ब्राड-एंडरसन के तूफान में उड़ा भारत, पारी और 159 रन से हारा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 13 अगस्त 2018

ब्राड-एंडरसन के तूफान में उड़ा भारत, पारी और 159 रन से हारा

india-post-inning-defeat-second-test
लंदन, 12 अगस्त,  इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों के सामने भारतीय बल्लेबाजों ने एक बार फिर घुटने टेक दिए जिससे मेजबान टीम ने वर्षा से प्रभावित दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे ही दिन आज यहां पारी और 159 रन की जीत के साथ पांच मैचों की श्रृंखला में 2-0 की बढ़त बना ली। बारिश के कारण पहले दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी जबकि बाकी दिन भी बारिश की आंख मिचौली चलती रही लेकिन इसके बावजूद इंग्लैंड की टीम ने यह मैच सिर्फ 170 . 3 ओवर के खेल में जीता। विराट कोहली की कप्तानी में यह भारत की पारी के अंतर से पहली हार है।  पहली पारी की तरह दूसरी पारी में भी इंग्लैंड के तेज गेंदबाजों का दबदबा रहा। जेम्स एंडरसन (23 रन पर चार विकेट) और स्टुअर्ट ब्राड (44 रन पर चार विकेट) ने शीर्ष और मध्यक्रम को ध्वस्त किया जिससे भारतीय टीम दूसरी पारी में 47 ओवर में 130 रन पर ढेर हो गई।  भारत की ओर से हार्दिक पंड्या (26) और रविचंद्रन अश्विन (नाबाद 33) ही 20 रन के आंकड़े को पार कर पाए। दोनों ने सातवें विकेट के लिए 55 रन की भारत की मैच की सर्वश्रेष्ठ साझेदारी करके टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। पहली पारी में 29 रन बनाने वाले अश्विन दोनों पारियों में भारत के शीर्ष स्कोरर रहे।

पहले दोनों सत्र में बारिश के कारण समय से पहले ब्रेक लेना पड़ा। भारत ने दूसरे सत्र में 23 ओवर में सिर्फ 49 रन जोड़कर चार विकेट गंवाए जो सभी ब्राड के खाते में गए। इससे पहले भारत के पहली पारी में 107 रन के जवाब में इंग्लैंड ने 88 .1 ओवर में सात विकेट पर 396 रन बनाकर पहली पारी घोषित की। मेजबान टीम ने पहली पारी के आधार पर 289 रन की बढ़त हासिल की। इंग्लैंड ने दिन की शुरुआत छह विकेट पर 357 रन से की। इंग्लैंड की टीम ने सुबह के सत्र में तेजी से रन जुटाने की कोशिश की लेकिन मोहम्मद शमी (96 रन पर तीन विकेट) ने बल्लेबाजों को काफी परेशान किया। शमी ने क्रिस वोक्स (नाबाद 137) और सैम कुरेन (40) को कई बार छकाया लेकिन विकेट हासिल करने में नाकाम रहे। बल्लेबाजों को रन बनाने में परेशानी हो रही थी लेकिन हल्की बारिश शुरू होने पर कुरेन ने तेजी से रन जुटाने की कोशिश की। उन्होंने कुछ अच्छे शाट मारे लेकिन हार्दिक पंड्या (66 रन पर तीन विकेट) ही गेंद पर थर्ड मैन पर लपके गए जिसके बाद इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने पारी घोषित कर दी। 

