असम में जहरीली शराब पीने से 30 लोगों की मौत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 22 फ़रवरी 2019

असम में जहरीली शराब पीने से 30 लोगों की मौत

hooch-tragedy-claims-19-in-assam-tea-estate
गुवाहाटी 22 फरवरी, असम के गोलाघाट जिले के एक चाय बागान में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने के बाद सात महिलाओं सहित कम से कम 30 लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। जिले के एक अधिकारी ने बताया कि पचास से अधिक लोगों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। उन्होंने बताया कि मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। भाजपा विधायक मृणाल सैकिया ने बताया कि 100 से अधिक लोगों ने बृहस्पतिवार को शराब पी थी और शराब को एक ही विक्रेता से खरीदा गया था। ये लोग सालीमीरा चाय बागान में काम करते थे। पुलिस ने इस घटना के सिलसिले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है। असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने घटना की जांच के आदेश दिये हैं। घटना को लेकर जिले के दो आबकारी अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है।  पुलिस ने कहा कि बृहस्पतिवार रात को 12 लोगों को गोलाघाट सिविल अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया। बृहस्पतिवार रात को ही बाद में तीन अन्य लोगों की मौत हो गई और 15 लोगों की मौत शुक्रवार को हुई। अधिकारियों ने बताया कि 23 लोगों की मौत गोलाघाट सिविल अस्पताल में, जबकि सात लोगों की मौत जोरहाट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में हुई है। गोलाघाट सिविल अस्पताल में मरीजों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने कहा कि देशी जहरीली शराब पीने की वजह से ये मौतें हुईं और अस्पताल लाये गये ज्यादातर लोगों की हालत गंभीर थी। मौतों पर चिंता व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने अपर असम मंडल आयुक्त जूली सोनोवाल को मामले की जांच करने के निर्देश दिए और एक महीने के भीतर सरकार को इसकी रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है। सोनोवाल ने राज्य के ऊर्जा मंत्री तपन कुमार गोगोई, सांसद कामाख्या प्रसाद तासा और विधायक मृणाल सैकिया को घटनास्थल का दौरा करने को कहा है। असम के आबकारी मंत्री परिमल शुक्ल वैद्य ने विभाग के अधिकारियों की एक टीम को घटना की जांच करने का निर्देश दिया है। वहीं, कांग्रेस विधायक रूपज्योति कुर्मी ने आबकारी मंत्री के इस्तीफे की मांग की है और मुख्यमंत्री से मृतकों के परिजनों को उचित मुआवजा देने का अनुरोध किया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...