झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 14 मार्च 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 14 मार्च

 ग्राम रोटला मे श्रीमद भागवत ज्ञान कथा अंतिम दिन  
पदमश्री महेश शर्मा व विधायक जीएस डामोर भी पहुचे कथा का रसपान करने
jhabua news
पारा -- विगत सात दिनो झाबुआ जिले के अंचल मे ग्राम रोटला मे चल रही संगीतमयी श्रीमद भागवत ज्ञान कथा मे आज अंतिम दिन 1008 महामंडलेश्वर स्वामी प्रणवांनदजी सरस्वती ने कथा के दोरान विभिन्न दृष्टांत सुनाते हुए कहा कि भागवान श्रीकृष्ण ने गीरीराज पर्वत को अपनी अगुली पर उठाकर दुनिया को यह संदेश किया की धरती पर प्रकृती का संरक्षण जरुरी हे। झाबुआ मे सभी मिलजुल कर भगवान के संदेश का पालन कर रहे हे। जल जंगल जमीन को बचाने मे लगे हे। भगवान सबको दान करने कि प्रेरणा देते हे। जितना दान दोगे उसका सेकडो गुणा वापस मिलेेगा।  आज धर्म युद्व की परिभाषा बदल गई हे । प्राचिन काल मे युद्व होता था तो सुबह से लेकर संध्या तक रात्री मे सभी लोग एक दुसरे की सेवा करते थे दर्द बांटते  थै। लडाई केवल दिन दिन मे ही रहती थी। स्वामी जी कहा कि आदमी को भागवान को हमेशा याद करना चाहीए । पर आदमी यह तब करता हे जब उसका खुद की सार्मथ्य से भरोसा उठजाता है। इसलीए हमेशा भगवान को याद करोगे तो भागवान भी आपकी मदद करेगा। इसी बिच कृष्ण रुकमणी का विवाह भी धुम धाम से करवाया व उपस्थित श्रद्धालुओ से कहा कि अगले वर्ष जब कथा करेगे तो जिस जिस घर मे विवाह होना हे वो विवाह तय करले तो कथा मे ही श्रीकृष्ण रुकमणी के विवाह के साथ साथ सब का सामुहीक विवाह समपन्न भी करवाएगे जिससे सब का खर्च भी बचेगा। इस अवसर पर स्वामी जी ने पदमश्री महेश जी शर्मा व विधायक जीएस डामोर का पुष्पमाला पहना कर स्वागत किया व जनता ने पदमश्री श्री शर्मा जी को शाल श्रीफल भेट किया। पदमश्री भी पहुचे कथा मे-- गत दिवस राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के करकमलो से प्रदमश्री  सम्मान प्राप्त कर दिल्ली से सिघे कथा मे पहुचे शिव गंगा के महेश जी शर्मा का कथा स्थल पर स्वामी जी ने आत्मीय स्वागत किया। व कहा कि मेरे मन मे अंचल की इस कथा को सुनने कि बडी लालसा थी । आज अंतिम दिन पुर्णाहुति मे पहुच कर मे अपने आपको धन्य महसुस कर रहा हु। शर्मा जी ने अपने पदमश्री मिलने के बारे मे विस्तार से बताया व कहा कि यह पदमश्री समपुर्ण झाबुआ जिले वासीयो का हे। यह सम्मान मुझे देश विदेश मे जो आदिवासी भाईयो कि जो गलत तसवीर बनी थी उस इमेज को सुधार ने के लिए मिला हे। आदिवासीयो के बिच सोश्यल सेवाकार्य करने के लिए मिला हे। इस परिणाम आगामी वर्षो मे देखने को मिलेगा। विधायक डामोर भी पहुचे कथा मे-- झाबुआ के विधायक गुमानसिह डामोर भी आज अंतिम दिन श्रीमद भागवत ज्ञान कथा का रस पान करने के लिए अपने साथी कार्यकर्ताओ के साथ कथा स्थल पहुचे व स्वामी जी का पुष्पमाला से स्वागत दर्शन किया। कथा समाप्ती तक करिब 3 घण्टे से भी अधिक समय रुके व कथा समाप्ती पर हवन की पुर्ण आहुती मे भाग लिया व श्रीमद भागवत पुराण की आरती भी की।  कथा के समापन पर आरती व महा प्रसादी का वितरण किया गया। इस अवसर पर धर्म रक्षक के प्रमुख वालसिह मसानिया व उनके सहयोगी सदस्य सहीत बडी संख्या मे श्रद्धालु महिला पुरुष उपस्थित थे। प्रति दिन की तरह कथा समाप्ती के पश्चात आज महा भण्डारे का आयोजन भी किया गया था जिसमे उपस्थित हजारो श्रद्धालुओ ने भोजन प्रसादी गृहण की। स्वामी जी ने भागवत कथा श्रृवण करने आए प्रत्येक स्त्री पुरुष व बच्चे के गले मे रुद्राक्ष की कंठी माला स्वयं पहनाई व सभी को आर्शीवाद दिया। 

