झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जून - Live Aaryaavart

Breaking

रविवार, 10 जून 2018

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 09 जून

प्रभारी मंत्री ने किया विवेकानंद अध्ययन केन्द्र का शुभारंभ

jhabua news
झाबुआ ।  जिला पुलिस लाईन परिसर झाबुआ में मध्यप्रदेश पुलिस जिला झाबुआ द्वारा संचालित आन लाईन होने वाली प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी की विशेष सुविधा के लिए स्थापित नवीन ‘‘विवेकानंद अध्ययन केन्द्र‘‘ का शुभारंभ, श्री विश्वास सारंग, माननीय प्रभारी मंत्री, जिला झाबुआ द्वारा शुक्रवार को किया गया। शुभारंभ के अवसर पर माननीय मंत्री महोदय द्वारा अध्ययन केन्द्र के मुख्य रजिस्टर पर शुभकामना संदेश लेख कर बधाई दी गई । पुलिस लाईन झाबुआ स्थित ‘‘विवेकानंद अध्ययन केन्द्र‘‘ जिले का एकमात्र निःशुल्क ऑनलाईन अध्ययन केन्द्र हैं, जहां पर 10 अत्याधुनिक कंप्यूटर, इंटरनेट सुविधा के साथ उपलब्ध हैं। इंटरनेट हेतु ैचममकमत कंपनी की हाईस्पीड डिस्क लगाई गई है। इसके अतिरिक्त प्रतियोगिता दर्पण, प्रतियोगिता निर्देशिका, घटना चक्र, समसामयिकी, करंट अफेयरर्स आदि पुस्तिकाएं एवं राष्ट्रीय व प्रादेशिक स्तर के समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया, इंडियन एक्सप्रेस, दैनिक भास्कर, नईदुनिया, फ्री प्रेस, पत्रिका, राज एक्सप्रेस, रोजगार निर्माण आदि उपलब्ध हैं।  विवेकानंद अध्ययन केन्द्र ऑनलाईन एवं अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हेतु सभी के लिए उपलब्ध है। अध्ययन केन्द्र में केवल बालिकाओं एवं महिलाओं के लिए भी पृथक से समय आरक्षित किया गया है।

संबल योजना की पंचायत और वार्ड-स्तर पर सतत निगरानी की जायेगी । मुख्यमंत्री की गरीब कल्याण की महत्वपूर्ण योजना है संबल योजना- प्रभारी मंत्री श्री सारंग
  • संबल योजना की जिला स्तरीय कार्यषाला में  असंगठित मजदूर कल्याण की जानकारी दी

