आम उत्पादन 2017-18 में 8 प्रतिशत बढ़कर 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 31 जुलाई 2018

आम उत्पादन 2017-18 में 8 प्रतिशत बढ़कर 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान

mango-production-increase
नयी दिल्ली, 30 जुलाई, देश में आम का उत्पादन फसल वर्ष 2017-18 में 8 प्रतिशत बढ़कर 2.10 करोड़ टन रहने का अनुमान है। प्रमुख उत्पादक राज्यों में अच्छी फसल से आम का उत्पादन बढ़ा। इससे पिछले फसल वर्ष में आम का उत्पादन 1.95 करोड़ टन था।  कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘देश में आम का उत्पादन हर साल बढ़ रहा है। सरकार ने आम का उत्पादन और निर्यात बढ़ाने के लिये कई कदम उठाये हैं।’’  अधिकारी ने कहा कि केंद्र प्रायोजित योजना एकीकृत बागवानी विकास मिशन के तहत आम की उत्पादकता बढ़ाने पर गौर किया जा रहा है। ताजा आंकड़े के अनुसार आम का अधिकतम उत्पादन उत्तर प्रदेश से अनुमानित है। उसके बाद क्रमश: आंध्र प्रदेश और कर्नाटक का स्थान है। उत्तर प्रदेश में आम का उत्पादन 2017-18 में 45.4 करोड़ टन रहने का अनुमान है जो इससे पूर्व वर्ष में 43.4 लाख टन था। वहीं आंध्र प्रदेश में 44.8 लाख टन तथा कर्नाटक में 18.1 लाख टन अनुमानित है। अधिक उत्पादन के बावजूद इसका निर्यात 50,000 टन सालाना भी नहीं है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...