बिहार : 17 साल के वनवास के बाद बिहार रणजी ट्रॉफी के प्रथम मैच में साठ रन पर ढेर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 1 नवंबर 2018

बिहार : 17 साल के वनवास के बाद बिहार रणजी ट्रॉफी के प्रथम मैच में साठ रन पर ढेर

  • संत माइकल हाई स्कूल के पूर्ववती छात्र कुमार रजनीश 9 गेंद पर 5 रन बनाया

bihar-out-in-60-ranji
पटना। आज अपना प्रदेश के लिए ऐतिहासिक दिवस है। बिहार का 17 साल का वनवास खत्म हो गया। आज से बिहार चार दिवसीय रणजी ट्रॉफी मैच खेलना शुरू कर दिया है। मगर वह प्रथम रणजी ट्रॉफी मैच के प्रथम पारी में धमाकेदार प्रदर्शन नहीं कर सका। महज साठ रन पर ढेर हो गया।इसके जवाब में उत्तराखंड तीन विकेट खोकर 124 रन बना लिए हैं। जी आज से चार दिवसीय रणजी ट्रॉफी मैच शुरू हुआ। बिहार का प्रथम मैच उत्तराखंड के साथ खेला गया। मगर देहरादुन के मैदान बिहार को रास नहीं आया। प्रथम पारी की बल्लेबाजी में बिहार महज साठ रन पर ढेर हो गया। सभी की निगाहे कुमार रजनीश पर था जो अंडर-19 का कप्तानी किए थे। काफी निराश किया।संत माइकल हाई स्कूल के पूर्ववती छात्र कुमार रजनीश ने 9 गेंद खेले और 5 रन ही बनाए।  दीघा थाना क्षेत्र की कुर्जी गंगा किनारे रहने वाले कुमार रजनीश के शानदार प्रदर्शन की उम्मीद मोहल्ला वाले पाल रखे थे। पर वह उम्मीद पर खरा नहीं उतरे। अब द्वितीय पारी की प्रतीक्षा करने लगे हैं। 
एक टिप्पणी भेजें