दूसरी पारी में भी भारत की शुरुआत खराब रही। एंडरसन ने मुरली विजय को पारी के तीसरे ओवर में विकेटकीपर जानी बेयरस्टा के हाथों कैच कराकर लार्ड्स पर अपना 100वां टेस्ट विकेट हासिल किया। विजय किसी टेस्ट की दोनों पारियों में खाता खोलने में नाकाम रहने वाले भारत के छठे सलामी बल्लेबाज बने। वह 2018 में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड में विदेशी सरजमीं पर 10 पारियों में केवल 128 रन बना पाए हैं। चार ओवर बार एंडरसन ने सलामी बल्लेबाज लोकेश राहुल (10) को भी पगबाधा किया। कप्तान विराट कोहली चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिए नहीं आए क्योंकि पीठ में जकड़न के कारण सुबह वह क्षेत्ररक्षण के लिए मैदान पर नहीं उतरे थे।  बारिश के कारण लंच ब्रेक जल्दी लेना पड़ा। लगभग डेढ़ घंटे के विलंब के बाद जब खेल दोबारा शुरू हुआ तो वोक्स (24 रन देकर दो विकेट), एंडरसन और ब्राड ने भारतीय बल्लेबाजों को काफी परेशान किया। अजिंक्य रहाणे (13) पांच रन के निजी स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब वोक्स की गेंद उनके बल्ले का अंदरूनी किनारा लेने के बाद पैड से टकराकर स्लिप की ओर उछली लेकिन क्षेत्ररक्षक के हाथों तक नहीं पहुंची। इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने इसके बाद गेंद ब्राड को थमाई और उनके नये स्पैल के दूसरे ओवर में ही रहाणे बाहर की ओर मूव होती गेंद से छेड़छाड़ की कोशिश में तीसरी स्लिप में कीटोन जेनिंग्स को आसान कैच दे बैठे।

कोहली (17) ने ब्राड पर चौका जड़ा लेकिन इस तेज गेंदबाज ने पुजारा को लगातार परेशान करने के बाद अंतत: बोल्ड कर दिया जिससे भारत का स्कोर चार विकेट पर 50 रन हो गया। पुजारा ने 17 रन बनाए। ब्राड ने चाय के ब्रेक से कुछ देर पहले उछाल लेती गेंद पर कोहली को शार्ट लेग पर ओलिवर पोप के हाथों कैच कराया। कोहली ने डीआरएस का सहारा लिया लेकिन रीप्ले में दिखा की गेंद उनके ग्लव्स को छूने के बाद पोप की ओर उछली थी।  ब्राड ने अगली गेंद पर दिनेश कार्तिक को भी पगबाधा किया। कार्तिक ने भी डीआरएस लिया लेकिन फैसला गेंदबाज के पक्ष में गया जिससे भारत का स्कोर छह विकेट पर 61 रन हो गया।  चाय के बाद पंड्या और अश्विन को शुरुआत में काफी परेशानी हुई। ब्राड की गेंद पंड्या जबकि कुरेन की अश्विन की अंगुली पर लगी जिससे दोनों को मैदान पर ही उपचार करना पड़ा। पंड्या और अश्विन ने हालांकि इसके बाद कुछ आकर्षक शाट खेले। पंड्या ने ब्राड के लगातार चार ओवर में चार चौके मारे और इस दौरान अश्विन के साथ मिलकर 39वें ओवर में टीम का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया। अश्विन ने भी ब्राड और एंडरसन की गेंदों को बाउंड्री के दर्शन कराए। 

वोक्स ने इसके बाद गेंदबाजी में वापसी करते हुए पहली ही गेंद पर पंड्या को पगबाधा किया। मैदानी अंपायर ने पंड्या को नाटआउट करार दिया था लेकिन डीआरएस लेने पर फैसला गेंदबाज के पक्ष में गया। एंडरसन ने इसके बाद कुलदीप यादव को बोल्ड करके उन्हें मैच में लगातार दूसरी बार खाता खोले बिना पवेलियन भेजा। यह चौथा मौका है जब किसी टेस्ट में भारत के दो बल्लेबाज दोनों पारियों में खाता खोलने में नाकाम रहे। एंडरसन ने मोहम्मद शमी (00) को पगबाधा करके भारत को नौवां झटका दिया जबकि वोक्स ने इशांत शर्मा (02) को लेग गली में पोप के हाथों कैच कराके इंग्लैंड को जीत दिलाई।
एक टिप्पणी भेजें