भारतीय प्रेस परिषद ने की राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा - Live Aaryaavart

Breaking

बुधवार, 7 नवंबर 2018

भारतीय प्रेस परिषद ने की राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा

pci-announce-ward-2018
नयी दिल्ली, 06 नवंबर, भारतीय प्रेस परिषद ने पत्रकारिता में उत्कृष्टता- 2018 के लिए राष्ट्रीय पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। द हिन्दू प्रकाशन समूह के अध्यक्ष एवं प्रख्यात पत्रकार एन. राम को प्रतिष्ठित श्रेणी के ‘राजा राम मोहन रॉय पुरस्कार’ के लिए चयनित किया गया है। पुरस्कारों का चयन परिषद की एक जूरी ने किया जिसके संयोजक अमर देवलापल्ली थे। परिषद के सदस्य यूनाइटेड न्यूज आफ इंडिया के संपादक अशोक उपाध्याय, डॉ. बलदेव राज गुप्ता, श्री कमल नयन नारंग, श्री राकेश शर्मा, सैयद राज हुसेन रिजवी, श्री प्रवत दास और प्रो. सुश्री सुषमा यादव जूरी में शामिल थे। इसके अलावा गुवाहाटी विश्वविद्यालय के संचार एवं पत्रकारिता विभाग के एसोसियेट प्रोफेसर डॉ. अंकुरम दत्ता जूरी के सहयोगी सदस्य थे। चयनित शख्सियतों को 16 नवंबर को राष्ट्रीय मीडिया केन्द्र में राष्ट्रीय प्रेस दिवस समारोह में पुरस्कृत किया जायेगा।  देशबन्धु, भोपाल की मुख्य संवाददाता सुश्री रूबी सरकार आैर दैनिक पुधारी, रत्नागिरि के श्री राजेश परशुराम को ‘ग्रामीण पत्रकारिता’ श्रेणी के पुरस्कार के लिए संयुक्त रूप से चुना गया है। उन्हें अपने ‘फोटो ईटी मिले, तो औरतों ने दिखाया जौहर’ और जागर सैलुरिद्दलनिकलिया लेख के लिए पुरस्कृत किया जायेगा। केरल कौमुदि के उप संपादक वी एस राजेश को ‘डेवलपमेंटल रिपोर्टिंग’ श्रेणी के पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। उन्हें केरल कौमुदि के संपादकीय पृष्ठ पर 23 से 29 जनवरी, 2017 के दौरान प्रकाशित लेखों के लिए पुरस्कृत किया जायेगा। राष्ट्रीय सहारा, दिल्ली के श्री सुभाष पॉल को ‘फोटो जनर्लिज्म-सिंगल न्यूज पिक्चर’ के लिए पुरस्कार प्रदान किया जायेगा। उन्हें राष्ट्रीय सहारा में प्रकाशित फोटो जिसका कैप्शन ‘टोल्ला अगात’था, के लिए नवाजा जायेगा। पंजाब केसरी के फोटो जनर्लिस्ट मिहिर सिंह को ‘फोटो जनर्लिज्म- फोटो फीचर’ श्रेणी के पुरस्कार के लिए चुना गया है। उन्हें फोटो कैप्शन ‘होगेट एक फुआ- ए उनट हिह’ के तहत पुरस्कृत किया जायेगा। हैदराबाद के नवा तेलंगाना के कार्टून संपादक श्री पी नरसिम्हा को ‘बेस्ट न्यूजपेर आर्ट’ श्रेणी के लिए पुरस्कार के लिए चयनित किया गया है। उन्हें ‘पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनावों में हिंसा’ कैप्शन से प्रकाशित कार्टून के लिए पुरस्कृत किया जायेगा। नयी शुरू की गयी ‘स्पोर्टस रिपोर्टिंग’ श्रेणी के पुरस्कार के लिए किसी प्रतियोगी की रचना योग्य नहीं पायी गयी। भारतीय प्रेस परिषद ने इन पुरस्कारों को 2012 से प्रदान करना शुरू किया था। ये पुरस्कार प्रिंट मीडिया के पत्रकारों, फोटो जर्नलिस्ट और स्वतंत्र पत्रकारों को उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से शुरू किये गये थे।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...