समस्तीपुर : राजद करेगा सड़क से सदन तक उग्र आंदोलन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 6 दिसंबर 2018

समस्तीपुर : राजद करेगा सड़क से सदन तक उग्र आंदोलन

rjd-will-protest-samastipur
समस्तीपुर (आर्यावर्त डेस्क) 06 दिनों से लगातार आशा कार्यकर्ता नौकरी में स्थायीकरण, नियमित वेतन और प्रमोशन समेत 15 सूत्री मांगों को लेकर समस्तीपुर सदर अस्पताल परिसर में लगातार धरने पर है l  सरकार उनकी नहीं सुन रही है l हड़ताली आशा कार्यकर्ता जिले के विभिन्न अस्पतालों में धरना प्रदर्शन आयोजित कर अपनी आवाज को बुलंद किया l आशा कार्यकर्ताओं ने कहा कि जब तक उनकी मांगों को सरकार नजरअंदाज करती रहेगी तब तक उनका आंदोलन लगातार चलता रहेगा वक्ताओं ने कहा कि आशा कार्यकर्ता को सरकार अब तक उपेक्षित रखा हैl   आंदोलनकारी आशा कार्यकर्ताओ   का कहना है कि 24 घंटे सरकार के योजनाओं का क्रियान्वयन के लिए तत्पर रहने के बावजूद उन्हें    मजदूर से भी कम राशि  दी  जाती हैं l उनकी प्रमुख  मांगो में सेवा का नियमित कर उन्हें कम से कम  ₹18000 मानदेय दिया जाए  ।लेकिन सरकार इनकी मांग को अनसुना कर रही है l  आशा कार्यकर्ताओ की प्रमुख मांगो के समर्थन में आज दिनांक -06.12.18 को  समस्तीपुर के  राजद विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन , राजद जिला अध्यक्ष विनोद कुमार राय, जिला राजद प्रवक्ता राकेश कुमार ठाकुर , राजद महासचिव रामविनोद पासवान , विश्वनाथ राम, प्रमोद राम, रोशन यादव , विजय कुशवाहा आदि राजद  नेतागण  सदर अस्पताल स्थित धरना स्थल पहुंच कर लगभग 01 घंटे तक आंदोलनकारियों के साथ धरना पर बैठे और कार्यक्रम को सम्बोधित भी किया l  धरना को सम्बोधित करते हुए  विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने आंदोलनकारियों को अपेक्षित सहयोग का भरोसा दिलाया तथा बिहार सरकार की दमनकारी नीतियों व तानाशाही रवैये की तीव्र निंदा किया l विधायक व राजद के प्रदेश प्रवक्ता श्री शाहीन ने कहा कि अगर सरकार इनकी जायज मांगों को पूरा नहीं करती है तो राजद आशा कार्यकर्ताओ के समर्थन में सड़क से सदन तक संघर्ष करेगी l  प्रांतीय राजद प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने कहा की आशा कार्यकर्ताओ से बिहार सरकार बंधुआ मजदूर की तरह काम लेती है l स्वास्थ्य सेवा से लेकर जनसंख्या, जन्म-मृत्यु समेत कई तरह के कार्यों में सेवा ली जाती है l श्री शाहीन ने  सरकार से मांग किया की  आशा कार्यकर्ताओ की  नौकरी स्थायी करे,  साथ ही नियमित वेतन दिया जाये l उन्होंने कहा की आशा कार्यकर्ता महिला सशक्तिकरण के लिए कई तरह के सरकारी कार्यक्रमो  को सफल बना रही है, इसके बावजूद इनके  लोगों के उत्थान के बारे में बिहार  सरकार नहीं सोच रही है !  आखिर कब सोचेगी ? अगर इनकी जायज मांगें पूरी नहीं की गयी, तो राजद कार्यकर्ता आशा बहनो के समर्थन में बिहार सरकार के खिलाफ उग्र आंदोलन के लिए बाध्य होंगे l
एक टिप्पणी भेजें