विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 11 अगस्त 2018

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 अगस्त

राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा कार्यक्रम के मुख्य अतिथि होंगे, ध्वजारोहण कर परेड़ की सलामी लेंगे

स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के पावन पर्व पर जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले मुख्य समारोह के मुख्य अतिथि उद्यानिकी राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा होंगे। उक्त आश्य की जानकारी सामान्य प्रशासन विभाग के द्वारा जारी की गई है। 

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना तहत आवेदन आमंत्रित

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत जिले के तीर्थ यात्री 27 अगस्त को श्रवणबेलगोला को तथा सितम्बर माह की छह तारीख को रामेश्वरम मदुरई, 20 सितम्बर को कामाख्या देवी तीर्थ दर्शन के लिए जबकि 21 सितम्बर को शिर्डी और हरिद्वार ऋषिकेश अमृतसर के लिए तथा 27 सितम्बर को तिरूपति तीर्थ दर्शन के लिए तीर्थ यात्री स्पेशल टेªन से रवाना होंगे। प्रत्येक तीर्थ यात्रा के लिए हितग्राहियों से आवेदन प्राप्ति की तिथियां निर्धारित की गई है जिसकेे अनुसार श्रवणबेलगोला के लिए 13 अगस्त तक, रामेश्वरम् मदुरई हेतु 21 अगस्त तक, कामाख्या देवी हेतु चार सितम्बर, शिर्डी और हरिद्वार ऋषिकेश अमृतसर के लिए आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि पांच सितम्बर है। जबकि तिरूपति तीर्थ दर्शन हेतु जाने के इच्छुक हितग्राही अपने आवेदन 11 सितम्बर तक जनपद एवं निकाय कार्यालय में जमा कर सकते है।  मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के संचालक द्वारा जिले से जाने वाले हरेक तीर्थ यात्रा के लिए लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके अनुसार श्रवणबेलगोला के लिए 170 तीर्थ यात्री 27 अगस्त को रवाना होगे और एक सितम्बर को वापिस आएंगे। रामेश्वरम् मदुरई के लिए दो सौ तीर्थ यात्री छह सितम्बर को रवाना होंगे और 12 सितम्बर को वापिस आएंगे। कामाख्या तीर्थ दर्शन के लिए 175 तीर्थ यात्री 20 सितम्बर को रवाना होगे और 25 सितम्बर को वापिस आएंगे। शिर्डी के लिए जिले के 250 तीर्थ यात्री 21 सितम्बर को रवाना होगे और 24 सितम्बर को वापिस आएंगे। हरिद्वारा ऋषिकेश अमृतसर तीर्थ दर्शन हेतु जिले के 125 तीर्थ यात्री 21 सितम्बर को रवाना होगे और 26 सितम्बर को वापिस आएंगे। तिरूपति तीर्थ दर्शन के लिए विदिशा जिले से दो सौ तीर्थ यात्री 27 सितम्बर को स्पेशल टेªन से रवाना होंगे और दर्शन उपरांत दो अक्टूबर को वापिस विदिशा आएंगे। मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अंतर्गत किसी भी एक यात्रा का लाभ उठा चुके वे तीर्थ यात्री पुनः आवेदन प्रस्तुत ना करें। संबंधित तीर्थ दर्शन के लिए निर्धारित लक्ष्य से अधिक आवेदन प्राप्त होते है तो तीर्थ यात्रियों का चयन कम्प्यूटर रेण्डमाइजेशन प्रणाली से किया जाएगा।

फायनल रिहर्सल 13 को

स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त के पावन पर्व पर जिला मुख्यालय पर आयोजित होने वाले मुख्य समारोह में शामिल कार्यक्रमों का जारी पूर्वाभ्यास का फायनल रिहर्सल 13 अगस्त की प्रातः नौ बजे से पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित किया गया है। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह और पुलिस अधीक्षक श्री विनीत कपूर के द्वारा संयुक्त रूप से फायनल रिहर्सल का जायजा लिया जाएगा।

सफलता की कहानी : संकट में सहारा बनी योजना

vidisha news
मुख्यमंत्री जनकल्याण संबल योजना पीड़ितांे के संकटो में सहारा बनकर उन्हें आर्थिक मदद कर रही है। विदिशा जिले के ग्राम खेजडाताल के योजना तहत पंजीकृत हितग्राही विक्रम ंिसंह की आकस्मिक मृत्यु हो जाने पर उद्यानिकी राज्यमंत्री श्री सूर्यप्रकाश मीणा ने अपने हाथो से हितग्राही अंजू बाई आदिवासी को दो लाख रूपए की सहायता राशि का चेक प्रदाय किया।  हितग्राही श्रीमती अंजू बाई आदिवासी का कहना है कि संकट में सहारा बनकर मुख्यमंत्री जी ने जो राशि दी है उसका मैं बच्चों के पालन पोषण पर खर्च कर उनके पिता की महत्वकांक्षा के अनुरूप शिक्षा दिलाने का कार्य करूंगी। ज्ञातव्य हो कि नटेरन तहसील के ग्राम खेजडाताल के विक्रम आदिवासी की विगत दिनों आकस्मिक रूप से मृत्यु हो जाने पर अपने पीछे दो वर्ष की कुमारी साक्षी और डेढ माह की मास्टर रक्षा का पालन पोषण दादा श्री खूब सिंह की देखरेख में किया जा रहा है। अंजू स्वंय पांचवी पास है और अपने दोनो बेटियांे को पढा लिखाकर अधिकारी बनाना चाह रही हूं। 

गत दिवस चार तहसीलों में वर्षा दर्ज 

जिले की तहसीलों में स्थापित वर्षामापी यंत्रों पर शनिवार को दर्ज की गई वर्षा की जानकारी देते हुए अधीक्षक भू-अभिलेख श्रीमती सविता पटेल ने बताया कि 11 अगस्त को जिले में 13.2 मिमी औसत वर्षा दर्ज की गई है। जबकि जिले में अब तक 537.3 मिमी औसत वर्षा हो चुकी है। वही इस अवधि में पिछले वर्ष 543.5 मिमी औसत वर्षा हुई थी। जिले की सामान्य वर्षा 1075 मिमी है।शनिवार को तहसीलवार दर्ज की गई वर्षा तदानुसार बासौदा में सात मिमी, कुरवाई में 51.2 मिमी, सिरोंज में दो मिमी एवं लटेरी मंे 45 मिमी वर्षा दर्ज की गई है। बाकी अन्य तहसीलों में वर्षा नगण्य रही।
एक टिप्पणी भेजें