हत्या के दोषियों को माला पहनाने पर जयंत सिन्हा ने खेद जताया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 12 जुलाई 2018

हत्या के दोषियों को माला पहनाने पर जयंत सिन्हा ने खेद जताया

jayant-sinhaa-excuse
नई दिल्ली, 11 जुलाई, केंद्रीय नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने एक व्यक्ति को पीट पीटकर मार डालने के जुर्म में निचली अदालत द्वारा दोषी करार दिए गए मुजरिमों का स्वागत फूल माला पहनाकर करने पर बुधवार को खेद जताया। समाचार एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, जयंत सिन्हा ने कहा, "मैं पहले भी कई बार कह चुका हूं कि मामला (हत्या का) अदालत के विचाराधीन है। इस पर बात करना सही नहीं होगा। कानून अपना काम करेगा। हमने हमेशा दोषियों को सजा दिलाने और निर्दोषों को बचाने का काम किया है। अगर उन्हें (हत्या के दोषियों को) माला पहनाने से ऐसा संदेश गया है कि मैं कानून को अपने हाथ में लेकर कार्रवाई करने वालों का समर्थन करता हूं तो इसका मुझे खेद है।" हार्वर्ड के पूर्व छात्र जयंत ने झारखंड के अपने निर्वाचन क्षेत्र हजारीबाग स्थित अपने आवास पर इन आठ दोषियों का स्वागत फूल माला पहनाकर किया था। ऊपरी अदालत ने इन सभी को जमानत पर छोड़ा है। स्वागत की यह तस्वीर बड़े पैमाने पर आनलाइन साझा की गई और विपक्ष तथा जयंत सिन्हा के पिता व पूर्व भाजपा नेता यशवंत सिन्हा ने उनकी निंदा की। कांग्रेस ने जयंत के इस्तीफे की मांग की थी और कहा था कि इससे साफ हो गया है कि भाजपा ऐसे अपराधों के आरोपियों और दोषियों का परोक्ष समर्थन करती है। एक फास्ट ट्रैक अदालत ने इन सभी आठों को मांस व्यापारी अलीमुद्दीन अंसारी की 29 जून को की गई हत्या में दोषी ठहराया था। अंसारी की हत्या भीड़ ने गोमांस ले जाने के शक में पीट पीटकर कर दी थी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...