बिहार : छात्र हड़ताल का गहरा असर, - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 अप्रैल 2018

बिहार : छात्र हड़ताल का गहरा असर,

  • आक्रोशित छात्रों ने पटना विश्वविद्यालय गेटतोड. कर्मचारियों शिक्षकों को बाहर निकाले .मगध विश्ववविद्यालय के कॉलेज में  भी प्रदर्शन व बंदी, अरविंद महिला में  प्रचार्या को बंधक बनाया!

student-strike-patna
पटना 13 अप्रैल 2018, पटना विश्वविद्यालय में  9 अप्रैल को बर्बर लाठीचार्ज, सेना के अफसरों को कुलसचिव  बनाने, रिक्त स्थानों पर शिक्षक कर्मियों कि बहाली , एकेडमिक कैलेंडर लागू करने एंव परीक्षाफल कि गड़बड़ी को दूर करने की  मांग करने को लेकर बुलाये गए छात्रहड़ताल का पटना विश्वविद्यालय पर गहरा असर रहा. वहीं मगध विश्वविद्यालय के अरविन्द महिला कॉलेज में  छात्रों ने प्रचार्या को बंधक बना लिया. बी.डी कॉलेज एंव कॉलेज ऑफ कॉमर्स आर्ट एंव सायंस को भी बंद करवाया। एआईएसएफ,आइसा, जनअधिकार छात्र परिषद, छात्रजदयू, एन.एस.यू आई, छात्र राकंपा, एस.एफ.आई, ए.आई.डी.एस.ओ.,पीडीएसएफ, दिशा, के द्वारा आहुत राज्यव्यापी छात्र हड़ताल का गहरा असर रहा. प्रदर्शनकारी छात्रों ने परीक्षाओं को बंद से बाहर रखा था। आक्रोशित छात्रों ने पटना विश्वविद्यालय मुख्यालय गेट पर लगी जंजीर को तोड़ दिया और छात्रों के समर्थन में  कर्मचारी बाहर निकल गए और मुख्यालय में  चल रहे कामकाज को ठप्प किया.प्रदर्शनकारी छात्र लॉ कॉलेज से जूलूस की  शक्ल में  बाहर निकाले. सॉयंस कॉलेज , पटना कॉलेज, दरभंगा हाउस, वाणिज्य माहाविद्यालय में  चल रहे कक्षाओं को बंद करादिया.वहीं पटना ट्रेनिंग कॉलेज , मगध महिला कॉलेज व पटना आर्ट कॉलेज में  भी प्रदर्शन हुआ। मगध विश्वविद्यालय में  स्नातक द्वितीय खण्ड के परीक्षा में  व्यापक गड़बड़ी के खिलाफ अरविन्द महिला कॉलेज प्रचार्या पूनम चौधरी को बंधक बनाया तथा अरविन्द महिला गेट पर छात्रहड़ताल के समर्थन में  नारा लगाये. प्रचार्या ने 17 को छात्रों के  मसले को लेकर कुलपति समक्ष रखने का भरोसा दिया।

एआईएसएफ राज्यसचिव सुशील कुमार, आइसा राज्यअध्यक्ष  मोख्तार, पटना विश्वविद्यालय छात्र संघ संयुक्त सचिव आजाद चाँद, छात्र जदयू के प्रदेश उपाअध्यक्ष शादाब  आलम, एन.एस यू आई के प्रदेश उपाध्यक्ष प्रभात चंद्रवंशी, एस.एफ.आई के प्रदेश अध्यक्ष दीपक वर्मा, जनअधिकार  छात्र परिषद के पी यू अध्यक्ष नीरज कुमार, एआईडीएसओ के निकोलाई शर्मा ने कहा कि 9 अप्रैल के बर्बर पुलिस दमन के खिलाफ छात्रों का गहरा आक्रोश है। फर्जी अध्यक्ष व उपाध्यक्ष को तमाम नियम कानूनों को ताक पर रखकर शपथ दिलवाया. पीयू  कुलपति यथाशीघ्र हाईकोर्ट के निर्देशानुसार अध्यक्ष व उपाध्यक्ष पर कार्यवायी करे अन्यथा उग्र प्रदर्शन जारी रहेगा। पुरे मसले में  राज्य भवन हस्तक्षेप करे शीघ्र कार्यवायी न होने पर आक्रोश और बढ़ेगा. अरविन्द महिला कॉलेज के प्रदर्शन का नेतृत्व ए.आई.एस.एफ के राज्य उपाध्यक्ष सुशील उमाराज  व अरविन्द महिला कॉलेज की  नेत्री  सोनी कुमारी ने किया. वहीं कॉलेज ऑफ कॉमर्स में ए.आई.एस.एफ के राज्यसहसचिव रंजीत पंडित, राहुल कुमार, मीर सैफ, जनअधिकार  छात्र परिषद के विकास बॉक्सर, छात्र राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष अनुराग कुमार ने किया, वहीं बी.डी कॉलेज को भी बंद करवाया.मगध महिला में  ए.आई.एस.एफ की  नेत्री  भाग्यभारती  , छात्र जदयू के संगीता शर्मा ने नेतृत्व किया। प्रदर्शन में  सुभाष पासवान, अभिषेक राज, रामजी यादव, शुभम फैज अख्तर, मनीष यादव, अंबूज पटेल, आकाश, मिन्हाज , कर्मवीर, आर्यन, सन्नी, राजहिमांशु, दीपक, भूषण सहित सैंकड़ों छात्र- छात्राएं  मौजूद थे।
एक टिप्पणी भेजें