मोदी ने किया बूथ कार्यकर्ताओं, जिलाध्यक्षों से संवाद - Live Aaryaavart

Breaking

शनिवार, 7 अप्रैल 2018

मोदी ने किया बूथ कार्यकर्ताओं, जिलाध्यक्षों से संवाद

modi-interacts-with-booth-workers-and-district-heads
नयी दिल्ली 06 अप्रैल, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के 39वें स्थापना दिवस के मौके पर देश के पांच लोकसभा क्षेत्रों के हजारों बूथ कार्यकर्ताओं सहित 734 भाजपा जिलाध्यक्षों एवं उनकी सम्बंधित टीम के साथ ‘नरेन्द्र मोदी एप’ के माध्यम ( वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग) से आज शाम सीधा संवाद किया एवं विभिन्न विषयों पर चर्चा की। श्री मोदी ने नयी दिल्ली लोकसभा सीट से सांसद मीनाक्षी लेखी, उत्तर पूर्व दिल्ली के सांसद मनोज तिवारी, उत्तर-मध्य मुंबई की सांसद पूनम महाजन, हिमाचल प्रदेश की हमीरपुर के सांसद अनुराग ठाकुर और बिहार के सारण क्षेत्र के सांसद राजीव प्रताप रूड़ी के क्षेत्र के पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ मोदी एप के माध्यम से संवाद किया और केंद्र की लोक-कल्याणकारी योजनाओं को भी उनके साथ साझा किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संबोधित करने के साथ साथ उनके विचार भी सुने और प्रश्नों के उत्तर भी दिए। श्री मोदी ने भाजपा की यात्रा की चर्चा की और कहा कि शून्य से शिखर का यह सफर कार्यकर्ताओं की बदौलत संभव हुआ। उन्हाेंने कहा कि भाजपा की सरकार पूरी तरह से गरीबों के प्रति समर्पित है और उसे समाज के सभी वर्गों का समर्थन प्राप्त है। विभिन्न राज्यों में भाजपा की सरकारें इसी दिशा में काम कर रही हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा गरीब एवं वंचित वर्ग के हितों को लेकर विशेषरूप से संवेदनशील है। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस समय भाजपा को सबसे तीखे विरोध का सामना करना पड़ रहा है और यह हिंसक रूप भी धारण कर रहा है। उन्होंने कार्यकर्ताओं से संयमित रहने का अनुरोध किया और कहा कि यह हमारी कोई गलती नहीं है बल्कि हमारी ताकत से घबरा कर विपक्ष ऐसी हरकतों पर आमादा हो गया है। पार्टी सूत्रों के अनुसार श्री मोदी का मानना है कि संगठनात्मक एकजुटता को मजबूत करने के लिए टेक्नोलॉजी का उपयोग और बूथ-स्तर तक के कार्यकर्ताओं के साथ संवाद करना, प्रत्येक कार्यकर्ता के महत्त्व को भी बढ़ाएगा। पार्टी ने कहा कि उसे 11 करोड़ से अधिक सदस्यों के साथ विश्व का सबसे बड़ा राजनीतिक दल बनने पर गौरव है। भाजपा ने अपनी स्थापना से लेकर आज तक कार्यकर्ताओं के सम्मान की संस्कृति, आदर्शों और परम्पराओं को संवर्द्धित किया है जहां कार्यकर्ता कभी भी शीर्ष नेतृत्व के साथ अपने मन की बात साझा कर सकते हैं। पार्टी ने कहा कि प्रधानमंत्री से सीधे संवाद को लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह देखा गया।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...