सरकार महत्वपूर्ण विधेयक पर सर्वसम्मति बनाना चाहती : प्रधानमंत्री - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 5 दिसंबर 2013

सरकार महत्वपूर्ण विधेयक पर सर्वसम्मति बनाना चाहती : प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने गुरुवार को कहा कि सरकार का लक्ष्य वैधानिक महत्व वाले सभी मामलों पर सर्वसम्मति बनाना है। मनमोहन सिंह ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी द्वारा सांप्रदायिक हिंसा विधेयक  के विरोध किए जाने के संदर्भ में पूछे गए सवाल पर कहा कि हमारी कोशिश उन सभी मामलों पर सर्वसम्मति बनाने को होगी जो वैधानिक महत्व के हैं।

संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत से पहले उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि संसद का सत्र अल्प अवधि का है, और इसलिए सभी राजनीतिक पार्टियों के लिए यह अनिवार्य है कि वे दोनों सदनों की कार्यवाही को आसान और सरल बनाने की हर संभव कोशिश करें। उन्होंने कहा कि हम सदन की सभी पार्टियों से आवश्यक विधेयक को पारित करने में सहयोग की मांग करते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं: