झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जून - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 6 जून 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 05 जून

भाजपा की प्रचंड विजय के लिये सभी कार्यकर्ताओं को जुटना होगा, प्रदेष एवं केन्द्र सरकार की योजनाओं की घर-घर तक जानकारी देवे

jhabua news
झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी ही देश की एक मात्र ऐसा राजनैतिक पार्टी है  जिसने सर्व जन हिताय सर्व जन सुखाय की भावना से देश के हर वर्ग के उत्थान के साथ ही देश के समग्र विकास एवं उत्थान के लिये केन्द्र में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में तथा प्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान के नेतृत्व में काम किया है और आगे भी काम करती रहेगी । इस आदिवासी अंचल में भारतीय जनता पार्टी ने हर क्षेत्र में लोगों को लाभान्वित करने के लिये काम किया है, कृषि का क्षेत्र हो या शिक्षा का क्षेत्र, छात्र छात्राओं के हितार्थ कई योजनायें लागू करके शिक्षा के स्तर को बढाया है । स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में   गा्रम गा्रम तक सुलभ स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराई है । किसानों के हित में कई योजनायें लागू करके खेती को लाभ का प्रकल्प बनाया है। कांग्रेस सरकार के राज में बिजली, पानी,सडक आदि की जो समस्यायें स्थाई रूप  से  विद्यमान थी उसे दूर करके आज पूरे जिले में सडकों का जाल बिछा दिया गया, बिजली चैबीसों घंटे मिलने से किसानों को सुविधा हुई है। शून्य प्रतिशत की दर पर किसानों को कर्जा मिल रहा है। जबकि कांग्रेस के राज मे 18 प्रतिशत व्याज देना पडता था । भाजपा के प्रत्येक कार्यकर्ता को गाव गांव फलिये फलिये तक भाजपा की कल्याणकारी जन हितैषी योजनाओं की जानकारी पहूंचा कर कांग्रेस द्वारा किये जारहे दुष्प्रचार का जवाब देना होगा । प्रदेश में पहली बार असंगठित कामगारों के लिये जो योजना लागू हुई है जिससे अभी तक 3 लाख 66 हजार असंगठित मजदूरों को लाभान्वित किया गया है। आगामी चुनाव में प्रत्येक कार्यकर्ता को बुथ स्तर तक योजनाबद्ध तरिके से काम करके भाजपा को प्रचण्ड विजय दिलाने के लिये काम करना होगा । उक्त विचार जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर सेठिया ने मंगलवार को जिला भाजपा कार्यालय में झाबुआ गा्रमीण भाजपा मंडल की कामकाजी बैठक में पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कही । इस अवसर पर गा्रमीण मंडल प्रभारी विश्वास सोनी ने भी अपने उदबोधन में कहा कि भाजपा में पद का नही कार्यकर्ता का सबसे अधिक महत्व होता है । कार्यकर्ता के कारण ही केन्द्र से लेकर विधानसभा क्षेत्र तक भाजपा की प्रचंड जीत दर्ज हुई है । और हमे आगामी चुनावों को देखते हुए इसी तरह  मेहनत करना होगी तथा फिर से प्रदेश में शिवराजसिंह चैहान के नेतृत्व में सरकार बनाना है। कामकाजी बैठक में श्री सेठिया एवं श्री सोनी ने मंडल के कार्यो की समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश भी दिये । इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष हरू भूरिया ने कहा कि पूरे मंडल में गा्रमीण जनता में भाजपा के कार्यो का सकारात्मक संदेश गया है और हम एकजूट होकर इस बार भी चुनाव मे जीत दर्ज करावेगें । बैठक मे मंडी उपाध्यक्ष बहादूर हटिला, भाजयुमो के जिला उपाध्यक्ष मांगीलाल भूरिया, मंडल महामंत्री दिनेश मेवाड, धन्ना डामोर, मेजिया कटारा, लाला गुण्डिया, किशोर खडिया, सुरभान गुण्डिया, शरमा भूरिया सहित बडी संख्या में भाजपा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

जजा मोर्चा प्रदेषाध्यक्ष गजेन्द्रसिंह पटेल की प्रेस वार्ता आज, प्रदेष एवं केन्द्र सरकार की किसान हितैशी योजनाओं की देगें जानकारी

झाबुआ । भारतीय जनता पार्टी  अनुसुचित जन जाति मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष गजेन्द्रसिंह पटेल द्वारा प्रदेष में किसान आन्दोलन को लेकर  भारतीय जनता पार्टी की रीति-नीति एवं प्रदेष एवं केन्द्र सरकार द्वारा किसान हितैशी कार्यो एवं योजनाओं आदि को लेकर आज 6 जून बुधवार को स्थानीय सर्कीट हाउस पर दोपहर 3 बजे से प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया है । जिसमें श्री पटेल द्वारा विस्तार से भाजपा सरकार के पक्ष को प्रस्तुत किया जावेगा । इस अवसर पर जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर सेठिया, प्रदेष भाजपा कार्यसमिति के सदस्य षैलेश दुबे, अजजा मोर्चे के जिला अध्यक्ष षैलेन्द्र सोलंकी, विधायक षांतिलाल बिलवाल विषेश रूप से उपस्थित रहेगें । भारतीय जनता पार्टी के मीडिया प्रभारी राजेन्द्रकुमार सोनी ने नगर की समस्त इलेक्ट्रानिक मीडिया एवं प्रिंट मीडिया के जिला ब्यूरों प्रमुख, संवाददाताओं, कैमरामेनो को उक्त प्रेस वार्ता में सहभागी होने का अनुरोध किया है।

वार्ड क्र. 1 में उद्योग विभाग के पीछे मूलभूत सुविधाओं से वंचित रहवासियों ने कलेक्टर को जनसुनवाई मंे दिया आवेदन
  • कई बार आवेदन देने के बाद भी षिकायत का निराकरण नहीं होने पर पार्षद समस्याओं के निराकरण की पहल करेंगे

jhabua news
झाबुआ। शहर के वार्ड क्र. 1 में काॅलेज मार्ग पर उद्योग विभाग के पीछे रहने वाले रहवासी इन दिनों बिजली, क्षतिग्रस्त नाली एवं कच्चे रोड़ के चलते अत्यधिक परेषान है। रहवासियों का कहना है कि उनके द्वारा कई बार जनसुनवाई में आवेदन देने के बाद भी ना तो जिला प्रषासन और ना ही नगरपालिका द्वारा ध्यान दिए जाने से वे इस मंगलवार को पुनः जनसुनवाई में आवेदन देने पहुंचे। वार्ड पार्षद से मिलने पर उन्होंने समस्या के निराकरण का उचित आष्वासन दिया है। उद्योग विभाग के पीछे रहने वाले रहवासी कसनाबाई मेड़ा, रमसु रावत, पुष्पलता दास ने बताया कि उनके द्वारा वार्ड क्र. 1 में उद्य़ोग विभाग के कच्चे रोड़ को लेकर अब तक तत्कालीन कलेक्टर श्रीमती जयश्री कियावत एवं श्रीमती अरूणा गुप्ता को कई बार जनसुनवाई में आवेदन देने के साथ ही वर्तमान कलेक्टर आषीष सक्सेना को दो-तीन बार जनसुनवाई में आवेदन दिया गया, लेकिन उक्त मार्ग में पक्का रोड़ नहीं बन रहा है। कच्चे रोड़ के कारण रहवासियों को पैदल चलने के साथ दो पहिया वाहन चालकों को काफी परेषानियों का सामना करना पड़ता है। बारिष में समस्या विकलराल रूप ले लेती है।

नपा अध्यक्ष को भी षिकायत की
रहवासियांे ने बताया कि उनके द्वारा इसकी षिकायत नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नू डोडियार को करने के साथ ही पूर्व पार्षद को भी की थी, लेकिन समस्या का कोई हल नहीं हो पाया। इस मंगलवार को उन्होंने जनसुनवाई ले रहीं जिला पंचायत सीईओ श्रीमती जुमना भिड़े को अपनी षिकायत दर्ज करवाई।

पार्षद ने कार्रवाई का दिया उचित आष्वासन
इस संबंध में इस क्षेत्र मंे रहने वाले रहवासी जब वार्ड पार्षद पपीष पानेरी से मिले तो उन्होंने बताया कि उनके द्वारा नगपालिका से इस मार्ग में नवीन नाली के लिए स्वीकृति ले ली है, जिसका कार्य अतिषीघ्र आरंभ हो जाएगा। इसके साथ ही बिजली पोल लगाने हेतु नपा के इंजिनियर से उनकी चर्चा हो चुकी है। मार्ग के रहवासियों की मुख्य समस्या कच्ची सड़क की है, तो इसके लिए भी वे आगामी दिनों में नगरपालिका में होने वाली बैठक में प्रस्ताव रखकर कार्य के लिए स्वीकृति के लिए प्रयास करेंगे। यदि सड़क निर्माण कार्य के लिए स्वीकृति मिल जाती है, तो कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।

जनसुनवाई में सुनी गई समस्याएॅ

jhabua news
झाबुआ । आज 05 जून को शासन के निर्देशानुसार जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनसुनवाई में आवेदन कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे एवं विभागीय अधिकारियों ने लिये। आवेदन प्राप्त कर संबंधित कार्यालय प्रमुखो को निराकरण के लिये आवश्यक निर्देश दिये गये। आवेदनो को आॅनलाईन साफ्टवेयर में दर्ज किया गया। ग्राम देवगढ तहसील थांदला के ग्रामीणो ने नाले पर हो रहे तालाब निर्माण कार्य पर रोक लगवाने के लिए आवेदन दिया। वेलसिंह पिता मंगू निवासी बोचका तहसील रामा ने कपिलधारा कूप निर्माण की षेष राषि का भुगतान करवाने के लिए आवेदन दिया। इन्दरसिंह पिता हिटू निवासी सदावा ने काबिज वन भूमि का पट्टा प्रदाय करवाने के लिए आवेदन दिया। ग्राम पिपलिया के बिल्ली फलिया एवं ग्राम बलोला के डाबर फलिया के ग्रामीणों ने पेयजल व्यवस्था के लिए आवेदन दिया। श्रीमती चंदू पति लालजी निवासी धामंदा ने सेल्समैन द्वारा अनाज नही दिये जाने की षिकायत की एवं उचित मूल्य की दुकान से अनाज दिलवाने के लिए आवेदन दिया।

झाबुआ जिले के 10 विद्यार्थियों का एन.ई.ई.टी. परीक्षा मे हुआ चयन
       
झाबुआ  । झाबुआ जिले के 10 विद्यार्थियों का चयन एन.ई.ई.टी. परीक्षा मे हुआ है। जिनको मेरिट क्रम मे एमबीबीएस, बी.डी.एस, बी.एच.एम.एस., बी.ए.एम.एस. पाठ्यक्रम मे डाॅक्टर की पढाई के लिए प्रवेष दिया जाएगा।

इनका हुआ चयन
उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय झाबुआ से प्रियंका गाडरिया एवं राहुल अजनार, कन्या उ.मा.वि. झाबुआ से रविना बारिया, कन्या उ.मा.विद्यालय पिटोल से गीता बवेरिया एवं रेणुका गुण्डिया, कन्या उ.मा.विद्यालय मेघनगर से नम्रता हरवाल, उ.मा.विद्यालय नौगांवा से सुनीता देवल एवं दिनेष मावी, उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय पेटलावद से सलोनी डामर एवं कन्या उच्चतर मा. विद्यालय रामा से लीला भूरिया, बा.उ.मा.वि. पारा से राहुल खपेड, उत्कृष्ट उ.मा.विद्यालय रानापुर से कमलेष डावर, उ.मा.वि. कुन्दनपुर से वर्षा परमार का चयन डाॅक्टर बनने के लिए हुआ है। कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, सहायक आयुक्त श्री गणेष भाबर ने सफलता प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को जिले, विभाग एवं विद्यालय का नाम गौरवान्वित करने पर बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की हैं।

जिले के प्रभारी मंत्री श्री सारंग चार दिवसीय भ्रमण पर थांदला, पेटलावद एवं झाबुआ में करेंगे रात्रि विश्राम
जिला अंत्योदय समिति की बैठक लेंगे
       
झाबुआ । श्री विष्वास सारंग राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार सहकारिता, भोपाल गैस त्रासदी राहत तथा पुनर्वास, पंचायत एवं ग्रामीण विकास मध्यप्रदेष षासन एवं झाबुआ जिले के प्रभारी मंत्री जिले में 6 जून से 9 जून तक चार दिवसीय भ्रमण पर रहेंगे। प्रस्तावित कार्यक्रम के अनुसार प्रभारी मंत्री श्री सारंग 6 जून को अपरान्ह 4 बजे भोपाल से प्रस्थान कर रात्रि 9 बजे थांदला पहुंचकर रात्रि विश्राम करेंगे। अगले दिन 7 जून को ग्राम मदरानी मे तेंदूपत्ता संग्राहको के सम्मेलन मे प्रातः 11.30 बजे आमजन को सम्बोधित करेंगे। उसके बाद अपरान्ह 2 बजे ग्राम उमरादरा में जन कल्याण विकास यात्रा मे भाग लेंगे। उसके बाद पेटलावद पहुंचकर रात्रि विश्राम करेंगे। अगले दिन 8 जून को प्रातः 11 बजे से प्रधानमंत्री आवास का अवलोकन करने के बाद आजीविका भवन का षिलान्यास करेंगे एवं बरवेट रोड पेटलावद मे महिला सम्मेलन मे सहभागिता करेंगे। उसके बाद सिंगेष्वर मे सामुदायिक भवन का भूमिपूजन करेंगे। अपरान्ह 3 बजे रामा मे उचित मूल्य की दुकान का षुभारंभ करने के बाद ग्राम पंचायत लोहारिया एवं बलवन मे उचित मूल्य की दुकान का षुभारंभ करेंगे। उसके बाद झाबुआ मुख्यालय पहुंचकर रात्रि विश्राम करेगे। षनिवार 9 जून को प्रातः 10 बजे कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष मे जिला स्तरीय अंत्योदय समिति की बैठक लंेगे एवं मुख्यमंत्री मजदूर कल्याण कार्यषाला मे सहभागिता करने के बाद भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।

लहसुन प्याज खरीदी का भुगतान आरटीजीएस एवं नेफ्ट से होगा किसान के बैंक खाते मे
       
झाबुआ । भावांतर योजनांतर्गत लहसुन एवं प्याज के विक्रय के लिए पंजीकृत किसानो द्वारा क्रेता व्यापारी को विक्रय किये गये लहसुन/प्याज के विक्रय मूल्य का 50 प्रतिषत या रुपये 10 हजार जो भी कम हो का क्रेता व्यापारी द्वारा आरटीजीएस अथवा एनईएफटी के माध्यम से किसान के बैंक खाते मे भुगतान किया जाना अनिवार्य है। उक्त निर्देष राज्य षासन द्वारा जारी कर मण्डी संचालको को पालन सुनिष्चित करने के लिए निर्देष दिये गये है। जिले मे पालन सुनिष्चित करने के लिए कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने संबंधित अधिकारियो को निर्देषित किया हैं।

प्रधानमंत्री ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रधानंत्री आवास, योजना के हितग्राहियो से किया संवाद
       
झाबुआ । प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने आज वीडियो काॅन्फ्रेंस के माध्यम से प्रधानमंत्री आवास योजना के हितग्राहियो से संवाद किया। झाबुआ के एनआईसी कक्ष के वीडियो कॅंान्फ्रेंस कक्ष मे कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे सहित प्रधानमंत्री आवास योजाना के हितग्राही उपस्थित थे।

पटवारी भर्ती परीक्षा 2017 के लिए काउंसलिंग 23 जून को
       
झाबुआ । पटवारी भर्ती परीक्षा-2017 मे चयनित अभ्यर्थियो के दस्तावेज सत्यापन पर माननीय हाइकोर्ट के द्वारा लगाई गई रोक हटा ली गई है। अतः दस्तावेज सत्यापन और काउंसलिंग की नई तिथि 23 जून 2018 निर्धारित की गई है। षेष कार्यवाहियां पूर्व मे जारी निर्देषानुसार ही की जायेगी।

दस्तक अभियान के प्रथम चरण हेतु कार्यषाला सम्पन्न
       
jhabua news
झाबुआ । दिनांक 04 जून 2018 को जिला पंचायत सभागृह मे वर्ष 2018-19 के अंतर्गत होने वाले “दस्तक अभियान“ के प्रथम चरण हेतु जिलास्तरीय दस्तक कार्ययोजना एवं मीडिया कार्यषाला का आयोजन किया गया। डाॅ राहुल गणावा, जिला टीकाकरण अधिकारी के द्वारा बताया गया कि दिनांक 14 जून 2018 से 31 जुलाई 2018 तक जिले मे दस्तक अभियान का आयोजन किया जायेगा। इस अवधि मे दस्तक अभियान हेतु गठित दल प्रत्येक घर-घर जाकर 0 से 5 वर्ष तक के बच्चो को स्वास्थ्य सेवाये प्रदान करेंगे। दस्तक अभियान के अंतर्गत 0 से 5 वर्ष के उम्र के बच्चो मे कुपोषण की पहचान, रेफरल एवं प्रबंधन, बाल्यकालीन निमोनिया की त्वरित पहचान रेफरल एवं प्रबंधन, दस्त रोग नियंत्रण हेतु ओआरएस एवं जिंक कर उपयोग एवं समझाईष ,गंभीर एनिमिया की सक्रिय स्क्रिनिंग एवं प्रबंधन, बच्चो मे विटामिन “ए“ का अनुपुरण, जन्मजात विकृतियों की पहचान, आंषिक टीकाकृत व छूटे हुए बच्चो का टीकाकरण, षिषु एवं बाल आहारपूर्ति व्यवहार को बढावा, एसएनसीयू एवं एनआरसी से छुट्टी प्राप्त बच्चो की स्क्रीनिग तथा फाॅलोअप को प्रोत्साहन, बाल मृत्यु की जानकारी आदि कार्य स्वास्थ्य कार्यकर्ताओ द्वारा किये जायेंगे। जिले मे 0 से 5 वर्ष के उम्र के बच्चो को सेवाये देने हेतु अनुमानित 153449 बच्चो का लक्ष्य रखा गया है। जिले के 240 उप स्वा केन्द्रो मे 813 ग्रामो मे सेवाये प्रदान करने हेतु 251 दस्तक दलो एवं षहरी क्षेत्रों मे 20 दस्तक दलो का गठन किया गया है। समस्त जानकारी आनलाईन साॅफ्टवेयर के माध्यम से इंद्राज कर संकलित की जायेगी। कार्यषाला मे आर आर खन्ना जिला कार्यक्रम प्रबंधक, सुभाष कुमार बिन्झारे जिला आरबीएसके समन्वयक, धीरज गुप्ता, डीसीएम, स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी तथा जिले के मीडिया प्रतिनिधि उपस्थित थे।

प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिये संकल्पित होकर कार्य करें प्रदेशवासी
  • मुख्यमंत्री श्री चैहान का विश्व पर्यावरण दिवस पर आव्हान

झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने विश्व पर्यावरण दिवस पर नागरिकों से प्रदेश को प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिये संकल्पित होकर कार्य करने का आव्हान किया है। उन्होंने अपने संदेश में कहा है कि प्रदेश को प्लास्टिक प्रदूषण से मुक्त बनाने की मुहिम शुरु की जा रही है। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि पर्यावरण के लिये प्लास्टिक सर्वाधिक हानिकारक पदार्थ है। यह पृथ्वी का शत्रु है। धरती पर प्लास्टिक कचरे की मोटी होती परत मनुष्यों, पशुओं, जीव-जन्तुओं, पेड़-पौधों, हवा, पानी सबके लिये खतरा बन गई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य शासन प्लास्टिक के खतरों से निपटने के लिये प्रतिबद्ध है। प्लास्टिक थैलियों के उत्पादन, भंडारण, परिवहन, विक्रय और उपयोग पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसके लिये प्रत्येक नागरिक को जागरुक होने की जरूरत है। श्री चैहान ने नागरिकों का आव्हान किया है कि वे प्रदेश को प्लास्टिक प्रदूषण मुक्त बनाने में भरपूर योगदान दें। सरकार के प्रयासों में सहयोग प्रदान करें।

फ्लैट बिल योजना में हितग्राही भरेंगे वास्तविक बिजली बिल
  • मुख्यमंत्री श्री चैहान ने की ऊर्जा विभाग की प्रस्तावित योजनाओं की समीक्षा

झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा है कि फ्लैट बिजली बिल योजना के हितग्राहियों का सरल और सुविधापूर्ण तरीके से व्यापक स्तर पर पंजीयन किया जाये। विद्युत वितरण केन्द्रों के साथ ही बड़े हाट और बाजार आदि सार्वजनिक स्थलों में शिविर लगाकर पंजीयन करवाया जाये। श्री चैहान आज मंत्रालय में ऊर्जा विभाग की घरेलू बिल सरल समाधान और सरल बिजली बिल योजनाओं के प्रस्तावित प्रारूप की समीक्षा कर रहे थे। मुख्यमंत्री श्री चैहान ने कहा कि फ्लैट रेट योजना में पंजीकृत श्रमिकों को वास्तविक मासिक बिल का भुगतान करना हो, जो अधिकतम 200 रूपये तक होगा। यदि किसी का मासिक बिजली बिल 150 रूपये आता है, तो उसे बिल की वास्तविक राशि 150 रूपये ही जमा करनी होगी। इस व्यवस्था का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिये।

जेईई मेन्स में डेढ़ लाख तक रैंक वालों को मिलेगा मेधावी विद्यार्थी योजना का लाभ
  • अब 12वीं में 70 प्रतिशत अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थी भी होंगे लाभान्वित

झाबुआ । राज्य शासन द्वारा विद्यार्थियों के हित में मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में संशोधन किया गया है। अब जेईई मेन्स परीक्षा में एक लाख 50 हजार तक रैंक में आने वाले विद्यार्थियों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। पहले 50 हजार तक रैंक वाले विद्यार्थियों को ही इसका लाभ मिलता था। इसी तरह माध्यमिक शिक्षा मण्डल की 12वीं की परीक्षा में शैक्षणिक सत्र 2018-19 से 70 प्रतिशत या उससे अधिक अंक और सीबीएसई, आईएससीएसआई की 12वीं की परीक्षा में 85 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को योजना का लाभ मिलेगा। इंजीनियरिंग-शासकीय इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की फीस शासन द्वारा दी जायेगी। प्रायवेट कॉलेज को देय शुल्क डेढ़ लाख रुपये तक अथवा वास्तविक रूप से देय शुल्क, जो कम हो, शासन द्वारा दी जायेगी। यदि किसी इंजीनियरिंग कॉलेज में अलग से प्रवेश परीक्षा के आधार पर प्रवेश दिया जाता है और छात्र जेईई मेन्स में एक लाख 50 हजार तक की रैंक में आता है, तो उसे भी पात्रता होगी। मेडिकल-जिन विद्यार्थियों ने राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा “नीट“ के आधार पर केन्द्र या राज्य शासन के मेडिकल कॉलेज और प्रदेश में स्थित प्रायवेट मेडिकल कॉलेज के एमबीबीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश लिया है, तो उनकी फीस राज्य शासन द्वारा वहन की जायेगी। भारत शासन के ऐसे संस्थान, जो स्वयं के द्वारा आयोजित परीक्षा के आधार पर प्रवेश देते हैं, को भी योजना में शामिल किया गया है। शासकीय मेडिकल कॉलेज में शिक्षित डॉक्टर दो वर्ष तक राज्य शासन द्वारा सुनिश्चित ग्रामीण क्षेत्र में कार्य करने का अनुबंध करेंगे और इस आशय का 10 लाख रुपये का बॉण्ड भरेंगे। प्रायवेट कॉलेज में यह अवधि 5 वर्ष तथा बॉण्ड की राशि 25 लाख रुपये होगी। लॉ-क्लेट अथवा स्वयं के द्वारा आयोजित परीक्षा के माध्यम से राष्‍ट्रीय विधि विश्वविद्यालयों एवं दिल्ली विश्वविद्यालय में 12वीं कक्षा के बाद एडमिशन लेने वाले विद्यार्थियों की फीस राज्य शासन द्वारा दी जायेगी। भारत सरकार के समस्त विश्वविद्यालयों, संस्थानों में संचालित ग्रेजुएशन प्रोग्राम, इंटीग्रेटेड पोस्ट ग्रेजुएशन प्रोग्राम एवं ड्यूल डिग्री कोर्स (मास्टर डिग्री के साथ बेचलर डिग्री भी सम्मिलित है) के विद्यार्थियों को देय शुल्क राज्य शासन द्वारा वहन किया जायेगा। राज्य शासन के सभी शासकीय एवं अनुदान प्राप्त महाविद्यालयों, विश्वविद्यालयों में संचालित सभी पाठ्यक्रमों को योजना में शामिल किया गया है। विद्यार्थी के पिता/पालक की आय 6 लाख रुपये से कम होना चाहिये, लेकिन ऐसे विद्यार्थी, जिनके पिता/पालक की वार्षिक आय 6 लाख तक है तथा वे बीपीएल कार्डधारी, अनुसूचित-जाति या अनुसूचित-जनजाति वर्ग के विद्यार्थी हैं तथा उपरोक्त उल्लेखित शर्तों के कारण योजना में सम्मिलित नहीं हो पा रहे हैं, को विशेष प्रकरण मानते हुए इनके संबंध में विभाग, समन्वय में सक्षम अधिकारी से अनुमोदन प्राप्त कर उन्हें योजना में सम्मिलित कर सकेगा। योजना में स्नातक स्तर के लिये विभिन्न संस्थाओं को देय शुल्क के रूप में, प्रवेश शुल्क एवं वह वास्तविक शुल्क (मेस शुल्क एवं कॉशन मनी को छोड़कर) जो विनियामक समिति अथवा मध्यप्रदेश निजी विश्वविद्यालय विनियामक आयोग अथवा भारत सरकार, राज्य शासन द्वारा निर्धारित किया गया है, का ही भुगतान किया जायेगा। योजना में लाभ पाने वाले विद्यार्थियों को प्रवेशित संस्था के नियमानुसार पाठ्यक्रम को समय-सीमा में पूरा करना जरूरी होगा अन्यथा यह लाभ बंद कर दिया जायेगा। शासकीय संस्थाओं के विद्यार्थियों को देय शुल्क संस्था के खाते में दी जायेगी, जबकि निजी संस्थाओं के‍विद्यार्थियों को देय शुल्क विद्यार्थी के खाते में दी जायेगी। विद्यार्थी द्वारा राज्य या केन्द्र शासन की किसी अन्य योजना से सहायता प्राप्त होने की स्थिति में वह अंतर की राशि प्राप्त कर सकेगा। ऐसे विद्यार्थी, जिनके पास आधार नम्बर नहीं हैं, उनको 3 माह के अंदर आधार नम्बर देना होगा। लाभार्थी विद्यार्थी एवं उनका परिवार स्वेच्छा से शिक्षा पूरी होने के बाद प्रदेश सरकार द्वारा स्थापित फण्ड में उनके जैसे अन्य छात्रों की मदद के लिये योजना में दी गई राशि इच्छानुसार जमा कर सकेंगे।

राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना से जुड़ीं मध्यप्रदेश की 58 कृषि उपज मण्डियाँ
       
झाबुआ । राष्ट्रीय कृषि बाजार (ई-नाम) एक पैन-इण्डिया इलेक्ट्रॉनिक ट्रेडिंग पोर्टल है। यह कृषि उपजों के लिये एकीकृत राष्ट्रीय बाजार का निर्माण करने का सशक्त माध्यम है। कृषि उपज मण्डी से संबंधित सभी सूचनाओं और सेवाओं के लिये यह ई-नाम पोर्टल सिंगल विण्डो सेवा प्रदान कर रहा है। इस पोर्टल में उपज के आगमन और कीमतों तथा उपज को खरीदने और बेचने के व्यापारिक प्रस्तावों के प्रावधान को शामिल किया गया है। प्रदेश में ई-नाम पोर्टल के माध्यम से अभी तक 58 कृषि उपज मण्डियों को राष्ट्रीय कृषि बाजार से जोड़ा जा चुका है। प्रदेश में ई-नाम पोर्टल की शुरूआत भोपाल की पण्डित लक्ष्मीनारायण शर्मा कृषि उपज मण्डी करोंद से की गई। योजना के पहले चरण में प्रदेश की 19 चयनित कृषि उपज मण्डियों को इस पोर्टल से जोड़ा गया। ई-नाम पोर्टल से जुड़ी कृषि उपज मण्डियों में 6 जिन्सों पर ऑनलाईन ट्रेडिंग की जा रही है। योजना के दूसरे चरण में 30 और तीसरे चरण में 8 कृषि उपज मण्डियों को राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना में शामिल किया गया है। अब तक प्रदेश की 58 कृषि उपज मण्डियों को राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना से जोड़ा जा चुका है। इसके साथ ही, 13 कपास मण्डियों को राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना से जोड़ने का कार्य तेजी से पूर्ण किया जा रहा है। प्रदेश में राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना में अब तक करीब 12 लाख किसानों से 19 हजार लायसेंस धारी व्यापारियों ने ई-प्लेटफार्म के माध्यम से करीब 49 लाख क्विंटल कृषि जिन्सों का व्यापार किया है। प्रदेश में ई-नाम पोर्टल की सभी 58 मण्डियों में कृषि उपज के गुणवत्ता परीक्षण के लिये वृहद एसेइंग एण्ड ग्रेडिंग लैब स्थापित करने की कार्यवाही की जा रही है। ई-नाम पोर्टल में देश के 18 राज्यों में मध्यप्रदेश की स्थिति गेट एन्ट्री और एसेइंग में प्रथम तथा बिड क्रिएशन और सेल ऐग्रीमेंट में तृतीय रही है। ज्ञातव्य है‍कि देश में अप्रैल 2016 से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने ऑनलाइन राष्ट्रीय कृषि बाजार योजना की शुरूआत की थी। इसका मकसद किसानों को उनकी उपज का राष्ट्रीय स्तर पर सही दाम दिलवाना है।

