बिहार : सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन हादसा रेलवे के प्रति केंद्र सरकार की लापरवाही का नतीजा : माले - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 फ़रवरी 2019

बिहार : सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन हादसा रेलवे के प्रति केंद्र सरकार की लापरवाही का नतीजा : माले

मोदी शासन में रेलवे की स्थिति और भी खराब हुई, रेल मंत्री इस्तीफा दें.
government-responsible-for-bihar-train-accident-cpi-ml
पटना 3 फरवरी 2019, भाकपा-माले राज्य सचिव कुणाल ने कहा है कि हाजीपुर-बछवाड़ा रेलखंड के सहरेई-बुजुर्ग रेवले स्टेशन पर भीषण रेलवे दुर्घटना के लिए पूरी तरह केंद्र सरकार जिम्मेवार है और इसकी नैतिक जिम्मेवारी लेते हुए रेलवे मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए. कहा कि बड़ी-बड़ी डींगें हांकने वाली मोदी शासन में रेलवे की स्थिति और भी खराब हुई है. जिस रेल ट्रैक पर हादसा हुआ है वह वर्षों पुराना है, उसका रखरखाव ठीक नहीं था और लगभग आधा किलोमीटर रेलवे ट्रैक टूटा हुआ था जिसके कारण यह भीषण रेल दुर्घटना हुई. घटना की जानकारी मिलते ही माले के वैशाली जिला सचिव योगेन्द्र राय, किसान महासभा के प्रदेश अध्यक्ष विशेश्वर प्रसाद यादव, माले नेता मो. खलील ने मामले का जायजा लिया. माले नेताओं ने कहा है कि यह रेलवे हादसा ट्रैक टूटने की वजह से ही हुई है. सरकारी आंकड़ों में मृतकों की संख्या महज 7 बताई जा रही है लेकिन स्थानीय नागरिक मृतक व घायलों की संख्या कहीं अधिक बता रहे हैं. स्थानीय ग्रामीणों ने पीड़ितों को काफी मदद की अन्यथा मृतकों की संख्या कहीं और अधिक होती. जांच टीम ने रेल मंत्री के इस्तीफे के साथ - साथ मृतक परिजनों को 25 लाख व घायलों को तत्काल 10 लाख रु. मुआवजा देने की मांग की है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...