सुजलॉन को 280 करोड़ रुपये का घाटा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 15 नवंबर 2018

सुजलॉन को 280 करोड़ रुपये का घाटा

280-crore-loss-for-suzlon
नई दिल्ली 14 नवंबर, वित्त वर्ष 2018-19 की दूसरी तिमाही में नवीकरणीय ऊर्जा समाधान मुहैया कराने वाली प्रमुख कंपनी सुजलॉन समूह ने साल-दर-साल आधार पर 280 करोड़ रुपये का घाटा दर्ज किया है। कंपनी ने बुधवार को एक बयान में कहा कि हालांकि समीक्षाधीन अवधि में कंपनी के एबिट्डा (कर, वेतन समेत अन्य देनदारियां चुकाने से पहले की आय) में 9.6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, जोकि 280 करोड़ रुपये रही। सुजलॉन समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे. पी. चालसानी ने कहा, "हमने तमिलनाडु के चंद्रा गिरी में 250 मेगावॉट क्षमता वाली सेंबकॉर्प इनर्जी इंडिया लि. (एसईआईएल) के एसईसीआई 1 पवन ऊर्जा परियोजना को सफलतापूर्वक पूरा किया। हम एकलौते ईपीसी कंपनी हैं, जिसने समूची परियोजना को मूल समय और डेडलाइन से छह महीने पहले पूरा किया है।" उन्होंने बताया, "हमने एक और मील का पत्थर पार किया और भारत में 12 गीगावॉट और दुनिया भर में 18 गीगावॉट क्षमता की नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापना की।" समूह के मुख्य वित्तीय अधिकारी कीर्ति वगाडिया ने कहा, "वित्त वर्ष 2018-19 की दूसरी तिमाही में हमारा प्रदर्शन बदलाव के चरण के लंबा खिंचने से प्रभावित हुआ है। इससे हमारा वॉल्यूम भी कमजोर हुआ है। इसके साथ ही रुपये के मूल्य में गिरावट का भी हमारे प्रदर्शन पर असर पड़ा है।"

एक टिप्पणी भेजें