मुख्यमंत्री कल्याणी पेंशन योजना में बीपीएल का बंधन आवश्यक नहीं, पांच सौ रूपए प्रतिमाह तक मिलेगी पेंशन

झाबुआ । प्रदेश में निवासरत विधवा महिलाओं (कल्याणी) को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने व जीवन निर्वाह हेतु प्रतिमाह आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री कल्याणी पेंशन योजना प्रारंभ की गई है। योजनांतर्गत 18 वर्ष से 79 वर्ष आयु की कल्याणी को प्रतिमाह 300 रूपए एवं 80 वर्ष से अधिक आयु होने पर प्रतिमाह 500 रूपए पेंशन का प्रावधान है। योजना का लाभ लेने के लिए कल्याणी को प्रदेश का मूल निवासी, न्यूनतम 18 वर्ष या इससे अधिक आयु, आयकर दाता न हो, शासकीय कर्मचारी, अधिकारी न हो, कल्याणी परिवार पेंशन अथवा अन्य कोई पेंशन योजना का लाभ प्राप्त न कर रही हो, ऐसी महिलाएं लाभ लेने की पात्र होंगी। योजना में बीपीएल का बंधन आवश्यक नहीं है। योजना का लाभ लेने के लिए मूल निवासी का प्रमाण पत्र, पति की मृत्यु का प्रमाण पत्र, समग्र आईडी, आयु प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक की छायाप्रति, आयकरदाता न होने का स्व घोषित प्रमाण पत्र एवं परिवार पेंशन प्राप्त नहीं की जा रही इस आशय का स्व घोषित प्रमाण पत्र आवश्यक दस्तावेज होंगे।

आवेदन की प्रक्रिया ग्रामीण क्षेत्र में
आवेदिका द्वारा निर्धारित प्रारूप में योजना के लिए आवश्यक दस्तावेजों सहित आवेदन मुख्य कार्यपालन अधिकारी के कार्यालय अथवा ग्राम पंचायत में जमा किया जाएगा। आवेदिका द्वारा समग्र पेंशन पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है। ऑफलाइन पूर्ण आवेदन करने पर आवेदिका को कार्यालय द्वारा पावती दी जाएगी। ऑफलाइन प्राप्त आवेदनों को ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत द्वारा समग्र पेंशन पोर्टल पर ऑनलाइन किया जाएगा। ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन प्राप्त आवेदनों में जनपद पंचायत या ग्राम पंचायत द्वारा आवेदन के साथ प्रस्तुत किए गए दस्तावेजों की जांच की जाएगी। जांच उपरांत दस्तावेज सही पाए जाने पर नियमानुसार पेंशन प्रकरण स्वीकृत किया जाएगा एवं सिंगल क्लिक के माध्यम से उक्त माह से प्रतिमाह कल्याणी के बैंक बचत खाते में सीधे राशि जमा की जाएगी।

शहरी क्षेत्र में
शहरी क्षेत्र की आवेदिका को आवश्यक दस्तावेजों सहित आवेदन मुख्य नगरपालिका अधिकारी के कार्यालय अथवा वार्ड कार्यालय में जमा करना होगा। आवेदिका द्वारा समग्र पेंशन पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है। ऑफलाइन पूर्ण आवेदन करने पर आवेदिका को कार्यालय द्वारा पावती दी जाएगी। ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन प्राप्त आवेदनों में जनपद पंचायत या ग्राम पंचायत द्वारा आवेदन के साथ प्रस्तुत किए गए दस्तावेजों की जांच की जाएगी। ऑफलाइन प्राप्त आवेदनों को मुख्य नगरपालिका अधिकारी के कार्यालय अथवा वार्ड कार्यालय द्वारा समग्र पेंशन पोर्टल पर ऑनलाइन किया जाएगा। जांच उपरांत दस्तावेज सही पाए जाने पर नियमानुसार पेंशन प्रकरण स्वीकृत किया जाएगा एवं सिंगल क्लिक के माध्यम से उक्त माह से प्रतिमाह कल्याणी के बैंक बचत खाते में सीधे राशि जमा की जाएगी।

मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना संबल वंचितों के हक में अभिनव पहल
       
झाबुआ । मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना (संबल) का मुख्य उद्देश्य राज्य के असंगठित गरीब मजदूरों को सरकारी योजनाओं और सेवाओं का लाभ प्रदान करना है। यह योजना समाज के हर वर्ग, गरीब और मजदूर के लिए है। यह योजना गरीबों की जिन्दगी में नया सवेरा लायेगी । असंगठित श्रमिकों के लिए हर साल 10 लाख मकान बनाकर दिये जायेंगे और प्रदेश में 4 साल में साढ़े 37 लाख मकान बनाकर गरीबों को उपलब्ध कराए जायेंगे। हर गरीब को आवास के लिए जमीन का पट्टा दिया जायेगा । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान की मंशा है कि मध्य प्रदेश की धरती पर कोई भी गरीब बगैर आवासीय जमीन के नहीं रहेगा ।

योजना में शामिल श्रमिक
खेतों में मजदूरी करने वाले, गृहकर्मी, स्ट्रीट हॉकर्स, मछली पकड़ने वाले श्रमिक, पत्थर तोड़ने वाले, स्थायी ईंट निर्माता, दुकानदार, गोदामों, परिवहन, हथकरघा, बिजली के सामान, डाइंग-पिं्रटिंग, सिलाई-बुनाई-कढ़ाई, लकड़ी के सामान, चमड़े के सामान और जूते बनाने वाले और पटाखे बनाने वाले, ऑटो रिक्शा चालकों, आटा, तेल, दालों, चावल और पोहा मिलों, लकड़ी के मजदूर, बर्तन, कारीगरों, चैकीदार, सुतार और मजदूर असंगठित श्रमिक वर्ग में शामिल हैं ।

