हर भारतीय को अभिनंदन पर गर्व है : पीएम मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 मार्च 2019

हर भारतीय को अभिनंदन पर गर्व है : पीएम मोदी

indian-proud-to-abhinandan-modi
कन्याकुमारी (तमिलनाडु), एक मार्च, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान की तारीफ करते हुए कहा कि हर भारतीय को उन पर गर्व है। मोदी ने सशस्त्र बलों पर संदेह करने के लिए अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों पर भी निशाना साधा और कहा कि इससे पाकिस्तान को मदद मिली है। मोदी ने 26 नवंबर 2008 को मुंबई में हुए हमलों के बाद सर्जिकल स्ट्राइक को कथित तौर पर ‘‘बाधित’’ करने को लेकर कांग्रेस की अगुवाई वाली पिछली यूपीए सरकार पर निशाना साधा। यहां कई सरकारी परियोजनाओं का उद्घाटन करने के बाद मोदी ने कहा, ‘‘मुझे गर्व है कि भारत की पहली महिला रक्षा मंत्री निर्मला जी तमिलनाडु से हैं। हर भारतीय को गर्व है कि बहादुर विंग कमांडर अभिनंदन भी तमिलनाडु से हैं।’’  मोदी ने कहा कि पिछले दो दिन की घटनाओं ने एक बार फिर देश के सशस्त्र बलों की ताकत को प्रदर्शित किया है।  संभवत: वह भारतीय वायुसेना की ओर से किए गए हवाई हमलों को अंजाम देने और वायुसेना द्वारा एक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान को मार गिराने की तरफ इशारा कर रहे थे। लोगों द्वारा अभिनंदन और सशस्त्र बलों को मिल रहे अपार जनसमर्थन की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने कहा, ‘‘इससे हमारा देश भी काफी करीब आया है।’’  बहरहाल, उन्होंने कहा कि यह दुख की बात है कि कुछ राजनीतिक पार्टियां आतंकवाद के खिलाफ हमारी लड़ाई पर संदेह कर रही हैं।  उन्होंने कहा कि पूरा देश जब देश के सशस्त्र बलों का समर्थन कर रहा है, वे ‘‘सशस्त्र बलों पर संदेह कर रहे हैं।’’ 

मोदी ने कहा, ‘‘यह वही लोग हैं जिनके बयान पाकिस्तान की मदद कर रहे हैं और भारत को नुकसान पहुंचा रहे हैं। वे वही लोग हैं जिनके बयानों का हवाला पाकिस्तान की संसद और पाकिस्तान के रेडियो में दिया जा रहा है।’’  उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें स्पष्ट करना चाहिए कि वे हमारे सशस्त्र बलों में यकीन करते हैं या हमारी सरजमीं पर आतंकवाद का समर्थन करने वाली ताकतों पर यकीन करते हैं?’’  मोदी ने कहा, ‘‘मैं उनसे कहना चाहता हूं - मोदी तो आएगा-जाएगा, लेकिन भारत रहेगा। अपनी राजनीति को मजबूत करने के लिए कृपया भारत को कमजोर करना बंद करें।’’  उन्होंने कहा, ‘‘हम पहले भारतीय हैं और आपकी राजनीति इंतजार कर सकती है...हमारे देश की सुरक्षा दांव पर है।’’  प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि पूरी दुनिया आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में भारत का समर्थन कर रही है।  पलटवार के जरिए आतंकवाद के खिलाफ अपनी सरकार की प्रतिज्ञा दोहराते हुए उन्होंने ऐसे आक्रामक कदम नहीं उठाने पर पिछली यूपीए सरकार को कोसा।  मोदी ने कहा, ‘‘देश उम्मीद कर रहा था कि आतंक के इन कृत्यों के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा मिलेगी, लेकिन कुछ नहीं किया गया। 26/11 (मुंबई आतंकी हमले) भारत में हुआ, लेकिन कुछ नहीं हुआ।’’ 

खबरों का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि 26/11 हमलों के बाद भारतीय वायुसेना सर्जिकल स्ट्राइक करना चाहती थी, लेकिन ‘‘यूपीए ने इसमें अड़ंगा लगाया।’’  उन्होंने कहा, ‘‘आज हम ऐसे युग में हैं जहां खबरें आती हैं कि सशस्त्र बलों को उनकी मर्जी के मुताबिक कोई भी कदम उठाने की पूरी आजादी है। आतंकवादियों और आतंकवाद के प्रभाव में कटौती हो चुकी है और इसमें अभी और कमी आएगी।’’  प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘यह नया भारत है, यह वह भारत है जो आतंकवादियों की ओर से किया गया नुकसान उन्हें सूद के साथ लौटाएगा।’’  उन्होंने 2004 और 2014 के बीच यूपीए शासनकाल के दौरान हैदराबाद, दिल्ली, मुंबई, बेंगलूर और पुणे में हुए बम धमाकों पर अफसोस जताया।  मोदी ने कहा कि देश कई सालों से आतंकवाद से जूझ रहा है, लेकिन अब बहुत बड़ा फर्क आ चुका है....भारत आतंक के खिलाफ लड़ाई में असहाय नहीं रहेगा। उन्होंने कहा, ‘‘लेकिन जब उरी (हमला) हुआ, तो आपने देखा कि सैनिकों ने क्या किया (सर्जिकल स्ट्राइक), आपने देखा कि वायुसेना के जांबाजों ने क्या किया (बालाकोट हवाई हमला)। मैं उन सभी को सलाम करना चाहता हूं जो अपने देश की सेवा कर रहे हैं। उनकी चौकसी के कारण देश सुरक्षित है।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...