बिहार : लगातार चौथे दिन ए.आई.एस.एफ इंटरमीडिएट के छात्रों के समर्थन में उतरा - Live Aaryaavart

Breaking

मंगलवार, 12 जून 2018

बिहार : लगातार चौथे दिन ए.आई.एस.एफ इंटरमीडिएट के छात्रों के समर्थन में उतरा

AISF ,मुख्यमंत्री का पुतला जला कर छात्रों पर हुए लाठी चार्ज और गिरफ्तारी का किया विरोध, कल राज्य के सभी जिला मुख्यालयों पर किया उग्र प्रदर्शन का ऐलान.
aisf-in-intermediate-student-support-bihar
पटना (आर्यावर्त डेस्क) 12 जून,  आज चौथे दिन भी ए.आई.एस.एफ के बैनर तले छात्रों का विरोधी जारी रहा.आज इंटरमीडियट काउंसिल पर छात्रों ने कल छात्रों कि हुई गिरफ्तारी के विरोध में मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया और मांग किया की  गिरफ्तार छात्रों को अविलंब रिहा  किया जाये.साथ हीं साथ सभी छात्रों के काॅपी को बेबसाईट पर अपलोड करे और आनंद किशोर छात्रों के प्रतिनिधि मंडल से अविलंब मिले.पुतला दहन के बाद आयोजित सभा को संबोधित करते हुए ए.आई.एस.एफ के जिला सचिव जन्मेजय कुमार ने कहा कि निर्दोष छात्रों कि गिरफ्तारी हम नहीं सहेंगे.हम मांग करते हैं कि यदि बोर्ड और बोर्ड अध्यक्ष पाक साफ है तो सभी काॅपियों को अविलंब बेवसाईट पर स्कैन कर अपलोड करे इससे सबकुछ साफ हो जायेगा.जिला अध्यक्ष अक्षय कुमार ने कहा कि सरकार और शिक्षा मंत्रालय के पास अब भी वक्त है चेत जाये नहीं तो वह दिन दूर नहीं जब छात्र सरकार को गिराने का काम करेंगे। जिला सह सचिव -पटना विश्वविद्यालय के काउंसिलर अभिषेक राज ने कहा कि छात्रों के भविष्य से खिलवाड. किया जा रहा है बिहार की  शिक्षा व्यवस्था लगातार बर्बाद किया जा रहा है. एक तरफ बिहार बोर्ड के छात्रों का बोझ बिहार बोर्ड संभाल नहीं रहा है दूसरी तरफ बिहार के विश्वविद्यालयों के उपर अतिरिक्त बोझ दिया जा रहा है. जिस बोर्ड को यह तक नहीं पता कि स्नातक दो वर्ष का होता या तीन वर्ष का उसे बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में  स्नातक में  एडमिशन का अतिरिक्त बोझ दिया जा रहा है. कोषाअध्यक्ष विकास यादव ने कहा छात्रों को अविलंब सरकार रिहा करे नहीं तो कल से हम पुरे राज्य भर में  विरोध प्रदर्शन करेंगे। सार्वजनिक सम्पत्ति के किसी भी तरह का होने वाले नुकसान के लिए राज्य सरकार और शिक्षा मंत्रालय जिम्मेवार होगा।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...