पंजीकरण की प्रक्रिया
जिले में ग्रामीण स्तर पर ग्राम पंचायत सचिव के माध्यम से जनपद पंचायत एवं शहरी क्षेत्र में वार्ड प्रभारी या नगर पालिका, नगर पंचायत द्वारा कैम्प लगाकर पंजीयन का कार्य किया जा रहा है, पंजीयन पूर्णतः निःशुल्क है । श्रम अधिकारियों को निर्देशित किया गया हैं कि यदि कोई व्यक्ति या मध्यस्थ किसी से पंजीयन कराने हेतु राशि की मांग करता है तो उसे कोई राशि प्रदान न करें । स्वयं ही समग्र आई.डी. क्रमांक, आधार कार्ड नंबर, मोबाइल नंबर तथा अपना फोटो ले जाकर अपना पंजीयन कराएं तथा शासन की योजना का लाभ प्राप्त करें ।

योजना की पात्रता
आवेदक एक श्रमिक होना चाहिए । किसी भी प्रकार की सरकार या अनुबंध सेवा में नहीं होना चाहिए । करदाता नहीं होना चाहिए ।  ऐसे किसान जिनके पास ढ़ाई एकड़ से कम कृषि भूमि हो ।

योजना के हित लाभ
प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत पक्के घर का लाभ, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत निरूशुल्क गैस कनेक्शन, निःशुल्क चिकित्सा उपचार, बच्चों को मुफ्त शिक्षा, निःशुल्क प्रशिक्षण एवं मृत्यु में राहत सहायता ।

असंगठित श्रमिक कल्याण समिति
प्रदेश के असंगठित क्षेत्रों में कार्यरत श्रमिकों के कल्याण के लिए अपर मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैस की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है ।  समिति में 5 सदस्य नामांकित किए गए हैं ।  यह समिति विभिन्न योजनाओं, कार्यक्रमों के समन्वय और पर्यवेक्षण का कार्य करेगी ।

चरण पादुका योजना
चरण पादुका योजना के तहत तेन्दूपत्ता तोड़ने वाले भाइयों को जूते, बहनों को चप्पल और साड़ी के साथ सभी को पानी की कुप्पी दी गई है ।  योजना की शुरूआत स्वयं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने सीधी जिले में तेन्दूपत्ता श्रमिकों को चप्पल पहनाकर की ।

तेन्दूपत्ता संग्रहण दर वृद्धि
सरकार ने तेन्दूपत्ता के लिए 1200 रूपये प्रति बोरे की जगह 2000 रूपये प्रति बोरा देने का निर्णय लिया।महुए का फूल, अचार की गुठली, ये वनोपज हैं, इनका ठीक दाम मिलना चाहिए।14 अप्रैल से 30 रूपये प्रति बोरा महुए का फूल खरीदना शुरू कर दिया है।अचार की गुठली 100 रूपये किलो खरीदी जा रही है।  इस बार 207 करोड़ रूपये बोनस बांटा गया है।

संबल योजना के हितग्राहियों की पात्रता एक अप्रैल से लागू
       
झाबुआ । मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना (संबल) में पंजीयन करवाने वाले हितग्राही विगत एक अप्रैल 2018 से हित-लाभ प्राप्त करने के लिये पात्र होंगे। योजना में पंजीकृत हितग्राही अन्य योजनाओं के लाभों से वंचित नहीं होंगे। उन्हें अन्य योजनाओं के लाभ पूर्ववत मिलेंगे। पात्र आवेदकों को पंजीयन सत्यापन के अभाव में आर्थिक सहायता से वंचित नहीं किया जायेगा।

10 जून को सभी विकासखण्डों में होंगे किसान सम्मेलन- कलेक्टर
       
झाबुआ । कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने उप संचालक कृषि , सहायक आयुक्त सहकारिता , मण्डी सचिव को निर्देशित किया है कि 10 जून को आयोजित सम्मेलन में  रबी विपणन वर्ष 2018-19 के गेहूं, चना, मसूर और सरसों उत्पादक किसानों के बैंक खातों में आरटीजीएस एनईएफटी से प्रोत्साहन राशि सीधे ट्रांसफर की जाएगी। इस हेतु व्यापक प्रचार प्रसार के साथ साथ समस्त तैयारियां पूरी करे। कलेक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान 10 जून को जबलपुर में कृषक समृद्धि योजनांतर्गत किसान महा-सम्मेलन में रबी विपणन वर्ष 2018-19 के गेहूँ, चना, मसूर और सरसों उत्पादक किसानों के बैंक खातों में आरटीजीएस/एनएफटी से प्रोत्साहन राशि सीधे ट्रांसफर करेंगे। इसी दिन प्रदेश के सभी विकासखण्डों के साथ साथ जिले के झाबुआ, मेघनगर, थांदला, रानापुर, रामा, पेटलावद विकासखण्ड मुख्यालयों पर किसान सम्मेलन आयोजित होंगे। सम्मेलन में प्रातः11 बजे से दोपहर एक बजे तक कृषक संगोष्ठियां भी आयोजित की जायेंगी। संगोष्ठियों में कृषि वैज्ञानिक किसानों को कृषि की आधुनिक तकनीकों से अवगत करायेंगे। जबलपुर में हो रहे किसान महा-सम्मेलन का प्रदेश में न्यूज चैनल्स के माध्यम से सीधा प्रसारण किया जायेगा। विकासखण्ड स्तर पर होने वाले सम्मेलनों में किसान एल.ई.डी. टी.बी. के माध्यम से मुख्यमंत्री का संदेश सुन सकेंगे। सम्मेलन में किसानों को स्वाइल हेल्थ कार्ड, फसल-चक्र में परिवर्तन, नवीन उन्नत बीज, अंतवर्ती फसल, उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा, खेतों की मेड़ों पर वृक्षारोपण, जैविक खेती के साथ ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कस्टम हायरिंग और कस्टम प्रोसेसिंग, पशुपालन, मछली पालन को बढ़ावा देने की योजना के साथ मुख्यमंत्री कृषक युवा उद्यमी योजना की विस्तृत जानकारी भी दी जायेगी। सम्मेलन स्थल पर कृषि उपलब्धि और कृषि की आधुनिक तकनीकी पर केन्द्रित प्रदर्शनी लगाई जायेगी। कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने इस संबंध मे सर्व संबंधित अधिकारियों से कहा है कि अधिकाधिक कृषकों को आमंत्रित करते हुए समस्त तैयारियां पूरी करें ।

