चुनाव आयोग के फैसले का स्वागत, सरकार का बदलना जरूरी: कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 11 मार्च 2019

चुनाव आयोग के फैसले का स्वागत, सरकार का बदलना जरूरी: कांग्रेस

congress-welcome-ec-dissision
नयी दिल्ली 10 मार्च,  कांग्रेस ने आम चुनाव की घोषणा का स्वागत करते हुए रविवार को कहा कि मोदी सरकार के पांच साल असफलताओं से भरे रहे हैं और लोकतंत्र पर खतरा मंडरा रहा है इसलिए देश की जनता 23 मई को इस सरकार को बदल देगी। कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल तथा राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चुनाव की तिथियां घोषित होने के बाद यहां संयुक्त सवाददाता सम्मेलन में कहा कि काठ की हांडी एक ही बार चढ़ती है, देश की जनता अब गुमराह होने वाली नहीं है और वह मोदी सरकार को हटाने का मन बना चुकी है। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग को चार मार्च को चुनाव की तारीखों का एेलान करने वाले थे लेकिन ऐसा लगता है कि इसमें भी मोदी सरकार का हस्तक्षेप रहा होगा इसलिए देर से चुनाव की तारीखों की घोषणा की गयी। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को लुभाने के लिए कई घोषनाएं की लेकिन वह भूल गये कि काठ की हांडी दोबारा चढ़ने वाली नहीं है।  कांग्रेस नेताओं ने आरोप लगाया कि पिछले पांच साल में इस सरकार ने कोई वादा पूरा नहीं किया है। सत्ता में आने से पहले 80 लाख करोड़ रुये काला धन वापस लाने, दो करोड़ युवाओं को नौकरी देने, 15 लाख रुपये हर व्यक्ति के खाते में डालने, किसानी की आय बढाने अौर महिलाओं की सुरक्षा का वादा किया था कि लेकिन कोई वादा पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि श्री मोदी अब इन मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए झूठ बोल रहे हैं, सेना के शौर्य और बलिदान का राजनीतिक लाभ उठाने का प्रयास कर रहे हैं और विपक्ष पर सुरक्षा बलों के शौर्य का सबूत मांगने का आरोप लगा रहे हैं।

इससे पहले कांग्रेस ने ट्विटर पर अपने एक पोस्ट में कहा,
--बिगुल बजा है,
--अब जनता की बारी है,
--झूठ से लड़ने की,
--पुरजोर तैयारी है।,
--झूठों के इस शासन को हम देंगे मात,
--कमर कसी है हमने, अबकी जीत हमारी है।”--
गौरतलब है कि मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार शाम को सत्रहवीं लोकसभा के लिए मतदान कार्यक्रम की घोषणा की। मतदान 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरणों में और मतगणना 23 मई को होगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...