गणगौर पर्व व्यापक रूप से मनाने हेतु शहर की महिलाओं एवं संगठनों की वृहद बैठक 23 मार्च को, संक्षिप्त बैठक में बनाई गई रूपरेखा एवं समिति सदस्यों ने रखे अपने-अपने विचार

jhabua news
झाबुआ। झाबुआ राज परिवार के जमाने से चली आ रहीं गणगौर पर्व मनाने की परंपरा के तहत इस वर्ष भी यह पर्व धूमधाम के साथ राजमहल में मनाया जाएगा। जिसकी अंतिम रूपरेखा बनाए जाने एवं कार्यक्रम निर्धारित करने हेतु विभिन्न समाजों की महिलाओं के अलावा अनेक महिलाओं संगठनों की वृहद बैठक 23 मार्च को शाम 5 बजे से स्थानीय पैलेस गार्डन पर रखी गई है। यह जानकारी देते हुए गणगौर उत्सव समिति के संयोजक नानालाल कोठारी एवं अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर ने बताया कि वर्षों से राजमहल में गणगौर पर्व मनाया जा रहा है। इस परंपरा को बड़ा रूप देते हुए इस बार शहर की करीब सभी समाज की महिलाओं के साथ शहर में सक्रिय महिला संगठनों को भी आमंत्रित किया जा रहा है। 6 दिवसीय आयोजन हेतु 23 मार्च को शाम 5 बजे से महिलाओं की बड़ी बैठक का आयोजन पैलेस गार्डन पर किया गया है। जिसमें कार्यक्रम संबंधी पूरी रूपरेखा बनाई जाएगी एवं कार्य योजना को अंतिम रूप प्रदान किया जाएगा।

शहर की महिलाओं का सबसे बड़ा आयोजन
आयोजन संबंधी पैलेस गार्डन पर गत दिनों संपन्न संक्षिप्त बैठक में गणगौर महोत्सव समिति के वरिष्ठ सदस्य अषोक शर्मा एवं राजेष नागर ने बताया कि इस उत्सव के माध्यम से शहर की मातृ शक्तियों को को एकत्रित कर इसे शहर का सबसे बड़ा आयोजन बनाने के प्रयास किए जाएंगे। 6 दिवसीय आयोजन के दौरान जो भी प्रस्तुतियां होगी, वह सभी महिलाओं द्वारा ही होगी।

समिति सदस्यों ने रखे अपने-अपने विचार
श्री शर्मा एवं श्री नागर ने आगे बताया कि अभी तक गणगौर उत्सव माहेष्वरी समाज, राजपूत समाज, अरोरा समाज, सोनी समाज, पाटीदार समाज, भावसार समाज, ब्रजवासी समाज, रजत समाज की महिलाएं गणगौर हिस्सा लेती आई है, अभी सभी समाज की महिलाएं भी इसमें सहभागिता करे, ऐसे प्रयास किए जा रहे है। बैठक में गणगौर उत्सव समिति के अन्य सदस्यों ने भी अपने-अपने विचार रखे।

