अफगानिस्तान : शिया मस्जिद पर आतंकी हमला, 35 लोगों की मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 अगस्त 2018

अफगानिस्तान : शिया मस्जिद पर आतंकी हमला, 35 लोगों की मौत

mosque-attack-afghanistan-35-dead
काबुल, 3 अगस्त, अफगानिस्तान के गरदेज शहर में शुक्रवार को एक शिया मस्जिद में हुए दो विस्फोटों में कम से कम 35 लोगों की मौत हो गई और 70 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि विस्फोट दोपहर बाद करीब 1.30 बजे उस समय हुए, जब लोग गरदेज शहर के पुलिस जिला 2 में इमाम-ए-जमान मस्जिद में जुमे की नमाज अदा कर रहे थे। गरदेज शहर पूर्वी पकटिया प्रांत की राजधानी है। टोलो न्यूज ने पकटिया पुलिस प्रमुख के हवाले से कहा कि दो बंदूकधारी मस्जिद में दाखिल हो गए और उन्होंने खुद को उड़ाने से पहले नमाजियों पर गोलीबारी की। मस्जिद की इमारत विस्फोट से क्षतिग्रस्त हो गई। हमलावारों ने हमले के दौरान हथगोलों को इस्तेमाल किया। प्रांतीय स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख वलायत अहमदजई ने मृतकों की संख्या की पुष्टि की है। अहमदजई ने कहा, "बहुत से घायलों को सेना के अस्पताल अफगाान सेना कॉर्प 203 थांडेर में गहन चिकित्सा के लिए भर्ती कराया गया है, क्योंकि सरकारी अस्पताल सभी पीड़ितों को उपचार मुहैया कराने में सक्षम नहीं थे।" टोलो न्यूज के अनुसार, उन्होंने चेताया कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है, क्योंकि बहुत से घायलों की हालत गंभीर बनी हुई है। हमले के समय करीब 600 लोग मस्जिद के अंदर थे। सुरक्षा बलों ने एहतियाती उपाय के तौर पर ख्वाजा हसन के आसपास के इलाके को घेर लिया है। यह शिया अफगान बहुल इलाका है। किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है। राष्ट्रपति अशरफ गनी ने हमले की निंदा की और इसे अमानवीय बताया। बीते कुछ महीनों से अफगानिस्तान में शिया मस्जिदों को आतंकी हमले का निशाना बनाया जा रहा है। इसमें ज्यादातर हमलों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट संगठन ने ली है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...