मधुबनी में पान खिलाने पर तुगलकी फरमान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 24 सितंबर 2012

मधुबनी में पान खिलाने पर तुगलकी फरमान


 बिहार के मधुबनी जिले में एक युवक को दो युवतियों को पान खिलाना बहुत महंगा पड़ गया। पंचायत ने न केवल तीनों के सिर के बाल काट दिए बल्कि उनसे भारी जुर्माना भी लगाया गया। यही नहीं जुर्माना न दिए जाने पर एक परिवार को गांव छोड़ देने का फरमान भी सुना दिया गया है। पुलिस के अनुसार मधेपुर प्रखंड की परवलपुर पंचायत के अंतर्गत नीमा गांव में शुक्रवार को मेला लगा था। मेले में परवलपुर के रहने वाले मोहम्मद मीनु की मुलाकात गांव की दो युवतियों से हो गई। मीनु ने दोनों को पान खिला दिया। इसकी जानकारी गावं वालों को हो गई। 

अगले ही दिन गांव में पंचायत बैठी जिसमें तीनों युवक-युवतियों को परिजनों के साथ हाजिर किया गया। पंचायत ने तीनों के सिर के बाल काटने और 21-21 हजार रुपये का जुर्माना देने का फरमान सुनाया। इस फरमान के बाद युवक और एक युवती के परिजनों ने तो 21-21 हजार रुपये जमा कर दिए लेकिन एक युवती के परिजन गरीब होने के कारण अर्थ दंड नहीं चुका सके। 

इसके बाद पंचायत ने उस युवती व उसके परिजनों को गांव से निकल जाने का तुगलकी फरमान सुना दिया। वह परिवार पंचायत के लोगों से गुहार लगाता रहा लेकिन किसी ने एक न सुनी। भेजा थाने को किसी तरह इस घटना की जानकारी मिल गई। भेजा थाना प्रभारी गोपाल प्रसाद सिंह ने सोमवार को बताया कि मामले में रविवार को प्राथमिकी दर्ज की गई। इसमें नौ लोगों को आरोपी बनाया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है जबकि सभी आरोपी फरार बताए जा रहे हैं। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

1 टिप्पणी:

HARSHVARDHAN ने कहा…

Bahut dukh hua yeh khabar padhkar!
MY BLOG:- smacharnews.blogspot.com

Loading...