समिति अध्यक्ष को सौंपी जिम्मेदारी
बैठक में श्रीमती कुंता सोनी, सुषीला भट्ट, किरण माहेष्वरी, रेखा माहेष्वरी, देवकन्या सोनगरा, सुषीला दोहरे, पवित्रा भावसार, सुश्री रूक्मणी वर्मा, विमला सोनी, राजकुमारी सोनी, मोनिका सोनी आदि उपस्थित थी। इस दौरान वृहद बैठक की संपूर्ण जिम्मेदारी आयोजक समिति के अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर को सौंपी गई। बैठक में अंत में सभी के प्रति आभार समिति संयोजक नानालाल कोठारी ने माना।

अखिल भारतीय ब्राम्हण महासभा द्वारा जिले की 6 उत्कृष्ट कार्य करने वाली सेवानिवृत्त षिक्षिकाओं का किया गया सम्मान
  • फाग उत्सव मनाकर एक-दूसरे को गुलाल लगाकर पुष्प वर्ष की

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय ब्राम्हण महासभा की महिला इकाई द्वारा 12 मार्च, मंगलवार शाम 5 बजे से स्थानीय काॅलेज मार्ग स्थित प्राचीन जगदीष मंदिर पर महिला सम्मान समारोह रखा गया। जिसमें जिले की 6 उत्कृष्ट कार्य करने वाली सेवानिवृत्त षिक्षिकाओं का भावभरा सम्मान बाद सभी महिलाओं ने मिलकर फाग उत्सव मनाया। जिसमें सभी ने एक-दूसरे को गुलाल लगाया एवं पुष्प वर्षा कर आगामी धुलेंडी पर्व की शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर अतिथि के रूप में अभा ब्राम्हण महासभा की संभागीय अध्यक्ष श्रीमती वीणा भार्गव उपस्थित थी। सभी षिक्षिकाओं का परिचय एवं उनके कार्यों का उल्लेख जिलाध्यक्ष श्रीमती सुषमा दुबे ने दिया। बाद 6 महिलाओं में श्रीमती पुष्पा त्रिवेदी, सूर्यकांता पंड्या रानापुर, प्रेमलता भट्ट मेघनगर, मुन्नीबाई शर्मा, कांता पाठक एवं श्रीमती सुषीला भट्ट झाबुआ का भावभरा सम्मान महिला इकाई की पदाधिकारियों ने पुष्पामाला पहनाकर एवं शाल ओढ़ाकर तथा श्रीफल भेंट कर किया।

एक-दूसरे को गुलाल लगाकर की पुष्प वर्षा
बाद सभी महिलाओं ने सामूहिक रूप में फाग उत्सव की खुषियां मनाई। इस अवसर पर एक-दूसरे को गुलाल लगाया, पुष्प वर्षा की एवं धुलेंडी पर्व की शुभकानाएं प्रेषित कर फाग के गीत भी गाए गए। इस अवसर पर श्रीमती विजय लक्ष्मी शुक्ला, रीना शर्मा, अंजु शर्मा, संगीता त्रिवेदी, मंजुला देराश्री, स्मृति (मोना) भट्ट, सीमा पंड्या, किर्ती देवल, शैफाली, स्नेहलता पुरोहित, विजिया देवल, मधु व्यास, संगीता शर्मा, रत्ना, प्रेमलता उपाध्याय, लीला पंड्या, कृष्णा त्रिवेदी, श्रीमती जोषी, लता पांडे, सपना भट्ट, चेतना त्रिवेदी, सीमा त्रिवेदी आदि उपस्थित थी। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती प्रीता गौड़ ने किया एवं आभार अभा ब्राम्हण महासभा की झाबुआ तहसील अध्यक्ष श्रीमती रेखा अष्विन शर्मा ने माना।

