मधुबनी : जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 31 दिसंबर 2018

मधुबनी : जिला पदाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन

----15 जनवरी 2019 से प्रारंभ होने जा रहे मिजिल्स रूबेला अभियान एवं नियमित प्रतिरक्षण को लेकर दिए गए आवष्यक निदेष
district-task-force-in-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) 31,दिसंबर,: श्री शीर्षत कपिल अषोक,जिला पदाधिकारी,मधुबनी की अध्यक्षता में सोमवार को समाहरणालय स्थित सभाकक्ष में 15 जनवरी 2019 से प्रारंभ होने जा रहे मिजिल्स रूबेला अभियान एवं नियमित प्रतिरक्षण के जिला टास्क फोर्स की बैठक का आयोजन किया गया। इसके साथ ही आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्तर्गत किये जा रहे कार्यो के प्रगति की भी समीक्षा की गयी। बैठक को संबोधित करते हुए जिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,मधेपुर में कार्यरत सुश्री अमृता कुमारी,ए0एन0एम0(आर) एवं सुश्री रंजना कुमारी,ए0एन0एम0(आर) द्वारा कार्य के प्रति लापरवाही बरतने के कारण उनसे स्पष्टीकरण पूछे जाने का निदेष दिया गया, कि क्यों नहीं उनकी संविदा समाप्ति की कार्रवाई की जाय? इसके साथ ही  मधेपुर प्रखण्ड के भीठ भगवानपुर तथा भवानीपुर के क्षेत्र में आषा का पद रिक्त होने के कारण जिला स्तर से चयन संबंधी कार्रवाई शीघ्र करने का भी निदेष दिया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,बाबूबरही में बी0सी0जी0 वैक्सिन 18 भायल खराब हो जाने के कारण प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी,बाबूबरही के वेतन से प्रति भायल 2500 रूपये की दर से कुल 45000 रूपये वसूले जाने की कार्रवाई करने का निदेष दिया गया। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों द्वारा बताया गया कि मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना में बैंक द्वारा एडभाईस वापस कर दी जाती है। इस संबंध में स्टेट बैंक,झंझारपुर ट्रेजरी शाखा के संबंध में क्षेत्रीय समन्वयक, स्टेट बैंक आॅफ इंडिया को पत्र लिखने का निदेष दिया गया। साथ ही यह भी निदेष दिया गया कि कन्या उत्थान योजना के निम्न पांच उपलब्धि वाले संस्थानों की जिला स्तर से जाँच कर सिविल सर्जन,मधुबनी प्रतिवेदन प्रस्तुत करेंगे। जिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा निदेष दिया गया कि उनके स्तर से सभी प्रखण्ड विकास पदाधिकारियों को सभी संबंधित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में आधार केन्द्र प्रारंभ करने की कार्रवाई शुरू करने हेतु पत्र भेजी जाये। ताकि मुख्यमंत्री कन्या उत्थान योजना के लाभूकों को आधार कार्ड बनवाने में आसानी हो सके। उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को प्रधानमंत्री जन-आरोग्य योजना तथा मिजिल्स रूबेला अभियान को सर्वोच्च प्राथमिकता दिये जाने का निदेष दिया गया। सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को मिजिल्स रूबेला अभियान से संबंधित मोबाईल टीम का गठन करते हुए तीन दिनों के अंदर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को प्रतिवेदन उपलब्ध कराये जाने का निदेष दिया गया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र,खुटौना का मिजिल्स रूबेला माईक्रोप्लान निम्न स्तर का होने के कारण प्रखण्ड स्वास्थ्य प्रबंधक, खुटौना से स्पष्टीकरण पूछे जाने का निदेष दिया गया। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को निदेष दिया गया कि प्रत्येक तीन दिनों पर मिजिल्स रूबेला अभियान की समीक्षा किया जाना सुनिष्चित करेंगे। साथ ही सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों से कोटपा कानून का सख्ती से पालन करने का निदेष दिया गया। अगली बैठक से आई0एस0ए0 एवं जी0आर0सी0 के जिला समन्वयकों को पी.पी.टी. तैयार कर प्रस्तुत करने का निर्देष दिया गया। जिला समन्वयकों को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रवार प्रतिवेदन तैयार कर अगली बैठक में प्रस्तुत करने का निदेष दिया गया। जिला पदाधिकारी,मधुबनी द्वारा सभी प्रखण्ड स्वास्थ्य प्रबंधको को अपने कार्य के अतिरिक्त प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना के कार्यो को देखने का निदेष दिया गया। सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को निदेष दिया गया कि उनके स्वास्थ्य संस्थान में भर्ती होने वाले मरीजों को भर्ती के समय पी.एम.जे.ए.वाई. में सूचीबद्धता होने का जांच करने का निदेष दिया गया। अस्पताल प्रबंधक,सदर अस्पताल, मधुबनी में पी.एम.जे.ए.वाई. के कार्य को गति प्रदान करने से संबंधित उपलब्धि का एस.ओ.पी. तैयार कर तीन दिनों में जिला स्वास्थ्य समिति को उपलब्ध कराते हुए इसकी प्रति सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को उपलब्ध कराये जाने का निदेष दिया गया। उन्होंने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को निदेषित किया कि प्राप्त एस.ओ.पी. पर सभी चिकित्सक एवं क्लिनिकल स्टाॅफ के साथ बैठकर कार्ययोजना तैयार करना तथा इस कार्यक्रम को गति प्रदान करना सुनिष्चित करेंगे। सभी पदाधिकारियों को निदेष दिया गया कि बैठक के सात दिन पूर्व बैठक का पी.पी.टी. सिविल सर्जन को उपलब्ध कराया जाये। सिविल सर्जन संबंधित से अनुपालन प्राप्त करते हुए बैठक में उसे प्रस्तुत करेंगे।
एक टिप्पणी भेजें
Loading...