जेपीएससी एवं चयन आयोग की परीक्षा व्यवस्था में सरकार सुधार लाये : सोरेन - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 28 जनवरी 2018

जेपीएससी एवं चयन आयोग की परीक्षा व्यवस्था में सरकार सुधार लाये : सोरेन

soren-demand-improvement-in-jpsc
दुमका 27 जनवरी, झारखंड विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन ने राज्य सरकार से झारखंड लोक सेवा आयोग (जेपीएससी) एवं कर्मचारी चयन सेवा आयोग समेत विभिन्न स्तर की परीक्षा पद्धति में अविलम्ब सुधार लाने के साथ ही इन परीक्षा को जिले में सम्पन्न कराने की मांग की है। झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के नेता श्री सोरेन ने आज यहां पत्रकारों से बातचीत में राज्य सरकार द्वारा ली जाने वाली जेपीएससी तथा कर्मचारी चयन सेवा आयोग सहित विश्वविद्यालय और स्कूल स्तर की विभिन्न परीक्षा व्यवस्था और पद्धति को दोषपूर्ण करार देते हुए सरकार से अविलम्ब इसमें सुधार लाने की मांग की। उन्होंने कहा कि वर्तमान व्यवस्था के तहत कचादार मुक्त प्रतियोगिता परीक्षा सम्पन्न कराने के नाम पर कड़ाके की ठंड और भीषण गर्मी में दूसरे जिले में प्रतियोगिता एवं अन्य परीक्षा आयोजित कर गरीब और निर्धन अभ्यार्थियों को परेशान करने के साथ उन पर आर्थिक बोझ डाला जा रहा है।  प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि नौकरी के लिए प्रतियोगिता परीक्षा के साथ स्नातक, इंटर एवं मैट्रिक स्तर तक की विभिन्न परीक्षाओं का आयोजन जिले के अंदर ही सुनिश्चित किया जाना चाहिए। उन्होंने राज्य सरकार द्वारा नौकरी के लिए कदाचार मुक्त प्रतियोगिता परीक्षा आयोजित किये जाने के दावे को खोखला करार दिया।  श्री सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार नौकरी के नाम पर निजी कम्पनियों का कथित नियुक्ति पत्र बांटकर राज्य के शिक्षित बेरोजगार युवक-युवतियों के साथ छलावा कर रही है । सरकार राज्य में पलायन नीति को एक बार फिर से बढ़ावा दे रही है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि राज्य सरकार द्वारा यदि कदाचार मुक्त परीक्षा सम्पन्न कराया जाता और आरक्षण नियमों का अक्षरशः पालन किया गया होता तो राज्य के विभिन्न विभागों में रिक्त पदों पर राज्य के अधिकांश बेरोजगारों युवकों की नियुक्ति होती। 

प्रतिपक्ष के नेता ने कहा कि पहले इस राज्य में सिंचाई के नाम पर लाखों परिवार उजाड़े गये और अब निजी कम्पनियों में नौकरी देने के नाम पर सरकार एक साजिश के तहत कम वेतन पर युवाओं को बाहर भेज रही है। उन्होंने कहा कि ऐसी नौकरियों की भी कोई गारंटी नहीं है। श्री सोरेन ने कहा कि प्रत्येक वर्ष की तरह आगामी दो फरवरी को दुमका में आयोजित झारखंड रैली में उनकी पार्टी सरकार के जनविरोधी क्रियाकलापों की पोल खोलेगी और नौकरी के नाम पर राज्य के युवक-युवतियों के साथ छलावा किये जाने का भंडाफोड़ किया जायेगा। इस मौके पर झामुमो के केन्द्रीय महासचिव विजय कुमार सिंह,पार्टी के जिलाध्यक्ष सुभाष सिंह,जिला सचिव शिव कुमार बास्की,पूर्व जिला पर्षद उपध्यक्ष अशोक कुमार,अजय झा उर्फ मिक्की,रवि यादव सहित कई प्रमुख कार्यकर्ता भी मौजूद थे। उन्होंने दो फरवरी को आयोजित झारखंड रैली को लेकर पार्टी स्तर पर की जा रही तैयारी के संबंध में व्यवस्था प्रभारियों से जानकारी ली और आवश्यक निर्देश दिये। इससे पूर्व प्रतिपक्ष के नेता ने यहां के विभिन्न क्षेत्रों का दौरान करने के बाद पिछले रविवार को दुमका-देवधर मार्ग पर तालझारी थाना क्षेत्र के जरदाहा गांव के निकट ट्रक एवं टाटा सूमों के बीच हुई सीधी टक्कर में मारे गये आठ बच्चों के घर जाकर उनके परिजनों मुलाकात कर उन्हें ढाढ़स बंधाया। उन्होंने इस दुर्घटना में मारे गये लोगों के आश्रित्रों को दस-दस लाख रुपये आर्थिक सहायता और परिवार के एक-एक सदस्य को नौकरी देने की मांग की।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...