गोपाल मंदिर झाबुआ की एंड्राइड ऐप लांच, अब मोबाइल पर भी होंगे ऑनलाइन दर्शन

झाबुआ। गोपाल मंदिर से जुड़े भक्त अब मोबाइल पर भी ऑनलाइन दर्शन कर सकते हैं, या गोपाल मंदिर भक्त मंडल द्वारा आयोजित विभिन्न आयोजनों को लाइव देख सकते हैं। गोपाल मंदिर प्रांगण में भव्य रूप में होने वाले वार्षिक उत्सव महोत्सव से लोगों की आस्था को जोड़े रखने के लिए मंदिर कार्यसमिति ने यह ऐप लांच किया है। ऐप पर एक क्लिक से लाइव दर्शन के साथ ही यहां उपलब्ध सुविधा से जुड़ी प्रत्येक जानकारी तत्काल मिल जाएगी। ऐप का नाम ‘गोपाल मंदिर झाबुआ’ है। ऐप को हाई तकनीक पर आधारित 7 केमरो से जोड़ा गया है। जिसकी मदद से ऐप लाइव प्रसारण करेगा। ऐप में यह सुविधा 11 मार्च से शुरू कर दी गई है। इसके बाद कोई भी ऐप डाउनलोड कर इस सुविधा का लाभ उठा सकता है।  गोपाल मंदिर ऐप में वार्षिक उत्सव आयोजन के समय आने वाले हज़ारो भक्तो की सुविधा व सुरक्षा से जुड़ी हर जानकारी मौजूद है। जिसे कोई भी भक्त ऐप के माध्यम से एक क्लिक में देख सकता हैं। ऐप पर मंदिर की प्रातः कालीन आरती, एवं प्रति दिन रात्रि में किये जाने वाले भजनो को लाइव टेलिकास्ट होगा। साथ ही ऐप में मंदिर द्वारा वर्ष भर होने वाले विभिन्न आयोजनो  की जानकारी के साथ ही मंदिर प्रांगण में प्रति दिन किये जाने वाले भजन, आरती, सत्संग आदि को लाइव सुनने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकता है, साथ ही गोपाल मंदिर द्वारा प्रकाशित विभिन्न पुस्तकों को ऑनलाइन पड़ने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकता है। ऐप में प्रतिदिन गोपाल मंदिर फोटो एवं वीडियो अपलोड किया जाने से भक्तो द्वारा इन्हे लाइव देखा एवं डाउनलोड किया जा सकता है।  वार्षिक उत्सव सहित विभिन्न आयोजनों का  शिड्यूल, ठहरने की व्यवस्था, धर्मशाला, ट्रैफिक, पार्किंग, बस द्वारा मंदिर की दूरी व लोकेशन, थाना व सुरक्षा का प्वाइंट, मेडिकल, जीपीएस सुविधा से रास्ते की जानकारी हासिल कर सकते हैं। ऐप में तमाम जगहों से गोपाल मंदिर की दूरी व लोकेशन अपलोड की गई है जहाँ से भक्तो का बड़ी संख्या में मंदिर में आवागमन रहता है।  मंदिर कार्य समिति द्वारा दर्शन-पूजन से लेकर दर्शनार्थियों को मिलने वाली तमाम सुविधाओं को डिजिटलाइज्‍ड कर दिया गया है। वत्र्तमान में मंदिर की वेबसाइट www.gopalmandirjhabua.blogspot.com पर ही लाइव दर्शन का टेलिकास्ट किया जा रहा था परन्तु अब ऐप लांच होने के बाद एंड्राइड मोबाइल पर भी लाइव दर्शन एवं अन्य सुविधाओं का लाभ लिया जा सकेगा। लम्बे समय से भक्तो द्वारा मोबाइल ऐप लांच करने की मांग की जा रही थी जिसके चलते मंदिर कार्य समिति द्वारा उक्त ऐप को लांच किया है।

फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सप्प पर मिलेगी हर ताजा अपडेट
 इसके अलावा फेसबुक और ट्विटर पर भी गुरु भक्तो के लिए मंदिर प्रांगण में होने वाले सभी आयोजनों की जानकारी उपलब्‍ध है, साथ ही मंदिर कार्य समिति द्वारा भक्तो को प्रतिदिन की अपडेट एवं फोटो, वीडियो, इवेंट्स सहित सभी जानकारी प्रदान करने की लिए व्हाट्सप्प ग्रुप भी शुरू किया गया है जिससे भक्तो को प्रतिदिन गोपाल मंदिर की अपडेट मिलती रहेगी। ऐप के माध्यम से भक्त सीधे इस व्हाट्सप्प ग्रुप से जुड़ सकते है ।  भक्त मंडल के विशाल भट्ट ने बताया की ऐप तैयार करवाने का एक मात्र उद्देश्य देश विदेश में निवासरत गुरु भक्तो को मंदिर से जुडी हर जानकारी देने के साथ ही विभिन्न आयोजनों एवं वार्षिक उत्सव पर श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधा दी जा सके। ऐप के शुरू होने के साथ ही गोपाल मंदिर प्रदेश का पहला मंदिर होगा जहाँ मोबाइल ऐप के माध्यम से ऑनलाइन दर्शन की सुविधा शुरू की गई है। ऐप को तैयार करने में एक माह का समय लगा है।

एप्प के माध्यम से ये मिलेगी सुविधाएं : लाइव दर्शन एवं विभिन्न सुविधाओं को ऑनलाइन देखा जा सकेगा।
ट्रैफिक की स्थिति व सुरक्षा प्वाइंट तत्काल जान सकेंगे लोग। लाइव भजन आरती सतसंग देखने के साथ ही ऑडियो एवं वीडियो फॉर्मेट में डाउनलोड किये जा सकेंगे। गोपाल मंदिर द्वारा प्रकाशित विभिन्न पुस्तकों को ऑनलाइन पढ़ने के साथ ही डाउनलोड किया जा सकेगा। 

प्ले स्टोर से करें ऐप डाउनलोड:
गोपाल मंदिर की इस ऐप के माध्यम से आप गोपाल मंदिर झाबुआ के लाइव दर्शन करना चाहते हैं या फिर वहां की जानकारी या सुविधा हासिल करना चाहते हैं तो आप अपने स्मार्टफोन के गूगल प्ले स्टोर पर जाएं। वहां जाने के बाद आप हिंदी या अंग्रेजी में गोपाल मंदिर झाबुआ लिखकर सर्च करें। सर्च करने पर सबसे ऊपर गोपाल मंदिर की यह ऐप दिखाई देगी यहाँ से आप इससे अपने एंड्राइड मोबाइल में इंस्टाॅल कर लें। इसके बाद आप अपनी सुविधा के अनुसार मोबाइल से घर बैठे लाइव दर्शन एवं अन्य सुविधाओं का लाभ ले  सकते हैं।

