प्रषिक्षण दिया जाता है, जिससे इन खेलो हेतु खिलाडी निरंतर तैयार किये जा रहे है जो कि झाबुआ जिले का नाम रोषन कर रहे है । प्रतियोगिता में सफलता पर जय बजरंग व्यायामषाला में मंगलवार को हनुमानजी का पूजन कर सभी खिलाडियों का सम्मान किया गया । श्री सुषील वाजपेयी (पहलवान) द्वारा राज्य स्तरीय पावर लिफ्टिंग चैम्पियनषीप प्रतियोगिता में सिल्वर मेडल प्राप्त किये जाने पर श्री प्रेमसिंग उस्ताद ,उमंगजी सक्सेना, श्री नारायणसिंहजी ठाकुर, श्री ललीतजी शर्मा, श्री प्रकाष चैहान नरेष डोषी, श्री राजेन्द्रजी यादव, मोहनदादा माहेष्वरी, प्रदीपजी, रूनवाल, प्रकाषजी रांका, मनोहरजी भंडारी, मनीषजी व्यास, दिनेषजी सक्सेना, मुकुल सक्सेना, यषवंत पंवार ,चंदू खलीफा, किषोर खलीफा, वीरसिंहजी भूरिया, प्रतीक मेहता, सौरभ सोनी, राजीव शुक्ला, आलोकजी द्विवेदी, निकी डामोर, महेषजी राठौर, हेमेन्द्र पंवार, धन्नालालजी, आदि द्वारा बधाई दी गई । जय बजरंग व्यायाम शाला (जिम) स्वस्थ युवा, स्वस्थ भारत की परिकल्पना को सार्थक करने हेतु निरंतर अग्रसर है । उक्त जानकारी जय बजरंग व्यायाम शाला के चंदर पहलवान एवं राजेष बारिया द्वारा दी   गई ।

छापरी रणवास में लोक कल्याण शिविर संपन्न

jhabua news
झाबुआ । ग्राम छापरी रणवास जनपद पंचायत रामा में आज लोक कल्याण शिविर आयोजित कर ग्रामीणो को शासन की योजनाओं की जानकारी दी गई। शिविर में विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भूरिया,प्रभारी अधिकारी सामाजिक न्याय श्री अली, जनपद अध्यक्ष राधुसिह भूरिया, एसडीएम झाबुआ, श्री आर एस बालोदिया सहित जनप्रतिनिधि शासकीय सेवक एवं बडी संख्या में ग्रामीण जन उपस्थित थे। शिविर में शासकीय योजनाओं की जानकारी दी गई एवं प्राप्त आवेदनो का निराकरण किया गया।शिविर में जनसमस्या से संबंधित 25 आवेदन प्राप्त हुए, जिनमें से अधिकांश का मौके पर ही निराकरण किया गया। ग्राम छापरी रणवास ब्लाक रामा में आयोजित जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर में विधायक सुश्री भूरिया ने ग्रामीणो से आहवान किया कि ऐसे व्यक्ति अपनी इच्छा से गरीबी रेखा की सूची से नाम कटवा ले जो वास्तव में गरीब नहीं है ताकि वंचित गरीब परिवारो के नाम सूची में जोडकर उन्हें विकास की मुख्य धारा से जोडने के लिए शासकीय योजनाओं का लाभ दिया जा सके। शिविर में ग्रामीणो को बताया गया कि आपके जिले के 8 बच्चों का डाॅक्टर बनने के लिए एवं 55 बच्चों का इंजीनियर बनने के लिए चयन हुआ है। इसलिए लडका लडकी दोनो को पढाये ताकि जिले के बच्चे डाॅक्टर इंजीनियर एवं प्रशासनिक आॅफीसर बन सके। जिन बच्चों की पढाई में रूचि है, उनकी शिक्षा व्यवस्था के लिए भी सरकार द्वारा सब तरह से सहयोग किया जा रहा है। एवं ऐसे बच्चे जो पढाई में कमजोर है एवं आगे पढना नहीे चाहते ऐसे बच्चे भी निराश न हो शासन द्वारा उनको स्वरोजगार के लिए मुख्य मंत्री कौशल विकास योजना एवं मुख्यमंत्री कौशल्या योजना में रोजगार के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के बाद स्वयं का कारोबार करने के लिए बैंक से ऋण की व्यवस्था भी सरकार द्वारा करवाई जाएगी। आप सभी अपने बच्चों को स्कूल भेजकर उनकी पढाई पूर्ण अवश्य करवाये। गाॅव में ग्राम पंचायत में उपलब्घ पेयजल टेंकर का उपयोग शादी ब्याह, मकान बनाने, ईंट भटटे में पानी परिवहन के लिए करे, तो उसका किराया ग्राम पंचायत को जरूर दे ताकि गाॅव में पेयजल संकट आने पर उस राशि से पानी का परिवहन कर सभी गाॅव वालो के लिए पानी की व्यवस्था हो सकेगी। 

