बिहार : डीएसपी लॉ एण्ड ऑडर के आश्वासन के बाद जाम हटा - Live Aaryaavart

Breaking

सोमवार, 2 अप्रैल 2018

बिहार : डीएसपी लॉ एण्ड ऑडर के आश्वासन के बाद जाम हटा

  • पूर्व सरपंच शिवशंकर शर्मा और उनके परिवार के लोगों पर मार-मारकर अर्द्धमरा करने का आरोप

dsp-law-and-order-remove-zam
पटना. एससी/एसटी को आरक्षण के रूप में संवैधानिक अधिकार मिला है.एससी/एसटी एक्ट में संशोधन  सुप्रीम कोर्ट के जज उदय ललित ने किया है.उनका मानना है आरक्षण का दुरूपयोग हो रहा है. एससी/एसटी संशोधित एक्ट में एससी/एसटी द्वारा दायर मामले पर तत्काल गिरफ्तारी नहीं होगी.सीनियर अधिकारियों द्वारा मसले की सच्चाई व पड़ताल के बाद ही गिरफ्तारी संभव होगी.इसके खिलाफ भीम सेना व विपक्षी दलों ने भारत बंद का ऐलान किये थे.जो हिंसक बनकर सफल रहा. बाकी कसर एससी की मडर के बाद रोड जाम करने से हो गयी. मामला दीघा थानार्न्तगत हमीदपुर मोहल्ला   का है. किसी का जन्म दिनकर छोटू कुमार साहनी नामक 16 वर्षीय बालक घर आया था.दीघा ग्राम पंचायत के पूर्व  सरपंच शिवशंकर शर्मा का भतीजा व सुभाष शर्मा के पुत्र छोटू कुमार साहनी के घर आया और बुलाकर ले गया.घर से चलकर छोटू सरपंच के घर गया. घर पर छोटू गया तो मधुमक्खी की तरह सरपंच के परिवार के लोग टूट पड़ गये. जमकर धुनाई करने लगे.जब छोटू अर्द्धमरा हो गया तो उसे अपने मकान के सामने लाकर रख दिया. कुछ समय के बाद पूर्व सरपंच के परिवार के लोग प्रचारित करने लगे कि मेरे घर में आज (31 मार्च ) चोरी की नियत से चार चोर घुसे थे.तीन तो सीढ़ी के सहारे उतर गये.न पकड़ाने के डर से छोटू छत पर से कूद पड़ा.तब जाकर यह स्थिति बन गयी है. जो मुहल्ले के लोगों के गले नहीं उतर रहा है.इसे मनगढ़ंत करार दिया.मोहल्ले के लोगों का कहना है कि मार-मार अर्द्धमरा कर दिया है.  मां-बाप को खो देने वाले छोटू मौसी के घर पर रहता है. मौसी के परिवार पेशेवर मछली बेचने वाले हैं. इस परिस्थिति में छोटू को पाकर हैरान हो गये.  तबतक रात ढलकर 1 अप्रैल हो गया. तुरंत उठाकर छोटू को पीएमसीएच ले गये.यहां के सीएमओ ने परिवार को बतला दिया कि स्थिति गंभीर है. इस बीच इलाज के दरम्यान छोटू दम तोड़ दिया. पूर्व सरपंच शिवशंकर शर्मा और उनके परिवार के लोगों के द्वारा चोरी करने के आरोप में  जमकर धुनाई करने के उपरांत छोटू कुमार साहनी  की मौत होने के बाद पोस्टमार्टम कर शव को परिजनों को दिया गया. पोस्टमार्टम के बाद परिजन छोटू को घर हमीदपुर मोहल्ला लाये. इसके बाद लोकल लोगों ने कथित छोटू के  हत्यारों  को गिरफ्तार करने व पर्याप्त मुआवजा की मांग को लेकर पटना-दानापुर मुख्य मार्ग को कुर्जी पुल के पास जाम कर दिया. कई जगह लोगों को बांस में आग लगाकर विरोध जाहिर किये.इस बीच डीएसपी लॉ एण्ड ऑडर के आश्वासन के बाद जाम हटा.
एक टिप्पणी भेजें
Loading...