बिहार : बापूधाम केंद्रीय विवि के प्रोफेसरों के साथ अविलंब वार्ता कर गतिरोध समाप्त करे सरकार : माले - Live Aaryaavart

Breaking

शुक्रवार, 15 जून 2018

बिहार : बापूधाम केंद्रीय विवि के प्रोफेसरों के साथ अविलंब वार्ता कर गतिरोध समाप्त करे सरकार : माले

talk-in-bapudhanm-university-cpi-ml
पटना (आर्यावर्त डेस्क) 15 जून,  माले राज्य सचिव कुणाल ने कहा है कि चंपारण में लंबे आंदोलन के उपरांत बापूधाम केंद्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना हुई थी जिससे आम लोगों में उम्मीद जगी थी कि चंपारण में उच्च शिक्षा का बेहतर माहौल बनेगा. लेकिन आज ठीक इसका उलटा हो रहा है. विश्वविद्यालय के वर्तमान वीसी अरविंद अग्रवाल की मनमानी व तानाशाही रवैये की वजह से यह शैक्षणिक केंद्र पूरी तरह विवाद का केंद्र स्थल बन गया है. केंद्र व राज्य सरकार का रूख भी इस केंद्रीय विश्वविद्यालय के प्रति बेहद उदासीन है. माले राज्य सचिव ने कहा कि कुलपति दरअसल केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के बेहद करीबी हैं और नियम-कानून को दरकिनार कर उनके इशारे पर चलते हैं. उनके विचार से भिन्न मत रखनेवाले प्रोफेसरों व छात्रों को साजिशन तबाह किया जा रहा है और झूठे यौन शोषण का आरोप लगाकर मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है. भाकपा-माले की स्थानीय टीम ने पूरे मामले का जायजा लिया. इस टीम में भाकपा-माले के नगर सचिव विष्णुदेव यादव, जिला कमिटी सदस्य राघव साह और महासंघ गोपगुट के राज्य अध्यक्ष भाग्यनारायण चैधरी शामिल थे. माले नेताओं ने बापूधाम केंद्रीय विवि में भूख हड़ताल पर बैठे प्रोफेसरों के साथ एकजुटता जाहिर की. जांच टीम ने कहा कि कुलपति के तानाशाही रवैये ने पूरी तरह से कैंपस के माहौल को तनावपूर्ण बना दिया है. भाकपा-माले ने शिक्षकों व छात्रों की 15 सूत्री को अविलंब पूरी करने की मांग करते हुए कहा है कि केंद्र सरकार इस मामले में तत्काल हस्तक्षेप करे और विश्वविद्यालय में गतिरोध को समाप्त करवाये.
एक टिप्पणी भेजें
Loading...