गोपनीय सूचनाएं साझा करने के आरोप में बीएसएफ कांस्टेबल गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 19 सितंबर 2018

गोपनीय सूचनाएं साझा करने के आरोप में बीएसएफ कांस्टेबल गिरफ्तार

bsf-consteble-arrest-isi-link
नोएडा/लखनऊ, 19 सितंबर, उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधक बल (एटीएस) ने पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की एजेंट के साथ गोपनीय सूचनाएं साझा करने के आरोप में बीएसएफ के एक कांस्टेबल को नोएडा से गिरफ्तार किया है। पुलिस का कहना है कि आईएसआई की एक महिला एजेंट कांस्टेबल अच्युतानंद मिश्र को हनीट्रैप में फंसा कर उससे गोपनीय सूचनाएं हासिल कर रही थी और उसे अपनी एजेंसी को भेज रही थी। उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक ओम प्रकाश सिंह ने बुधवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि सीमा सुरक्षा बल के कांस्टेबल अच्युतानंद मिश्रा को एटीएस टीम ने मंगलवार को नोएडा सेक्टर-18 से गिरफ्तार किया। मध्यप्रदेश में रीवा के रहने वाले मिश्र को देश की गोपनीय और संवेदनशील सूचनाएं आईएसआई के साथ साझा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। सिंह ने बताया कि आरोपी से अभी पूछताछ की जा रही है। पुलिस प्रमुख ने बताया कि प्रारंभिक पूछताछ के दौरान मिश्र ने स्वीकार किया है कि उसने भारत के सामरिक महत्व के ठिकानों, आंतरिक सूचनाएं तथा बीएसएफ और सेना के प्रशिक्षण केन्द्रों आदि की सूचनाएं आईएसआई को दी हैं। उन्होंने कहा, पूछताछ में पता चला है कि आईएसआई की एक महिला एजेंट ने कांस्टेबल से फेसबुक पर दोस्ती की थी। मिश्र ने बीएसएफ के कई महत्वपूर्ण दस्तावेज महिला के साथ साझा किये। सिंह ने बताया कि मिश्र के बैंक के खातों को भी खंगाला जा रहा है। इससे पता चलेगा कि मिश्र ने सूचनाएं साझा करने के बदले आईएसआई से धन लिया है या नहीं। उन्होंने कहा कि मिश्र के खिलाफ देशद्रोह सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज किया जाएगा।
एक टिप्पणी भेजें