राजस्थान में किसानों को कर्जमाफी के प्रमाणपत्र इसी हफ्ते से - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 5 फ़रवरी 2019

राजस्थान में किसानों को कर्जमाफी के प्रमाणपत्र इसी हफ्ते से

rajasthan-loan-mercy-certificate
जयपुर, चार फरवरी, राज्य में सहकारी बैंकों के पात्र किसानों को उनके फसली कर्ज माफ होने के प्रमाण पत्र इसी सप्ताह, सात फरवरी से दिए जाएंगे। राज्य सरकार ने यह घोषणा ऐसे समय में की है जब भारतीय जनता पार्टी इस मुद्दे को लेकर आठ फरवरी से जेल भरो आंदोलन करने वाली थी। मुख्य सचिव डी. बी. गुप्ता ने रविवार को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सभी संभागीय आयुक्तों व जिला कलेक्टरों के साथ बैठक की और कर्ज माफी प्रमाण-पत्र वितरण शिविरों के संबंध में दिशा निर्देश दिए। सभी जिलों में ऋणमाफी प्रमाण-पत्र वितरण शिविर सात फरवरी से ग्राम सेवा सहकारी समितियों में होंगे। इनमें सहकारी बैंकों से जुड़े पात्र किसानों को ऋणमाफी प्रमाण पत्र दिए जाएंगे। मुख्य सचिव ने अधिकारियों से कहा कि प्राथमिकता देते हुये इन शिविरों का आयोजन सफल बनाया जाए।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने जन घोषणा पत्र को नीतिगत दस्तावेज बनाया है और उसमे पहला बिन्दु किसान कल्याण से संबंधित है। यह सरकार की पहली प्राथमिकता है। इसी बात को ध्यान में रखकर ऋणमाफी शिविरों की सफलता सुनिश्चित करें। सभी जिला कलक्टरों से यह सुनिश्चित करने को कहा गया है कि ऋणमाफी प्रक्रिया से जुड़ा कोई भी अधिकारी उनकी अनुमति के बिना मुख्यालय नहीं छोड़े। उल्लेखनीय है कि कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में किसानों का फसली कर्ज माफ करने की घोषणा की थी। इसके बाद अशोक गहलोत ने मुख्यमंत्री का पदभार ग्रहण करने के दो दिन में ही इसे लागू करने की घोषणा कर दी। इसके औपचारिकताएं तय करने के लिए बनाई गयी समिति ने अपनी रपट कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री को सौंपी थी। भाजपा किसान कर्जमाफी को लगातार मुद्दा बनाए हुए है।  विधानसभा के पहले सत्र में भी उसने इसे लेकर हंगामा किया। आठ फरवरी से वह जेल भरो आंदोलन शुरू करने वाली थी। इस बीच सरकार ने कर्जमाफी के प्रमाण पत्र बांटने के शिविर आयोजित करने की घोषणा की है। हालांकि सरकार की ओर से अभी अन्य बैंकों के कर्जदाता किसानों की कर्जमाफी की प्रक्रिया के बारे में कुछ नहीं कहा गया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...