jhabua news
झाबुआ । जिलेे के प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों की भलाई के लिये क्रियान्वित मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना की पंचायत और वार्ड-स्तर पर सतत निगरानी की जायेगी। निगरानी का उद्देश्य होगा अधिक से अधिक पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित करना। उन्होंने कहा कि निगरानी समिति 5 सदस्यीय होगी और इसमें महिलाओं की भागीदारी भी सुनिश्चित की जायेगी। श्री सारंग शुक्रवार सायंकाल मुख्य मंत्री कजदूर कल्याण  योजनान्तर्गत असंगठित श्रमिको के लिये मुख्यमंत्री जन कल्याण संबंल योजना के क्रियान्वयन हेतु आयोजित जिला स्तरीय कार्यशाला में उपस्थितजनों को संबोधित करते हुए कही । श्री सारंग ने कार्यशाला में गरीब, श्रमिक और किसान कल्याण की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि संबल योजना में श्रमिकों के साथ-साथ गरीब तबके के अन्य वर्गों और ढाई एकड़ तक की भूमि के स्वामित्व वाले किसानों को भी लाभान्वित किया जायेगा। उन्होंने कहा कि संबल योजना इन वर्गों को समाज की मुख्य-धारा से जोड़ेगी। प्रभारी मंत्री ने बताया कि  शिवराज सरकार की महत्वाकांक्षी योजनाओं के कारण जिले की तकदीर एवं तस्वीर बदल गई है । ह मारा मुख्य लक्ष्य ही अन्तिम व्यक्ति तक योजनाओं का लाभ दिलाना एवं सेवा करना है ।पण्डित दीनदयान उपाध्याय के एकात्म मानवतावाद सिद्धांत  के तहत अन्त्योदय को लेकर काम करना मुख्य लक्ष्य है। उन्होने लाडली लक्ष्मी, उज्ज्वला योजना, स्कूली बच्चों को साईकिलो का वितरण मध्यान्ह भोजन आदि को अन्त्योदय का ही अंग बताते हुए कहा कि मुख्य मंत्री की इस योजना का नाम संबल दिया गया है ।लोकतंत्र में जनता के हितार्थ एवं जनता को साथ लेकर काम करना ही हमारा मुख्य लक्ष्य है।  इस योजना में आयकरदाता, सरकारी सेवक एवं ढाई एकड  जमीन से उपर वाले को लाभ का प्रावधान नही है ।गरीबों के जीवन में उजियारा लाने की योजना संबल है और इसे लागू करके लोगों की दुआएं मिल रही है। असंगठित कामगारों के पंजीयन का काम सतत जारी रहने की बात कहते हुए प्रभारी मंत्री ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को ऐसे पात्र लोगों की खोज करके प्रत्येक को हितलाभ दिलानें में अपनी भूमिका निभावें । प्रभारी मंत्री ने संबल योजना में गर्भवती माता को 4000 रुपये की सहायता तथा प्रसूति के बाद 12 हजार की आर्थिक मदद संबल कार्डधारी महिला को दिये जाने की जानकारी देते हुए उनके निशुल्क उपचार एवं दवाई तथा बिजली का बिल 200 रुपये ही दिये जाने के प्रावधानों का उल्लेख किया । उच्च शिक्षा के लिये प्रदेश सरकार की जिम्मेवारी का जिक्र करते हुए श्री सारंग ने कहा कि बच्चें की शिक्षा की पूरी जिम्मेवारी प्रदेश सरकार की है। इन जिम्मवारियों का निर्वाह करना हमारे लिये भगवान का आदेश जैसा है । उन्होने प्रत्येक पंचायत में 5-5 लोगों की मानिटरिंग टीम के गठन के बारे में भी विस्तार से बताते हुए कहा कि समिति तय करेगी तथा शतप्रतिशत लाभ ऐसे लोगों को दिया जावेगा ।