राजनाथ ने उच्च स्तरीय बैठक में स्थिति की समीक्षा की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 फ़रवरी 2019

राजनाथ ने उच्च स्तरीय बैठक में स्थिति की समीक्षा की

rajnath-reviewed-the-situation-in-high-level-meeting
नयी दिल्ली, 27 फरवरी ,भारतीय वायु सेना की पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद के घटनाक्रम से उत्पन्न तनाव की स्थिति के मद्देनजर गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज यहां एक उच्च स्तरीय बैठक में स्थिति की समीक्षा की।  बैठक में राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार,गृह सचिव ,खुफिया एजेन्सी रॉ, गुप्तचर ब्यूरो के प्रमुखों , केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल तथा केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के महानिदेशकों और गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने हिस्सा लिया।  सूत्रों के अनुसार बैठक में सभी नागरिक हवाई अड्डों की सुरक्षा की समीक्षा की गयी। सीआईएसएफ से सभी हवाई अड्डों पर सुरक्षा को चौकस करने को कहा गया है। खुफिया एजेन्सियों को जानकारी मिली है कि नागरिक हवाई अड्डों को निशाना बनाया जा सकता है। सीमा पर बढ़े तनाव के कारण सीमावर्ती इलाकों तथा पश्चिमोत्तर के अन्य राज्यों में कई हवाईअड्डों पर नागरिक विमानों का परिचालन बंद कर दिया गया है। कम से कम 11 हवाई अड्डों अमृतसर, श्रीनगर, चंडीगढ़, जम्मू, लेह, पठानकोट, देहरादून, अादमपुर, शिमला, धर्मशाला और कुल्लु में नागरिक विमानों की आवाजाही बंद कर दी गयी है। श्रीनगर हवाई अड्डे की सुरक्षा की जिम्मेदारी केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल को सौंपी गयी है और हवाई अड्डों पर अतिरिक्त बलों की तैनाती की जा रही है। बैठक में अर्द्धसैनिक बलों के महानिदेशकों को सीमा पर पूरी तैयारी और तैनाती के आदेश दिये गये हैं। केन्द्र सरकार ने सीमाओं से लगते राज्यों को लोगों को सीमावर्ती क्षेत्रों से सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए तैयार रहने को कहा गया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...