लालू रिम्स पहुंचे, वापस जेल भेजे जाने की संभावना - Live Aaryaavart

Breaking

मंगलवार, 1 मई 2018

लालू रिम्स पहुंचे, वापस जेल भेजे जाने की संभावना

lalu-reaches-rims-ranchi
रांची 01 मई, झारखंड में चारा घोटाले मामले में सजायाफ्ता राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव आज सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच राजधानी एक्सप्रेस से रांची पहुंचे। श्री यादव व्हील चेयर से रांची पहुंचे, जहां से सीधे उन्हें राजेन्द्र आयुर्विज्ञान संस्थान (रिम्स) ले जाया गया। रिम्स में उनका इलाज जारी है। उनके इलाज के लिए डॉक्टरों की एक टीम बनायी गयी है। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में फिट करार दिये गये लालू प्रसाद यादव के स्वास्थ्य को लेकर रांची स्थित होटवार जेल प्रशासन भी रिम्स से संपर्क में है। ऐसी संभावना व्यक्त की जा रही है कि रिम्स में मेडिकल बोर्ड द्वारा उन्हें फिट घोषित किये जाने के बाद वापस रांची स्थित बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा भेजा जा सकता है। राजद अध्यक्ष श्री यादव के रांची पहुंचने की सूचना मिलने पर रिम्स प्रबंधन द्वारा एंबुलेंस की व्यवस्था रांची स्टेशन पर की गयी थी, इस एंबुलेंस में प्रतिनियुक्त डॉ0 लाल मांझी ने उनका रक्त चाप (बीपी) और मधुमेह की जांच की। उन्होंने लालू प्रसाद का बीपी लेबल 130/90 और शुगर लेबल को भी ठीक बताया है।

इधर, नई दिल्ली में एम्स से डिस्चार्ज होने के वक्त राजद कार्यकर्त्ताओं के हंगामे के मद्देनजर रांची पुलिस की ओर से स्टेशन से लेकर रिम्स परिसर तक सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये गये। राजधानी एक्सप्रेस के रांची पहुंचने के पहले ही पूरे स्टेशन परिसर को पुलिस छावनी के रुप में तब्दील कर दिया गया था। श्री यादव से मिलने के लिए बड़ी संख्या में पार्टी के नेता और कार्यकर्त्ता स्टेशन पहुंचे थे, लेकिन बैरिकेटिंग के बीच श्री यादव को किसी से मिलने नहीं दिया गया।  ट्रेन से व्हीलचेयर पर श्री यादव नीचे उतरे, उनके साथ विधायक भोला प्रसाद यादव भी दिल्ली से रांची पहुंचे थे, इसके अलावा पार्टी के वरिष्ठ नेता जयप्रकाश नारायण यादव समेत अन्य नेता भी स्टेशन पहुंचे थे। कड़ी सुरक्षा के बीच श्री यादव को स्टेशन से बाहर निकाला गया और सीधे रिम्स ले जाया गया।  रिम्स में श्री यादव की भर्त्ती को लेकर यहां भी कड़ी सुरक्षा व्यवस्था नजर आयी। मीडिया के साथ भी सुरक्षा बलों द्वारा सख्ती की गयी और बिना पहचान पत्र के किसी को भी कार्डियोलॉजी विभाग में अंदर जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है। रिम्स में कई जगहों पर सीसीटीवी कैमरे लगाये गये है। पुलिस उपाधीक्षक (सदर) विकासचंद्र श्रीवास्तव खुद सुरक्षा की पूरी मॉनिटरिंग कर रहे थे।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...