इस समिति को मजबुत करने का आव्हान करते हुए प्रभारी मंत्री ने  इस कार्य मे लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों को भी सचेत किया कि यदि लापरवाही या अन्य कोई बात पाई गई तो सख्त कार्यवाही की जावेगी । उन्होने कलेक्टर एवं जिला प्रशासन को बधाई देते हुए जिले में जनजागरण के क्षेत्र में हुए कार्य की प्रसंशा की तथा कहा कि जीवन को सार्थक बनाना है तो शिवराज की संबल योजना को मजबुत बनाना होगा ।
इस अवसर पर विधायक शांतिलाल बिलवाल ने इस योजना को गरीब कामगारों की दशा एवं दिशा बदलने वाला निरूपित करते हुए इसे ऐतिहासिक कल्याणकारी कदम बताया । उन्होने कल्याणकारी संबल योजना के प्रावधानों एवं पंजीयन आदि के लिये आंगनवाडी कार्यकर्ताओं को प्रशिक्षणदिये दिये का सुझाव दिया जिस पर मंत्रीजी ने कलेक्टर को प्रशिक्षण आयोजित करने का निर्देश दिया ताकि गा्रमीण क्षेत्रों में ये कार्यकर्ता पात्र लोगों के पंजीयन आदि का काम कर सकें । कलेक्टर आशीष सक्सेना ने स्वागत भाषण देते हुए संबल योजना के प्रावधानों का विस्तार से वर्णन करते हुए कहा कि इसमें पात्र हितगा्रही वही माना जावेगा जो आयकर दाता नही हो, जो सरकारी नौकरी नही करता हो और जिसके पास ढाई एकड जमीन नही हो । इसमें गरीबी रेखा का कोई बंधन नही है तथा सभी वर्ग के लोग इसकी परिधि मे आयेंगें । उन्होने कहा कि संबल योजना जन्म से मृत्यु तक की योजना बताते हुए कहा कि इस जिले में प्रसूति सहायता के तहत  महिलाओं के स्वयं सहायता समुहों के माध्यम से प्रसूता एवं गर्भवती माताओ ं को गर्भकाल मे 4000 तथा प्रसगूति उपरांत 12000 की राशि दी जावेगी ताकि इस राशि का उस महिला के स्वास्थ्य के लिये उपयेाग हो सकें । कलेक्टर ने कहा कि शासन के निर्देशानुसार जिन माताओं को मातृत्व वंदना का लाभ मिला है उन्हे भी इस योजना का लाभ मिलेगा ।असंगठित कामगार योजना में 18 से 60 साल की आयु तक के व्यक्ति का पंजीयन केवल समग्र आईडी से मिलेगा तथा पंजीयन का काम आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं पंचायत सचिवों के माध्यम से किया जावेगा । 1 जुलाई से अब बिजली का बिल कितना भी आवे ऐसे पात्र परिवारों को केवल 200 रुपये ही जमा कराने के प्रावधान रहेगें ।उन्होने मृत्यु होने पर 5000 रुपये अन्त्येष्टी के लिये तत्काल दिये जाने के प्रावधान का जिक्र करते हुए कहा कि प्रत्येक पंचायत सचिव के लिये इसके लिये 10 हजार रुपये का नगदी कोष रहेगा । मृत्यु प्रमाणपत्र पंचायत से ही जारी होगा वही नगरीय क्षेत्र में नगरपालिका के माध्यम से यह काम होगा । इस अवसर पर प्रभारी मंत्री द्वारा 45-45 लाख की लागत के दो आजीविका मिशन भवन का शिलान्यास भी किया गया । सम्मेलन में जिला भाजपा अध्यक्ष मनोहर सेठिया, विधायक सुश्री निर्मला भूरिया, विधायक शांतिलाल बिलवाल, बबलू सकलेचा, ओपी राय, दौलत भावसार, सुनिता अजनार, मूलचंद बामनिया सहित बडी संख्या में असंगठित क्षेत्र के श्रमिक, किसान एवं ग्रामीण एवं शासकीय अधिकारी एवं कर्मचारीगण आदि उपस्थित थे।

पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिला अंत्योदय समिति की बैठक प्रभारी मंत्री सारंगी की अध्यक्षता मे संपन्न

jhabua news
झाबुआ । झाबुआ जिले के प्रभारी मंत्री एवं मध्यप्रदेश शासन के सहकारिता स्वतंत्र प्रभार मंत्री विश्वास सारंग झाबुआ जिले के तीन दिवसीय तुफानी भ्रमण के दोरान झाबुआ जिला मुख्यालय पहुचे। इस अवसर पर जिला मुख्यालय पर विभिन्न शासकीय क्रार्यक्रमो मे सम्मिलित होने के पश्चात रात्रि 9 बजे जिला कलेक्टेड सभागृह मे आयोजित पंडित दीनदयाल उपाध्याय जिला स्तरीय अंत्योदय समिति की प्रथम बैठक मे अध्यक्षता करने हेतु पहुचे। प्रभारी मंत्री की अध्यक्षता मे जिले की नवगठित जिला स्तरीय अंत्योदय समिति की प्रथम बैठक परिचयात्मक रुप मे आयोजित की गई। इस अवसर पर जिला अंत्योदय समिति के उपाध्यक्ष दौलत भावसार क्षैत्रीय विधायक शांतीलाल बिलवाल अंत्योदय समिति के सचिव एवं जिला कलेक्टर आशिष सक्सेना सहित जिले के आला अधिकारी एवं अंत्योदय समिति के सदस्य उपस्थित रहे। प्रथम अंत्योदय समिति की बैठक मे प्रभारी मंत्री ने संबोधित करते हुए कहा कि आज मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार सहित केन्द्र की भाजपा सरकार एवं अन्य प्रदेशो मे भाजपा की सरकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय के विचारो को आत्मसात करते हुए समाज के आखिरी पंक्ति पर खडे व्यक्ति के सर्वागीण विकास हेतु अंत्योदय कार्यक्रमो के माध्यम से उन्हे आगे बढाने  मे अपनी सक्रिय भूमिका अदा कर रही है। आपने उपस्थित सदस्यो को दिशा निर्देश देते हुए कहा कि यह समिति अन्य समितियो की तुलना मे ताकतवर समिति है ओर आप इनके सदस्य के रुप मे यहा उपस्थित है इसलिये आप सबको शुभकामना प्रेषित करता हूॅ आपने कहा कि अंत्योदय कार्यक्रमो से जोडने के लिये प्रशासन के साथ सहयोग करते हुए शासन के अंत्योदय योजनाओ का लाभ समाज के अंतिम पंक्ति मे खडे व्यक्ति तक पहुचाने हेतु मांनिट्रिग करते हुए आप उन्हे भाजपा की योजनाओ से जोडे। इस अवसर पर जिला अंत्योदय समिति के उपाध्यक्ष दौलत भावसार ने अंत्योदय समिति की अध्यक्षता कर रहे जिले के प्रभारी मंत्री सारंग को विश्वास दिलाया कि हम सब जिला अंत्योदय समिति के साथ जिला प्रशासन से तालमेल व सकरात्मक सहयोग करते हुए नये आयाम समिति के माध्यम से प्रस्तुत करेगे। निश्चित रुप से जिला अंतयोदय समिति के गठन के रुप मे हम प्रत्येक सदस्य को जो आपका आर्शीवाद मिला है वह आर्शीवाद हम सब पर बने रहे ताकि सरकार की योजनाओ को धरातल पर ले जाने मे हम अपनी अहम भूमिका अदा कर सके। जिला कलेक्टर अंत्योदय समिति के सचिव आशीष सक्सेना ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि प्रभारी मंत्री की व्यवस्ता के पश्चात वे जिला अंत्योदय समिति मे उपस्थित हुए है चंुकि ये प्रथम बैठक है इसलिये इस बैठक को हम परिचयात्मक रुप मे आयोजित की है आप सभी माननीय सदस्यो से  मे आग्रह करता हुॅ कि मुख्यमंत्री की संबल योजना मे आप अपने अपने क्षैत्र मे प्रशासन को सहयोग कर अधिक से अधिक लोगो को उक्त योजना मे सकारात्मक सहयोग प्रदान करे। इस अवसर पर जिलापंचायत सी इ ओ श्रीमती जमुना भिंडे डी एफ ओ श्री शुक्ला परिवहन अधिकारी श्री गुप्ता महिला बाल विकास अधिकारी  श्री जमरा माइनिग अधिकारी श्रीमती देविका परमार एस डी एम परते सहायक आयुक्त श्री गणेश भाभोर सहित जिला अधिकारी तथा अत्ंयोदय समिति के सदस्य दिलीप कटारा लक्ष्मण नायक कल्याण डामोर निलेश मीणा कीर्ती भावसार आशुका लोडा सावित्री मेडा हरु भूरिया रमसु पारगी रसीया पारगी राजेन्द्र उपाध्याय गोविन्द अजनार वर्मा कटारा सहित समस्त सदस्य उपस्थित थे।

ग्राम लोहारिया मे प्रभारी मंत्री ने किया जनसंवाद
  • महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा संचालित उचित मूल्य की दुकान का किया उद्घाटन

