प्रवासी कामगारों को दूसरी श्रेणी का नागिरक मानना स्वीकार नहीं: राहुल गांधी - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 15 जनवरी 2018

प्रवासी कामगारों को दूसरी श्रेणी का नागिरक मानना स्वीकार नहीं: राहुल गांधी

treating-india-s-migrant-workers-like-second-class-citizens-unacceptable-rahul
नयी दिल्ली, 14 जनवरी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड (ईसीआर) पासपोर्ट धारकों के लिए अलग रंग का पासपोर्ट जारी करने पर गहरी आपत्ति दर्ज करते हुए आज कहा कि प्रवासी भारतीय कामगारों के साथ दूसरी श्रेणी के नागरिकों वाला व्यवहार बर्दास्त नहीं किया जाएगा। श्री गांधी ने विदेश मंत्रालय के इस फैसले को लेकर भारतीय जनता पार्टी भी हमला किया और कहा कि यह निर्णय उसकी मानसिकता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि इससे साफ है कि यह पासपोर्ट अब व्यक्ति के स्थायी निवास की पहचान की तरह इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्वीट किया“भारत के प्रवासी कामगारों के साथ दूसरी श्रेणी के नागरिकों की तरह का बर्ताव पूरी तरह से अस्वीकार्य है। यह कार्रवाई भाजपा की भेदभावपूर्ण मानसिकता को दर्शाती है।”श्री गांधी ने यह टिप्पणी उन खबरों पर की है जिनमें कहा गया है कि विदेश मंत्रालय ने इमिग्रेशन चेक रिक्वायर्ड (ईसीआर) स्थिति वाले पासपोर्ट धारकों के लिए नारंगी रंग के कवर वाला पासपोर्ट तैयार किया है जबकि गैर-ईसीआर स्थिति वाले नागरिकों को पहले की तरह नीले रंग का पासपोर्ट यथावत बना रहेगा।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...