दलित होने के कारण किया पानी देने से इनकार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 अगस्त 2018

दलित होने के कारण किया पानी देने से इनकार

refuse-to-give-water-to-dalit
कौशांबी उत्तर प्रदेश, एक अगस्त, विकास कार्यों की समीक्षा करने एक गांव में गई जिले की उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी के दलित होने के चलते गांव के प्रधान और ग्राम पंचायत विकास अधिकारी ने उन्हें कथित तौर पर बर्तन में पानी देने से इनकार कर दिया। घटना से आहत उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने जिलाधिकारी से इस संबंध में शिकायत की है। उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 सीमा ने बताया कि डीपीआरओ के निर्देश पर वह मंगलवार को मंझनपुर विकास खण्ड के अंबावां पूरब गांव गईं थीं। वहां उनकी बोतल का पानी खत्म हो गया था। इस पर उन्होंने ग्राम पंचायत विकास अधिकारी और ग्राम प्रधान से पानी मांगा। दोनों ने उनके दलित होने के कारण बर्तन में पानी देने से इनकार कर दिया। जब उन्होंने ग्रामीणों से पानी मांगा तो प्रधान और वीडीओ ने उन्हे भी इशारा कर पानी देने से मना कर दिया। इस संबंध में जिलाधिकारी मनीष वर्मा ने बताया कि उन्होंने पुलिस अधीक्षक को मामले की जांच कर कार्रवाई का निर्देश दिया है।
एक टिप्पणी भेजें