jhabua news
झाबुआ । प्रभारी मंत्री श्री विष्वास सारंग ने विगत 8 जून को ग्राम लोहारिया पहुंचकर महिला स्वयं सहायता समूह द्वारा संचालित की जाने वाली षासकीय उचित मूल्य की दुकान का उद्घाटन भी किया। उद्घाटन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रभारीमंत्री श्री सारंग ने कहा कि षासन के महिला सषक्तिकरण के प्रयास रंग ला रहे है। महिलाएं अब हर क्षेत्र मे अपनी कुषल कार्यक्षमता का परिचय देते हुए आगे बढ रही है। आज से ग्राम लोहारिया की हमारी स्वयं सहायता समूह की बहने उचित मूल्य की दुकान का भी संचालन करेगी। दुकान चलाने के लिये वे पूरे आत्मविष्वास से अपने निर्णय एवं षासन द्वारा सौंपी गई जिम्मेदारी का निर्वहन करेगी। ग्राम लोहारिया मे प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने एकत्रित लोगो से संवाद किया एवं उनकी समस्याएं जानकर उनका निराकरण भी किया।

तीनो विधानसभा क्षेत्रो मे रात्रि विश्राम कर किया जनसंवाद
झाबुआ जिले के प्रवास पर आये प्रभारी मंत्री श्री विष्वास सारंग ने 6 जून को थांदला मे, 7 जून को पेटलावद मे, एवं 8 जून को झाबुआ मे रात्रि विश्राम कर आमजन से संवाद कर समस्याओ का निराकरण किया एवं जिले मे विकास कार्यो का लोकार्पण किया एवं भूमिपूजन किया।

सिविल सेवा परीक्षाओ हेतु कोचिंग योजनांतर्गत आवेदन आमंत्रित
       
झाबुआ । आयुक्त, अनुसूचित जाति विकास मध्यप्रदेष भोपाल द्वारा संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षाओ की तैयारी हेतु कोचिंग योजना अंतर्गत अनुसूचित जाति के अभ्यर्थियो से आवेदन पत्र आमंत्रित किये गये है। अतः इच्छुक आवेदक निर्धारित प्रारुप मे कोचिंग हेतु आवेदन पत्र मय आवष्यक दस्तावेजो के दिनांक 11.06.2018 तक कार्यालय मे जमा करवा सकते है अथवा सीधे आयुक्त अनुसूचित जाति विकास म0प्र0 राजीव गांधी भवन 35 ष्यामला हिल्स भोपाल एवं संभागीय उपायुक्त जनजातीय कार्य विभाग एवं अनुसूचित जाति विकास भोपाल संभाग भोपाल मे भी जमा करवा सकते है। विस्तृत जानकारी हेतु दिनांक 20.05.2018(रविवार) का नवदुनिया समाचार पत्र का अवलोकन करे अथवा कार्यालय मे सम्पर्क करे।

प्रभारी मंत्री श्री सारंग के जनसंवाद से मां बेटी को मिलेगा आषियाना
       
jhabua news
झाबुआ । जिले मे चार दिवसीय भ्रमण पर आये जिले के प्रभारी मंत्री श्री विष्वास सारंग राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार सहकारिता, भोपाल गैस त्रासदी राहत तथा पुनर्वास विभाग पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग म.प्र. षासन ने झाबुआ जिले मे जन संवाद कार्यक्रम मे आमजन की समस्याएं सुनी एवं उनका तत्काल निराकरण करने के लिए संबंधित अधिकारियो को निर्देषित किया। जनसंवाद कार्यक्रम मे विधायक श्री षांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, एसपी श्री महेषचंद्र जैन, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिडे सहित जनप्रतिनिधि षासकीय अधिकारी एवं आमजन उपस्थित थे। जनसंवाद कार्यक्रम मे प्रभारी मंत्री श्री सारंग को झाबुआ षहर के वार्ड क्र. 8 के रहवासियो ने पेयजल की समस्या के समाधान के लिये आवेदन दिया। प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने वार्ड क्रमांक 8 मे  पेयजल समस्या के निदान के लिये तत्काल ट्यूबवेल खनन करवाने के लिए निर्देष दिए। विधवा भारती एवं उनकी बेटी ने भी जनसंवाद कार्यक्रम मे प्रभारी मंत्री को अपना आवेदन दिया एवं बताया कि उनके पास रहने के लिये आवास नही है एवं ऐसा भी कोई सहारा नही है जिससे वे अपना जीवन निर्वाह आसानीसे कर पाएं। प्रभारी मंत्री श्री सारंग ने आवास के लिये पट्टा देने एवं प्रधानमंत्री आवास योजना मे आवास निर्माण करवाने के निर्देष दिये।