 मतदाता सूची के षुद्धीकरण हेतु अभियान चलाए
       
jhabua news
झाबुआ । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री आषीष सक्सेना ने कहा है कि किसी भी निर्वाचन की शुद्धता एवं निष्पक्षता बनाये रखने के लिए मतदाता सूची का शुद्धीकरण होना अति आवश्यक है । उन्होने कहा कि जनसंख्या के अनुपात में लगभग 60 प्रतिशत मतदाताओ का होना आवश्यक है । कलेक्टर ने निर्वाचन संबंधी की बैठक मे समस्त नोडल अधिकारियो से कहा है कि भ्रमण के दौरान गांव के प्रबुद्ध नागरिकों के साथ साथ सभी वर्ग के बुजुर्गो को बुलाकर समक्ष में मतदाता सूची का वाचन करे। इस दौरान यदि किसी की मृत्यु हो गई हो या गांव छोडकर काफी लंबे अर्से से बाहर रहता हो, या किसी का नाम या फोटो गलत हो तो प्राप्त शिकायतो के आधार पर उनके नाम हटाने की कार्यवाही करें ताकि त्रुटिरहित मतदाता सूची तैयार कराई जा सके। कलेक्टर ने कहा है कि 15 मई से 15 जून तक समस्त बीएलओ डोर टू डोर , घर घर जाकर मतदाता सूची का मिलान करेंगे। यदि इस दौरान इपिक में दूसरे की फोटो लगी पाई जाए तो उसे अनिवार्य रूप से सुधारे वहीं एक ही इपिक नंबर से कई कार्ड बने हो तो उनका भी सुधार करवाए। जिन मकानों में बहुत से मतदाताओ के नाम जुडे हो तो उनका वेरीफिकेशन कराए। कलेक्टर ने कहा कि रेण्डम विधि से तहसीलदार, एसडीएम, अपर कलेक्टर भी मतदान केंद्रो मे जाकर फोटोयुक्त मतदाता सूची की जांच करेंगे। यदि गडबढी पाई गई तो संबंधित बीएलओ के खिलाफ कडी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

व्यापारी के साथ लूट की घटना के चार आरोपी गिरफतार, 6 मोबाईल एवं पर्स किया गया बरामद

झाबुआ। 22 मई की रात्रि साढ़े 8 बजे झकनावदा चैकी अंतर्गत आने वाले ग्राम बोलासा रोड़ पर एक व्यापारी को सिर पर लट्ठ मारकर लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। इस घटना मं संलिप्त चार आरोपियों को पुलिस द्वारा गिरफतार कर लिया गया है। जिसमें दो युवक एवं दो नाबालिग शामिल है। आरोपियों के कब्जें से लूटे गए कुल 6 मोबाईल एवं पैसो से भरा पर्स बरामद किया गया है। मंगलवार को दोपहर 12 बजे स्थानीय पुलिस कंट्रोल रूम में पत्रकारवार्ता में पुलिस अधीक्षक महेषचन्द्र जैन ने लूट की घटना का पर्दाफाष करते हुए बताया कि 22 मई की रात्रि साढ़े 8 बजे मुकेष पिता सुजानमल कोठारी निवासी झकनावदा, जो 5 नए जीओ कंपनी कंपनी के मोबाईल खरीदकर ला रहे थे। उनके साथ बोलासा रोड़ पर अज्ञात बदमाषों ने पीछे से सिर पर लट्ठा मारकर उन्हें घायल करने के साथ बेहोष कर दिया था। बाद उनसे 5 नए मोबाईल लूटने के साथ ही एक उनका स्वयं का मोबाईल तथा पैसों से भरा पर्स चोरी कर फरार हो गए। घटना के बाद श्री कोठारी का प्राथमिक उपचार झकनावदा होने के पश्चात् इंदौर में उपचार चला। लूट का अपराध पंजीबद्ध कियाघटना के तुरंत बाद झकनावदा चैकी पर लूट की घटना में अपराध पंजीबद्ध किया। इस बीच 30 मई को श्री कोठारी के स्वस्थ होने के बाद पुलिस द्वारा उनसे घटना के संबंध में पूछताछ की गई। जिसमें श्री कोठारी ने बताया कि उन्होंने पेटलावद से मोबाईल खरीदने के बाद वह पुनः अपने गांव झकनादा के लिए निकले। रास्ते में पीछे से अज्ञात बदमाषों ने सिर पर लट्ठ मारने से वह बेहोष हो गए। इसके बाद की उन्हें जानकारी नहीं है।टीम गठित कर पकड़ा गया पुलिस अधीक्षक श्री जैन ने बताया कि इसके बाद पेटलावद एसडीओपी आरआर अवास्या के नेतृत्व में झकनावदा चैकी प्रभारी केएस चैहान एवं अन्य पुलिसकर्मियों टीम बनाई गई। जिन्हें मुखबिर से यह सूचना मिली कि पेटलावद के नजदीक ही ग्राम में एक युवक जीओ कंपनी का नया मोबाईल बेचने आया है, इस पर पुलिस द्वारा दबिष देकर युवक को गिरफतार किया गया एवं उससे सघनता से पूछताछ की गई।चार आरोपियों ने मिलकर दिया घटना को अंजामपूछताछ में युवक समुस पिता मड़िया गामड़ निवासी आमलीपाड़ा ने बताया कि उसने अपने साथी राकेष पिता कैलाष मेड़ा निवासी आमलीपाड़ा एवं अन्य दो नाबालिग लड़कों के साथ मिलकर श्री कोठारी के साथ लूट की घटना दिया था। बाद पुलिस द्वारा इन तीन आरोपियों को भी गिरफतार किया गया। जिसमें से दो बालिग युवकों को पुलिस द्वारा मंगलवार को पत्रकारवार्ता में पेष किया गया। एसपी श्री जैन के अनुसार चारों आरोपियों को मंगलवार को न्यायालय में पेष कर रिमांड पर लेकर उनसे अन्य मामलों में भी पूछताछ की जाएगी।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...