बिना माॅ-बाप के बच्चो को मिलेगा छात्रावास में प्रवेश
शिविर में बताया गया कि बच्चो की शिक्षा व्यवस्था के लिये ऐसे बच्चे जिनके माता-पिता दोनो नही है उन सभी बच्चो को छात्रावास आश्रम में रख कर उनकी शिक्षा पूरी करवाई जायेगी। आप ऐसे  बच्चो के नाम बताये जिनके माता-पिता दोनो नहीं है। उनके अभिभावक बच्चो के छात्रावास/आश्रम मे प्रवेश के लिए आवेदन संबंधित बीईओ कार्यालय में देवें।

किसानो की समस्याओं के समाधान के लिए नियंत्रण कक्ष स्थापित

झाबुआ । जिले में खरीफ फसलों में आदान आपूर्ति तथा किसानो को मार्गदर्शन दिये जाने हेतु झाबुआ जिले के उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास झाबुआ कार्यालय में नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। नियंत्रण कक्ष का दूरभाष नम्बर 07392-244241 है। नियंत्रण कक्ष के सफल संचालन के लिए श्री एस.एस.रावत सहायक संचालक कृषि को नियंत्रण कक्ष प्रभारी, श्री कुंवर सिंह चैेहान कृषि विकास अधिकारी को सहायक, श्री पी.के. गोयल ग्रा.कृ.वि.अधिकारी को सहायक, श्री सुरेश मण्डलोई ग्रा. कृ.वि.अधिकारी को सहायक नियंत्रण अधिकारी बनाया गया है।

अध्यक्ष विमुक्त धुमक्कड अर्द्ध धुमक्कड जाति विकास अभिकरण, श्री जाधव जिले के भ्रमण पर

झाबुआ। झाबुआ जिले में मध्यप्रदेश राज्य विमुक्त धुमक्कड एवं अर्द्ध धुमक्कड जाति विकास अभिकरण अध्यक्ष श्री संजय जाधव 13 जुलाई को जिले के भ्रमण पर रहेगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार श्री जाधव 13 जुलाई को झाबुआ पहुंचकर विमुक्त धुमक्कड अर्द्ध धुमक्कड जाति के लोगो से भेंट करेगे। तत्पश्चात पेटलावद के ग्राम टाण्डा लाला नायक में पहुॅचकर समाजजनो से चर्चा करेगे। उसके बाद झाबुआ से रतलाम के लिये प्रस्थान करेगे।

बलात्कार का अपराध पंजीबद्ध
      
झाबुआ ।  पीड़िता ने बताया की बस स्टेण्ड पर खड़ी थी कि आरोपी मनीष पिता खीमा मचार निवासी बेडावली आया व औरत बनाने की नियत से बहला फुसलाकर भगाकर पाडलघाटी अपनी मोसी के घर ले गया व जबरन ईच्छा के विरूद्ध खोटा काम (बलात्कार) किया, बाद झाबुआ छोड़कर चला गया। प्रकरण में थाना कल्याणपुरा में अपराध क्रं0 198/17 धारा 363,366,376(2)(एन),343 भादवि. व 5एल/6 पास्को एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

छेडछाड का अपराध पंजीबद्ध
      
झाबुआ । फरि. ने बताया की आरोपी अर्जुन पिता प्रकाश मावी निवासी नौगांवा ने पिछे से आकर पकड़ लिया व मुह दबाकर चिल्लाने नही दिया व फरि. के पति के आने पर छोड़कर  भाग गया। प्रकरण में थाना थांदला में अपराध क्रं0 334/17 धारा 354 भादवि. का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

शौच करने गई लडकी घर नही आई
        
झाबुआ । फरि. रामु उर्फ रामसिंह पिता गुमान परमार उम्र 45 साल निवासी भीमपुरी ने बताया कि मेरी लड़की पीनल उम्र 16 साल घर से शौच करने नाले पर गई थी जो वापस नही आयी शंका है कि संदेही आरोपी मुकेश पिता नाथु बारिया निवासी भीमपुरी ने बहला फुसलाकर अपहरण कर ले गया। प्रकरण मे थाना काकनवानी में अपराध क्रं. 240/17 धारा 363 भादवि में पंजीबद्व कर विवेचना में लिया गया।

यातायात पुलिस झाबुआ ने चलाया बिना नंबर के वाहनों के विरूद्ध चैकिंग अभियान

झाबुआ । पुलिस अधीक्षक जिला झाबुआ के मार्गदर्षन में यातायात पुलिस झाबुआ द्वारा शहर के मुख्य चैराहों विजय स्तंभ व छत्री चैक पर बिना नंबर के वाहनों की जाॅंच की। जिन वाहन चालकों के पास वाहन संबंधी पूर्ण दस्तावेज नहीं मिले, उनकी पुरी तस्दीक के पश्चात ही वाहन मालिक को सूपूर्द किया गया। इस दौरान 70 दो पहीया एवं 25 चार पहीया वाहनों की दस्तावेज संबंधी जाॅच की गई। जिसमें से 12 वाहनों के चालान बनाकर 3250/- रूपये समन शुल्क वसूल किया गया। यातायात अधिकारीयों ने बताया कि इय अभियान का मुख्य उद्देष्य जिलें में होने वाली वाहनों की चोरी पर रोक लगाना है। यह अभियान प्रभावी रूप से लगातार जारी रहेगा।
Share on Google Plus

About आर्यावर्त डेस्क

एक टिप्पणी भेजें
loading...