जनजातीय संग्रहालय का किया लोकार्पण
         
jhabua news
झाबुआ । जिला प्रषासन द्वारा कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना की पहल पर एतिहासिक धरोहर दिलीप क्लब मे बनाये गये जनजातीय संग्राहलय का जिले के प्रभारी मंत्री श्री विष्वास सारंग ने लोकार्पण किया। इस अवसर पर विधायक श्री षांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, जनप्रतिनिधि, षासकीय सेवक, आमजन उपस्थित थे। प्रभारी मंत्री एवं उपस्थित अतिथियो ने संग्रहालय का अवलोकन कर कलेक्टर द्वारा किये गये प्रयासो की सराहना की।

10 जून को सभी विकासखण्डों में होंगे किसान सम्मेलन- कलेक्टर
  • जिला मुख्यालय पर उत्कृष्ट विद्यालय के मैदान मे होगा आयोजन

झाबुआ । कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने उप संचालक कृषि , सहायक आयुक्त सहकारिता , मण्डी सचिव को निर्देशित किया है कि 10 जून को आयोजित सम्मेलन में  रबी विपणन वर्ष 2018-19 के गेहूं, चना, मसूर और सरसों उत्पादक किसानों के बैंक खातों में आरटीजीएस एनईएफटी से प्रोत्साहन राशि सीधे ट्रांसफर की जाएगी। कलेक्टर ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान 10 जून को जबलपुर में कृषक समृद्धि योजनांतर्गत किसान महा-सम्मेलन में रबी विपणन वर्ष 2018-19 के गेहूँ, चना, मसूर और सरसों उत्पादक किसानों के बैंक खातों में आरटीजीएस/एनएफटी से प्रोत्साहन राशि सीधे ट्रांसफर करेंगे। इसी दिन प्रदेश के सभी विकासखण्डों के साथ साथ जिले के झाबुआ, मेघनगर, थांदला, रानापुर, रामा, पेटलावद विकासखण्ड मुख्यालयों पर किसान सम्मेलन आयोजित होंगे। झाबुआ मुख्यालय पर उत्कृष्ट विद्यालय झाबुआ मे प्रातः 11 बजे से कार्यक्रम का आयोजन किया जायेगा। सम्मेलन में प्रातः11 बजे से दोपहर एक बजे तक कृषक संगोष्ठियां भी आयोजित की जायेंगी। संगोष्ठियों में कृषि वैज्ञानिक किसानों को कृषि की आधुनिक तकनीकों से अवगत करायेंगे। जबलपुर में हो रहे किसान महा-सम्मेलन का प्रदेश में न्यूज चैनल्स के माध्यम से सीधा प्रसारण किया जायेगा। विकासखण्ड स्तर पर होने वाले सम्मेलनों में किसान एल.ई.डी. टी.बी. के माध्यम से मुख्यमंत्री का संदेश सुन सकेंगे। सम्मेलन में किसानों को स्वाइल हेल्थ कार्ड, फसल-चक्र में परिवर्तन, नवीन उन्नत बीज, अंतवर्ती फसल, उद्यानिकी फसलों को बढ़ावा, खेतों की मेड़ों पर वृक्षारोपण, जैविक खेती के साथ ही प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, कस्टम हायरिंग और कस्टम प्रोसेसिंग, पशुपालन, मछली पालन को बढ़ावा देने की योजना के साथ मुख्यमंत्री कृषक युवा उद्यमी योजना की विस्तृत जानकारी भी दी जायेगी। सम्मेलन स्थल पर कृषि उपलब्धि और कृषि की आधुनिक तकनीकी पर केन्द्रित प्रदर्शनी लगाई जायेगी। कलेक्टर श्री आषीष सक्सेना ने इस संबंध मे सर्व संबंधित अधिकारियों से कहा है कि अधिकाधिक कृषकों को आमंत्रित करते हुए समस्त तैयारियां पूरी करें ।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...