विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 फ़रवरी 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 फ़रवरी

अमरचन्द शर्मा कांग्रेस शिक्षा एवं शिक्षक प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष मनोनीत

vidisha news
विदिषा-14 फरवरी 2019/मध्यप्रदेष कांग्रेस कमेटी षिक्षा एवं षिक्षक प्रकोष्ठ के प्रदेषाध्यक्ष रामनरेष त्रिपाठी ने मुख्यमंत्री तथा प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के निर्देष पर विदिषा जिले के पूर्व ब्लाॅक षिक्षा अधिकारी अमरचन्द शर्मा को संगठन का जिलाध्यक्ष मनोनीत किया है। स्मरणीय है कि श्री शर्मा पूर्व में जिला षिक्षक कांग्रेस के जिलाध्यक्ष तथा जिला षिक्षा विभागीय सहकारी समिति के भी अध्यक्ष रह चुके हैं। वे जिला कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता-महामंत्री जगदीष शर्मा के अनुज हैं। अमरचन्द शर्मा ने अपने मनोनयन पर मुख्यमंत्री कमलनाथ, प्रदेष कांग्रेस के संग्ठन प्रभारी उपाध्यक्ष चन्द्र प्रभाष शेखर, पूर्व सांसद रामेष्वर नीखरा तथा प्रकोष्ठ के प्रदेषाध्यक्ष रामनरेष त्रिपाठी का आभार व्यक्त किया है। उन्हें अनेक लोगों ने बधाई दी है। 

राज्य खाद्य आयोग की प्रणाली से अवगत हुए जनप्रतिनिधि

vidisha news
राज्य खाद्य आयोग के सदस्य सचिव श्री आरबी प्रजापति ने आज विदिशा जिले में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की गारंटी अधिनियम के तहत क्रियान्वित कार्यो की समीक्षा की। कलेक्टेªट के सभाकक्ष में आहूत उक्त बैठक में विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव, कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे के अलावा निकायों के अध्यक्ष तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।  सदस्य सचिव श्री प्रजापति ने आयोग के गठन, कार्य प्रणाली पर विस्तारपूर्वक प्रकाश डालते हुए जनप्रतिनिधियों को आयोग की मंशा से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा की गारंटी अधिनियम का मुख्य उद्वेश्य है कि देश का कोई भी व्यक्ति भूख का शिकार ना हो सकें।  सदस्य सचिव श्री प्रजापति ने बताया कि आयोग के द्वारा मुख्यतः चार स्तरों पर खाद्यान्न के वितरण कार्यो और लाभांवित होने वाले हितग्राहियों की समीक्षा की जाती है जिसमें सबसे पहले सार्वजनिक वितरण प्रणाली, मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम, आंगनबाडी के माध्यम से वितरित किए जाने वाले पोषण आहार और प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना इत्यादि शामिल है।  आयोग के सदस्य सचिव श्री प्रजापति ने जनप्रतिनिधियों के माध्यम से पूर्व उल्लेखित चारो कार्यक्रमों के क्रियान्वयन हेतु निर्धारित मापदण्डो के संबंध में संवाद स्थापित कर यथा स्थिति को जाना। जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती नुजहत बकई बानो ने सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत उचित मूल्य दुकानो के माध्यम से राशनकार्ड धारियों को प्रदाय की जाने वाली सामग्री के संबंध में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। ऐसे राशनकार्डधारी जिनकी  पात्रता पर्ची जनरेट हो जाती है उन सभी को प्रत्येक माह की एक से 15 तारीख के दरम्यिान खाद्यान्न प्रदाय किया जा रहा है वही ऐसे राशन कार्डधारी जिनकी पात्रता पर्ची जनरेट नही हो पाती है और उनके थंब का मिलान नही हो पा रहा है उन सभी को 16 तारीख के उपरांत आफ लाइन प्रक्रिया के तहत खाद्यान्न प्रदाय किया जा रहा है।  इस दौरान बतलाया गया कि कर्मकार मण्डल के तहत पंजीवत हितग्राहियों की हर साल पर्ची के लिए नवीनीकरण प्रक्रिया अपनाई जाती है किन्तु अनेक ऐसे हितग्राही है जिनकी नवीन पर्चिया उपलब्ध नही हो पा रही है ततसंबंध में श्रम पदाधिकारी द्वारा आवश्यक जानकारियां देकर शंकाओं का समाधान किया। मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत जिले के शासकीय और अनुदान प्राप्त शैक्षणिक संस्थाओं में अध्ययनरत विद्यार्थियों को प्रदाय किए जा रहे भोजन की जानकारी विस्तारपूर्वक दी गई। इस दौरान बताया गया कि प्राथमिक शाला में अध्ययनरत प्रत्येक विद्यार्थी के लिए चार रूपए 35 पैसे, माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत प्रत्येक विद्यार्थी के लिए छह रूपए 51 पैसे की नवीन दरों के आधार पर भोजन परोसा जा रहा है जारी नवीन दरो से विद्यार्थियों को दाल सब्जी, तेल, मसाला एवं अन्य चीजों की पूर्ति की जाती है जबकि गेहूं निःशुल्क मुहैया कराया जा रहा है। स्व-सहायता समूहो के माध्यम से प्रदाय किए जा रहे मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी से अवगत कराया गया है। इसी प्रकार आंगनबाडी केन्द्रों के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को दिए जाने वाले विशेष पोषण आहार टीएचआर तथा प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना के तहत किशोरी बालिकाओं के लिए दिए जाने वाले आहार के लिए जिले में क्रियान्वित व्यवस्था से विस्तारपूर्वक संबंधितों के द्वारा जानकारी दी गई। राज्य खाद्य आयोग के सदस्य सचिव श्री प्रजापति ने कहा है कि आयोग के गठन के उपरंात प्रत्येक जिलों में भ्रमण कर पूर्व उल्लेखित योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में जनप्रतिनिधियों के आवश्यक सुझावों से अवगत होकर उन्हें क्रियान्वयन में शामिल कराना है। इसी प्रकार जिलाधिकारियों के द्वारा किए जा रहे कार्यो की मानिटरिंग करना है। 

