मधुबनी : अफवाह फैलानेवालों पर जिला पदाधिकारी ने दिये कार्रवाई करने के निदेश - Live Aaryaavart (लाईव आर्यावर्त)

Breaking

विजयी विश्व तिरंगा प्यारा , झंडा ऊँचा रहे हमारा। देश की आज़ादी के 75 वर्ष पूरे होने पर सभी देशवासियों को अनेकानेक शुभकामनाएं व बधाई। 'लाइव आर्यावर्त' परिवार आज़ादी के उन तमाम वीर शहीदों और सेनानियों को कृतज्ञता पूर्ण श्रद्धासुमन अर्पित करते हुए नमन करता है। आइए , मिल कर एक समृद्ध भारत के निर्माण में अपनी भूमिका निभाएं। भारत माता की जय। जय हिन्द।

मंगलवार, 5 जून 2018

मधुबनी : अफवाह फैलानेवालों पर जिला पदाधिकारी ने दिये कार्रवाई करने के निदेश

  • असामाजिक तत्वों की पहचान कर करें कार्रवाई

dm-madhubani-order-to-take-action-against-rumors
मधुबनी (आर्यावर्त डेस्क) 05 जून, जिला पदाधिकारी,मधुबनी के द्वारा आये दिन विभिन्न समाचार पत्रों एवं अन्य प्रिंट एवं इलेक्ट्रोनिक मिडिया के माध्यम से छपी/प्रसारित खबरों से कुछ असमाजिक तत्वों द्वारा मारपीट, चोरी एवं गैंगो के बाहर से आने की गलत अफवाह फैलाकर समाज में विद्वेश फैलाने/सामाजिक सौहार्द को बिगाड़ने एवं साम्प्रदायिक सद्भावना को ठेस पहुॅचाने वालों पर आवश्यक कार्रवाई करने के लिए सभी अनुमंडल पदाधिकारी,सभी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी एवं सभी अंचल अधिकारी,सभी पुलिस निरीक्षक एवं सभी थानाध्यक्षों को निदेश दिया गया है। जिला पदाधिकारी द्वारा सभी अनुमंडल पदाधिकारी/अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी को माइकिंग के माध्यम से गलत अफवाहों का खंडन त्वरित गति से करने एवं संयुक्त रूप से आसूचना का संग्रह कर अफवाह फैलानेवाले असमाजिक तत्वों की पहचान कर उनपर विधि-सम्मत कार्रवाई करने का निदेश दिया गया। उन्होने कहा कि जैसे ही किसी प्रकार की घटना की सूचना मिलती है, उच्चाधिकारी को सूचित करते हुए संयुक्त रूप से घटना स्थल पर पहुंच कर सतर्कतामूलक/निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित करें एवं वापसी के उपरान्त घटना का संयुक्त विस्तृत प्रतिवेदन अधोहस्ताक्षरी को समर्पित करेंगे। सभी अनुमंडल पदाधिकारी/अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अगले 15 दिनों तक प्रति दिन संध्या समय/रात्रि में अति संवेदनशील क्षेत्रों का भ्रमण कर वापसी में प्रतिवेदन समर्पित करेंगे। सभी अंचल अधिकारी/पुलिस निरीक्षक/थानाध्यक्ष संयुक्त रूप से समीक्षा कर क्षेत्रीय कर्मियों से आसूचना का संग्रह कर असमाजिक तत्वों की पहचान करेंगें, उनके विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करेंगें/कार्रवाई हेतु प्रतिवेदन समर्पित करेंगे एवं अगले 15 दिनों तक प्रतिदिन संध्या/रात्रि में अलग संयुक्त टीम बनाकर अति संवेदनशील पंचायतों/गाॅवों/स्थलों का भ्रमण करेंगे तथा वापसी में प्रतिवेदन समर्पित करेंगे ताकि असमाजिक तत्वों को हतोत्साहित किया जा सके। सभी अनुमंडल पदाधिकारी/अनुमंडल पुलिस पदाधिकार/अंचल अधिकारी/पुलिस निरीक्षक/थानाध्यक्ष भूमि विवादों का निराकरण त्वरित गति से करेंगे एवं छोटी-छोटी घटनाओं को भी पूरी गंभीरता से लेंगे, उसको नजरअंदाज नहीं करेंगें। इसके साथ ही गांवों में नियमित रूप से चुस्ती/मुस्तैदी से रात्रि गश्ती सुनिश्चित करायेंगे एवं कम्यूनिटी पुलिसिंग की व्यवस्था शीघ्र प्रारम्भ करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: