बिहार : एकता परिषद की महत्वपूर्ण बैठक में शिविर नायकों का चयन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 जून 2018

बिहार : एकता परिषद की महत्वपूर्ण बैठक में शिविर नायकों का चयन

  • बिहार के शिविर नायक जाएंगे गुर सीखने मध्य प्रदेश  

ekta-parishad-meeting-patna
पटना. (आर्यावर्त डेस्क) एकता परिषद की महत्वपूर्ण बैठक प्रगति भवन में की गयी.यह बैठक एकता परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रदीप प्रियदर्शी की अध्यक्षता में की गयी. यहां पर सर्वसम्मति से  सहरसा जिले के कौशल कुमार, जमुई से हजारी प्रसाद वर्मा, भोजपुर के दुलारचंद राम,गया से अनिल पासवान और मुजफ्फरपुर से राम लखेन्द्र प्रसाद को शिविर नायक बनाया गया.  एकता परिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रदीप प्रियदर्शी ने कहा कि जनांदोलन 2018 का महानायक पी.व्ही.राजगोपाल जी हैं जो गांधीवादी चिंतक और एकता परिषद के संस्थापक हैं.मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में जौरा.यहां पर महात्मा गांधी सेवा आश्रम, जौरा में दो दिवसीय नेतृत्व प्रशिक्षण शिविर 18 और 19 जून को होगा.महानायक पी. व्ही. राजगोपाल जी शिविर नायकों को  नेतृत्व का गुर सीखाएंगे.देश और प्रदेश के लगभग 30 शिविर नायक भाग लेंगे. बता दें कि बिहार से 5 हजार की संख्या में जनांदोलन 2018 में शामिल होंगे.एक हजार की संख्या में एक शिविर नायक नियुक्त है. सत्याग्रह पदयात्रा  2 अक्टूबर 2018 से पलवल (हरियाणा) से शुरू होगा. जनांदोलन 2018 के मुख्य मांग राष्ट्रीय भूमि सुधार नीति बनाने के साथ  11 सूत्री मांग है.इस बैठक में मंजू डुंगडुंग, सिंधु सिन्हा,श्याम नंदन सिंह आदि उपस्थित थे.
एक टिप्पणी भेजें