महिलाओं के खिलाफ हिंसा के खिलाफ उठ खड़ा हुआ नागरिक समाज - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 16 अप्रैल 2018

महिलाओं के खिलाफ हिंसा के खिलाफ उठ खड़ा हुआ नागरिक समाज

http://www.uniindia.com/cms/gall_content/2018/4/2018_4$largeimg15_Apr_2018_220105133.jpg
नयी दिल्ली 15 अप्रैल, विद्यार्थियों ,वकीलों ,गैर सरकारी संगठनों समेत नागरिक समाज के लोगों ने कठुआ और उन्नाव में लड़कियों के साथ दुष्कर्म के दोषियों को सजा देेने की मांग तथा घृणा की राजनीति के खिलाफ आज यहां जबर्दस्त प्रदर्शन करके उत्तर प्रदेश की योगी सरकार आैर कठुआ कांड के अभियुक्तों के बचाव में आयोजित रैली में शामिल भाजपा के दाे मंत्रियों को तत्काल बर्खास्त करने के साथ ही पीड़िताओं के परिजनों को सुरक्षा देने की मांग की। ‘नाट इन माई नेम ’ के बैनर तले बड़ी संख्या में नागरिक समाज के लोगों ने यहां संसद मार्ग पर प्रदर्शन किया। इस मौके पर एक सभा का आयोजन किया जिसे विभिन्न वक्ताओं ने संबोधित किया। वक्ताओं ने कहा कि दुष्कर्म के आरोपियों को बचाने और उन्नाव में दुष्कर्म की शिकार पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत में मोदी सरकार की संलिप्तता को देखते हुए उसे तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए। कठुआ में बकरवाल समुदाय की आठ वर्ष की बच्ची के साथ दुष्कर्म के आरोपियों को बचाने के लिए हिंदू एकता मंच की रैली शामिल भाजपा के दो मंत्रियाें को भी तत्काल बर्खास्त करने की मांग की गयी । हिंदू एकता मंच के सभी पदाधिकारियों आैर कार्यकर्ताओं को तत्काल गिरफ्तार करने को कहा गया। कठुआ आैर उन्नाव की पीड़िताओं के परिजनों को तत्काल सुरक्षा मुहैया कराने के साथ ही उनके मामले की पैरवी के लिए सबसे योग्य अभियोजन टीम की सेवा मुहैया कराने की भी मांग की गयी।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...