दरभंगा सांसद कीर्ति आजाद ने की राहुल गांधी की तारीफ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 जून 2018

दरभंगा सांसद कीर्ति आजाद ने की राहुल गांधी की तारीफ

kirti-azad-appreciate-rahul-gandhi
दरभंगा, 14 जून, भाजपा के निलंबित सांसद कीर्ति आजाद ने यहां गुरुवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की जमकर तारीफ की और अगले साल लोकसभा चुनाव कांग्रेस के टिकट पर लड़ने के संकेत दिए। आजाद ने यहां संवाददाताओं से कहा, "राहुल गांधी के पार्टी अध्यक्ष बनने के बाद से कांग्रेस तेजी से आगे बढ़ रही है। उन्होंने कई ज्वलंत मुद्दों को उठाकर जनता का समर्थन प्राप्त किया है, जिससे कांग्रेस का ग्राफ बढ़ा है। इसका प्रमाण हाल में हुए उपचुनावों में भी देखने को मिला। राहुल की सक्रियता भाजपा के लिए खतरे की घंटी है।" पूर्व क्रिकेट खिलाड़ी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए सवालिया लहजे में कहा, "पिछले चुनाव के समय जितना कुछ कहा गया था क्या वह पूरा हो पाया? आज लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है। हर तबका परेशान है। आखिर चुनावी वादे पूरे क्यों नहीं हो रहे?" अगला चुनाव लड़े जाने के संबंध में पूछे जाने पर उन्होंने कुछ स्पष्ट तो नहीं किया, मगर इतना जरूर कहा, "अगला लोकसभा चुनाव मैं दरभंगा से ही लड़ूंगा और वह भी किसी राष्ट्रीय पार्टी से ही लड़ूंगा।" उन्होंने किसी पार्टी का नाम तो नहीं लिया, लेकिन राहुल गांधी की तारीफ में जिस तरह कसीदे पढ़े, उससे कयास लगाया जाने लगा है कि आजाद अगला चुनाव कांग्रेस के टिकट पर ही लड़ेंगे। भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने भी बुधवार को पटना में राजद की इफ्तार दावत में शामिल होने के बाद अगला चुनाव राजद के टिकट पर चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं। देशभर में अपनी पहचान रखने वाले ये दोनों नेता कई मौकों पर भाजपा के अलावा प्रधानमंत्री मोदी की भी आलोचना करते रहे हैं। कीर्ति आजाद को तो पार्टी ने निलंबित कर दिया है, लेकिन 'बिहारी बाबू' पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के साथ मिलकर अपनी ही पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोले हुए हैं, फिर भी उन पर कार्रवाई नहीं की गई है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...