पीएनबी ने 1,300 करोड़ के घोटाले में गीतांजलि को ठहराया जिम्मेदार - Live Aaryaavart

Breaking

गुरुवार, 1 मार्च 2018

पीएनबी ने 1,300 करोड़ के घोटाले में गीतांजलि को ठहराया जिम्मेदार

geetanjali-responsibel-for-pnb-scam
मुंबई, 1 मार्च, पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने अपने बैंक में हुए 1,300 करोड़ रुपये के घोटाले का जिम्मेदार नीरव मोदी के मामा मेहुल चोकसी की कंपनी गीतांजलि जेम्स को ठहराया है। बैंक ने गुरुवार को जारी स्पष्टीकरण में यह बातें कही। एक अन्य स्पष्टीकरण में बैंक ने कहा कि उसने मोदी और उससे जुड़ी पांच कंपनियों के खातों की फॉरेंसिक लेखा परीक्षा के लिए बीडीओ इंडिया को नियुक्त किया है, जो एक अमेरिकी कंपनी है। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में पीएनबी ने कहा कि 1,300 करोड़ रुपये का नवीनतम घोटाला 2017 में 2 मार्च को किया गया था। इसके साथ ही कुल 12,600 करोड़ रुपये के घोटाले में गीतांजलि पर कुल 6,186.72 करोड़ रुपये का आरोप है, जबकि बाकी की रकम का घोटाला नीरव मोदी के समूह ने किया है। बैंक ने कहा, "एफएलसी (फॉरेन लेटर्स ऑफ क्रेडिट) जारी करना एक आकस्मिक दायित्व है और एफएलसी खोलनेवाले द्वारा इसका भुगतान नहीं करने पर इसे बैंक को करना होता है। हालांकि, हमारे पास किसी देयता को पूरा करने के लिए पर्याप्त संपत्ति/पूंजी है, जो कानून के तहत बाध्यकारी है।" बैंक ने दोहराया कि घोटाले की जानकारी नियामकों को दे दी गई है। बैंक ने कहा, "एक्सचेंज को यह बता दिया गया है कि घोटाले की रकम में वृद्धि हो सकती है।" फॉरेसिंक लेखा परीक्षा के लिए निविदा आमंत्रित करने पर बैंक ने कहा कि बीडीओ इंडिया एलएलपी की निविदा सफल रही और उनके साथ मोलभाव कर कंपनी को नीरव मोदी की पांच समूह कंपनियों के लेखापरीक्षा के लिए नियुक्त किया गया है। वहीं, एक अन्य नियामकीय फाइलिंग में पीएनबी ने गुरुवार को कहा कि वेंकट प्रभाकर ने बैंक के कार्यकारी अध्यक्ष का पदभार 1 मार्च 2018 से संभाल लिया है। बैंक ने यह भी कहा कि बैंक के कार्यकारी अध्यक्ष राम एस. संगापुरे ने 28 फरवरी को सेवानिवृत्ति के कारण अपना कार्यकाल पूरा कर लिया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...