जीएसटी को सरल बनाने की दिशा में लगातार काम जारी : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 1 जनवरी 2019

जीएसटी को सरल बनाने की दिशा में लगातार काम जारी : मोदी

work-continues-to-simplify-gst-modi
नयी दिल्ली, 01 जनवरी, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कहा कि जुलाई 2017 में लागू किये गये वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) से चीजें आसान हुई हैं तथा सरकार इसे और सरल तथा उपभोक्ताओं के अनुकूल बनाने के लिए निरंतर काम कर रही है।  प्रधानमंत्री कार्यालय ने श्री मोदी के एक साक्षात्कार के कुछ अंशों को ट्वीट किया है। इसमें उन्होंने कहा कि जीएसटी सरल और उपभोक्ताओं के अनुकूल होना चाहिये। इस दिशा में लगातार काम चल रहा है। उन्होंने कहा “पहले कई तरह के छिपे हुये कर थे। करों की दरें भी ज्यादा थीं। जीएसटी ने चीजों को आसान बना दिया है। इससे कई वस्तुओं पर कर की दर कम हुई है।” प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार का तरीका लगातार लोगों की प्रतिक्रिया लेते रहने का है। जीएसटी पर भी इसी रवैये के साथ काम हो रहा है। जीएसटी काउंसिल में विभिन्न क्षेत्रों के सदस्य हैं। इसमें राज्य सरकारों के प्रतिनिधि भी शामिल हैं और कई राज्यों में गैर-भाजपा सरकार है। जो भी हो रहा है सर्वसम्मति से हो रहा है।  उन्होंने कहा कि सरकार लोगों की सभी समस्याओं को सुनने तथा उन्हें जीएसटी परिषद् के समक्ष रखने के लिए प्रतिबद्ध है। हमारे लिये लोगों की प्रतिक्रिया सबसे महत्वपूर्ण है। नोटबंदी पर श्री मोदी ने कहा कि इससे देश में ईमानदारी का माहौल बना है। उन्होंने कहा “जो बोरे भर-भर के नोटे पड़ी होती थीं वो नोटबंदी के कारण आज बैंकिंग व्यवस्था में आयी हैं। इससे देश में एक ईमानदारी का माहौल बना है।”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...