मंदरिया में उडेरे गुलाल.... के साथ महिला योग समिति द्वारा फागोत्सव मनाया गया

झाबुआ । पतंजलि महिला योग समिति झाबुआ की महिलाओं द्वारा बुावार प्रातः 7 बजे से 8 बजे तक श्री जैन नसीया में फागोत्सव का आयोजन किया गया । इस अवसर पर समिति की महिलाओं ने ’’ मंदरिया मे उडे रे गुलाल, उडे रे रंग केसरियों ’’ बिरज मे होली खेले नंदलाल ’ आदि जैसे फाग गीतों की प्रस्तुति दी तथा इस अवसर पर महिलाओं द्वारा एक दूसरें को गुलाल, रंग, अबीर आदि लगा कर होली के पूर्व फागोत्सव पर्व मनाया । संस्था की प्रमुख सुश्री रूकमणी वर्मा  ने जानकारी देते हुए बताया कि पतजलि योग समिति की महिलाओं द्वारा प्रतिवर्ष विभिन्न पर्वो का आयोजन करके आपसी सदभाव एवं प्रेम की मिसाल बनाई जाती है। वही परम्परागत रूप से इस बार सूखे रंगों से होली खेलने का सन्देश भी दिया गया । इसी कडी मे पतंजलि महिला योग समिति द्वारा फागोत्सव का आयोजन किया गया । इस अवसर पर श्रीमती मधु जोशी, ज्योति जोशी, शिवकुमारी सोनी, भावना जैन, जरीना अंसारी, कृष्णा शेखावत, अनिता जैन, सोनल कटकानी, शर्मीला कोठारी, माया पंवार, राधे पटेल आदि ने इस आयोजन में भाग लिया तथा एक दुसरें को रंग गुलाल लगाया । इस अवसर पर महिलाओं द्वारा योगाभ्यास एवं प्रणायाम आदि भी किये गये ।

राजपूत महिला क्लब ने मनाया फागोत्सव, महिलाओं का किया गया सम्मान

jhabua news
झाबुआ । राजपुत महिला क्लब द्वारा फाग उत्सव धुमधाम से मनाया गया । फागोत्सव में समाज की महिलाओं द्वारा सूखे रंग से होली मनाने के साथ ही पानी बचाओं का सन्देश दिया गया । रंगा रंग भजनो मे आज  बिरज मे होली रे रसीया अपने अपने घर से निकले कोई श्यामल तो कोई गोरी रे रसीया  की प्रस्तुतियां समाज की महिलाओ ं द्वारा दी गई । क्लब की अध्यक्षा सुश्री रूकमणी वर्मा ने बताया कि अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिलाओं का सम्मान भी किया गया ।क्लब की सदस्याओं में श्रीमती लता चैहान, शोभा राठौर,साधना चैहान, कमला सोलंकी,  सुमित्रा चैहान, अनिता चैहाना, भारती राठौर, माधुरी तोमर, अनिला वैश, अनिता पंवार साधना सोलंकी, सुशीला गेहलोद, ज्योत्सना चैहान, सीमा गेहलोद, कृतिका आदि उपस्थित थी ।

आशा त्रिवेदी अभा ब्राम्हण महासभा की इंदौर महिला इकाई की संभागीय प्रभारी मनोनीत

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय ब्राम्हण महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष यूपी रत्न पं. राजेन्द्रनाथ त्रिपाठी के मार्गदर्षन, प्रदेष अध्यक्ष पूर्व डीएसपी पं. केडी सोनकिया के निर्देषन पर तथा प्रदेष प्रभारी पं. भूपेन्द्र बालोठिया की सहमति और प्रदेष महामंत्री अरूण दीक्षित तथा परषुराम सेना प्रदेष अध्यक्ष पं. सतानंद शर्मा की अनुसंषा पर महिला प्रदेष अध्यक्ष श्रीमती ममता दीक्षित ने झाबुआ की गोपाल काॅलोनी निवासी श्रीमती आषा त्रिवेदी को अभा ब्राम्हण महास्भा की इंदौर महिला इकाई का संभागीय प्रभारी नियुक्ति किया है। श्रीमती आषा त्रिवेदी वर्तमान में ग्रामीण बैंक में सह-प्रबंधक के पद पर कार्यरत है। उन्हें महिला इकाई की प्रदेष संयोजिका श्रीमती पूर्णिमा व्यास, इंदौर संभागीय अध्यक्ष वीणा भार्गव सहित झाबुआ जिले एवं तहसील स्तर की समस्त महिला पदाधिकारियों ने शुभकामनाएं प्रेषित की है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...