प्रकोष्ठो के नोडल अधिकारियों से चर्चा 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री केव्ही सिंह ने आज आगामी लोकसभा निर्वाचन के मददेनजर गठित प्रकोष्ठों के नोडल अधिकारियों द्वारा की जा रही तैयारियों के संबंध में चर्चा की।  कलेक्टर चेम्बर में आहूत उक्त बैठक में जिला पंचायत सीईओ डाॅ पंकज जैन, अपर कलेक्टर श्री एचपी वर्मा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल के अलावा समस्त प्रकोष्ठों के नोडल अधिकारी मौजूद थे।  कलेक्टर श्री सिंह ने लोकसभा निर्वाचन के लिए जिन बिन्दुआंे पर विशेष बल देते हुए कहा उनमें टेªनिंग, ईव्हीएम, व्हीव्हीपेड के प्रदर्शन और कार्यप्रणाली की जानकारी शत प्रतिशत हो। उन्होंने कहा कि सभी प्रकोष्ठों के नोडल अधिकारी चुनावी मोढ़ में आ जाएं।   कलेक्टर द्वारा जिन प्रकोष्ठों की गहन समीक्षा की गई उनमें स्वीप प्लान, एमसीएमसी, मतदान दल गठन, कम्यूनिकेशन प्लान, कानून व्यवस्था प्रकोष्ठ, निर्वाचन प्रशिक्षण प्रकोष्ठ, यातायात प्रकोष्ठ, क्रिटिबल एवं बल्नरेबिल मतदान केन्द्रों की मेपिंग, मतदान सामग्री प्राप्ति, वितरण, मत पत्र संबंधी कार्य, निर्वाचन व्यय, मतदाता सूची, रूटचार्ट, वीडियोग्राफी, शिकायत प्रकोष्ठ, मतगणना स्थल, स्ट्रांगरूम इत्यादि प्रकोष्ठ शामिल है। 


जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर लायरा में आज

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के मार्गदर्शन में आज 15 फरवरी को जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर लायरा मंे आयोजित किया गया है उक्त शिविर प्रातः 11 बजे से शुरू होगा।  कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह क द्वारा जारी लोक कल्याण शिविरों के आयोजन की तिथि अनुसार कुरवाई विकासखण्ड के ग्राम लायरा में 15 फरवरी शुक्रवार को ततसंबंधी शिविर का आयोजन किया गया है। जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर मंे समस्त जिलाधिकारियों को मौजूद रहने के निर्देश जारी किए है उन्होंने कहा है कि शिविर स्थल पर उपस्थित होेकर ग्रामीणजनों को विभागीय योजनाओं की विस्तृत जानकारी देते हुए उन योजनाओं से लाभांवित कराने का प्रयास करें इसके अलावा विभाग से संबंधित प्राप्त होने वाले आवेदनों का मौके पर कारगर निराकरण की पहल करें। कलेक्टर श्री सिंह ने स्वास्थ्य और पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिविर स्थल पर उपचार केम्प का भी आयोजन किया जाए। इसी प्रकार हितग्राहीमूलक योजनाओं पर आधारित विभागीय प्रदर्शन भी लगाए जाने एवं योजनाओं पर आधारित साहित्य का वितरण करने के निर्देश भी जिलाधिकारियों को दिए है।

भोपाल की विशिष्ट संस्थाआंे में प्रवेश हेतु परीक्षा 17 को 

अनुसूचित जाति जनजाति कार्य विभाग के माध्यम से संचालित भोपाल की विशिष्ट संस्थाओं में शैक्षणिक सत्र 2019-20 में कक्षा छटवीं एवं नवमीं में प्रवेश लेेने हेतु जिन अभ्यर्थियों के द्वारा आॅन लाइन आवेदन दाखिल किए गए है उनके लिए चयन परीक्षा 17 फरवरी को आयोजित की गई है।  जिला संयोजक श्री नरेन्द्र अवस्थी ने बताया कि विदिशा जिला मुख्यालय पर परीक्षा केन्द्र शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय बरईपुरा विदिशा में प्रातः 11 बजे से आयोजित की गई है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...