जम्मू कश्मीर में ईमानदार प्रशासन से ही स्थिरता, शांति संभव : राजनाथ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 6 जुलाई 2018

जम्मू कश्मीर में ईमानदार प्रशासन से ही स्थिरता, शांति संभव : राजनाथ

honest-administration-stable-kashmir-rajnath
श्रीनगर , पांच जुलाई, जम्मू कश्मीर में राज्यपाल शासन लगने के बाद पहली बार राज्य के दौरे पर पहुंचे गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि राज्य में शांति एवं स्थिरता एक ईमानदार , प्रभावी और कुशल प्रशासन से ही लायी जा सकती है।  सिंह ने यह बात एक उच्च स्तरीय बैठक में राज्य की सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के बाद कही जिसमें राज्यपाल एन एन वोहरा , राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और प्रशासन एवं पुलिस के शीर्ष अधिकारी मौजूद थे।  सिंह के हवाले से जारी एक बयान में कहा गया , ‘‘ एक विकसित एवं समृद्ध जम्मू कश्मीर का सपना तब साकार होगा जब राज्य में शांति एवं सामान्य स्थिति होगी। राज्य में एक ईमानदार , प्रभावी एवं कुशल प्रशासन के जरिये शांति , स्थिरता लाना हमारा दृढ़ संकल्प है। ’’  राज्य के लिए आगे के रास्ते की चर्चा करते हुए सिंह ने कहा कि विकास और सुशासन जम्मू कश्मीर के लोगों के लिए सपना रहा है और केंद्र सरकार व्यवस्था में जवाबदेही और पारदर्शिता लाने के सभी संभव उपाय करने के लिए प्रतिबद्ध है।  उन्होंने कहा , ‘‘ सुशासन और विकास पर नवीनीकृत जोर के साथ केंद्र राज्य के लोगों के बीच नयी आकांक्षाओं और आशा का संचार करने करना चाहता है। ’’  गृह मंत्री ने कहा कि समस्याओं का हल लोगों के सशक्तिकरण और स्थानीय स्वशासन वाली संस्थाओं को मजबूती प्रदान करने में निहित है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...