'सुपर 30' के छात्रों को जापान में पढ़ने का न्योता देने पटना पहुंचे योशिनो - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 3 नवंबर 2018

'सुपर 30' के छात्रों को जापान में पढ़ने का न्योता देने पटना पहुंचे योशिनो

yoshino-invite-super-30-student-to-japan
पटना, 2 नवंबर, 'सुपर 30' के दो छात्रों के जापान के टोक्यो विश्वविद्यालय में शानदार प्रदर्शन को देखते हुए विश्वविद्यालय प्रशासन ने 'सुपर 30' के ऊर्जावान छात्रों को वहां ले जाने की योजना बनाई है। इसी सिलसिले में टोक्यो विश्वविद्यालय के इंडिया ऑपरेशन हेड हिरोशी योशिनो शुक्रवार को पटना पहुंचे और 'सुपर 30' के संस्थापक आनंद कुमार व उनके छात्रों से बातचीत की। टोक्यो विश्वविद्यालय ने 'सुपर 30' के छात्रों से प्रभावित होकर दो छात्र अभिषेक गुप्ता और कुणाल कुमार को पूरे स्कॉलरशिप के साथ पढ़ने के लिए दो साल पहले आमंत्रित किया था। अब दोनों छात्रों के बेहतरीन प्रदर्शन को देखते हुए और छात्रों को वहां ले जाने की योजना बनाई है। हिरोशी योशिनो ने कहा, "आज जापान में युवाओं की कमी हो रही है, जबकि भारत बतौर युवाओं का देश जाना जाता है। जापान चाहता है कि भारतीय युवाओं को वहां के विश्वविद्यालय में पढ़ने का मौका दिया जाए, जिससे उनकी ऊर्जा और जापान की तकनीक का उपयोग कर दुनिया को और भी बेहतर बनाया जा सके।" उन्होंने कहा कि पहले जापान बाहरी छात्रों को तैयार करने में विशेष रुचि नहीं लेता था, क्योंकि वहां की भाषा यहां के छात्रों के लिए बाधा थी। वर्तमान समय में बाहर के विद्यार्थियों के लिए अंग्रेजी में स्नातक और स्नातकोत्तर कोर्स की सुविधा शुरू की गई है। योशिनो ने आनंद कुमार के प्रयास की प्रशंसा करते हुए कहा कि चाहे जापान का सबसे मशहूर टीवी चैनल एनएचके हो या फिर चर्चित अखबार योमूरी, 'सुपर 30' की चर्चा जापान में अकसर होते रहती है। उन्होंने कहा कि जापान की सबसे चर्चित सिने तारिका नोरिका फुजिवारा 'सुपर 30' को देखने पटना भी आ चुकी हैं।
एक टिप्पणी भेजें